HBN News Hindi

RBI के इन नोटों की कीमत जानकर रह जाओगे दंग, इन कारणों से बढ़ी डिमांड

RBI Update: पुराने सिक्कों और गलत प्रिंट के नोटों की म्यूजियम में भारी कीमत लग रही है।  इसके अलावा एक और जगह हैं जहां इन नोटों की कीमत लाखों (notes worth lakhs) को भी पार कर रही है । आपको बता दें कि एक नोट की कीमत लगभग 5000 रुपये है । आइए जानते हैं इन नोटों के बारें में डिटेल से खबर में ।
 
 | 
RBI की इन नोटों की कीमत जानकर रह जाओगे दंग, इन कारणो से बढ़ी डिमांड

HBN News Hindi (ब्यूरों) : अगर आप भी पूराने चीजों को एकत्रित (collecting old things) करने के शौकिन हैं तो आपको बता दें आज के समय आरबीआई द्वारा छपे इन गलत नोटों की कीमत लाखों में हैं। जिसे म्यूजियम में शो-पिस के लिए जमा किया जा रहा है । अगर आपके पास भी ऐसे ही पूराने नोट हैं तो आपको बता दें आप भी इन नोटों को बेचकर आसानी से मोटा पैसा (pretty penny) कमा सकते हैं । आइए जानते हैं इन नोटों के बारे में विस्तार से खबर में ।
 

 

Chanakya Niti : ऐसे लड़के को देखकर कंट्रोल खो बैठती है शादीशुदा महिला, तड़प उठती है इस काम के लिए

 
इन जगहो पर इक्कठा किए जाएंगे ये नोट


जमशेदपुर के तुलसी भवन में चल रही सिक्का प्रदर्शनी में सिक्कों (coins in exhibition) के बहाने लोग जहां इतिहास समझने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं पुराने सिक्के का कारोबार भी खूब हो रहा है। पुराने सिक्के लाखों में तो गलत प्रिंट वाले नोट हजारों रुपये में बिक रहे हैं। लोग उसे खरीदने को उतावले भी नजर आ रहे हैं। इसको लेकर प्रदर्शनी के हर स्टॉल पर खरीदार (Buyers at every stall of the exhibition) मोलभाव करते नजर आ रहे हैं।

 

ऐसे करे  नोटों की पहचान


सिक्कों की प्रदर्शनी में स्टॉल (Stall in coin exhibition) लगाने वाले हरिशंकर दुबे कहते हैं कि उनका मूलपेशा ही सिक्कों का संग्रह करना है और इसी से उनका रोजगार भी चलता है। उनके पास सौ रुपये का गलत प्रिंट वाला एक नोट है, जिसकी कीमत उन्होंने 5 हजार रुपये रखी है। छापाखाने में नोट की कटिंग भी गलत हो गई है, जिस पर एक तरफ नंबर भी गायब है, पर उसे खरीदने वाले खूब मोलभाव कर रहे हैं।
 

इन कारणो से बढी डिमांड


इसी तरह कोलकाता के रविशंकर शर्मा (Ravi Shankar Sharma) के पास मुगल शासकों के कार्यकाल के सिक्के हैं। उनके पास सबसे अधिक आकर्षक नूरजहां के नाम से सिक्के हैं। इसकी कीमत डेढ़ लाख रुपये तक है। शर्मा कहते हैं कि दुर्लभ मिंट का होने पर उसकी कीमत बढ़ जाती है।

 

Aaj Ka Rashifal, 15 अप्रैल : आज इन राशि वालों की होगी मौज और इन पर बढ़ सकता है खर्चों का बोझ

 

यहां बनवाए  जाते हैं ये सिक्के


मुगलकाल के अधिकतर सिक्कों की कीमत (Price of most of the coins of Mughal period) 15 हजार रुपये से शुरू होती है। इसके अलावा यदि कोई अन्य मार्क हो तो वह विदेश में बना है।साल 1985 से 2000 तक जब देश में सिक्कों की कमी थी तो 5 रुपये के सिक्के विदेश में बनवाए गए थे। 5 रुपये के जिन सिक्कों पर एच छपा है, वे लंदन के हिटेन टकसाल में बने थे।

सिक्के वापस लेने की प्रक्रिया


 
जिन सिक्कों पर सी लिखा है, वे कनाडा में बने हैं। शर्मा के अनुसार, जो सिक्के कम मात्रा में बने हैं, वे उतने ही बहुमूल्य हैं। 1996 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्म शताब्दी  (Birth centenary of Subhash Chandra Bose)वर्ष पर 2 रुपये के सिक्के जारी किए गए थे। तब सरकार को मालूम चला कि 100 वर्ष 1997 में पूरा हो रहा है। तब सरकार ने सिक्के जारी करने का फैसला वापस ले लिया, तब वह सिक्का दुर्लभ हो गया था।

 

 Relationship tips : शादीशुदा महिलाओं की इन चीजों को देखकर कंट्रोल खो देते हैं कुंवारे लड़के, हो जाते हैं फिदा

जानें कहां है ये सिक्के


वर्कर्स कॉलेज इतिहास विभाग के यूजी और पीजी के विद्यार्थी तुलसी भवन (Vidyarthi Tulsi Bhavan) में लगी सिक्का प्रदर्शनी में पहुंचे। विद्यार्थियों ने सिक्कों का इतिहास जाना। छात्र-छात्राओं को देश-विदेश तथा कुछ विलुप्त हो चुके सिक्कों के बारे में जानकारी दी गई।