HBN News Hindi

Vande Bharat Train: सबसे ज्यादा सफर तय करती है वंदे भारत ट्रेन, हवाई जहाज के बराबर समय में पहुंचा देती है मंजिल पर

Vande Bharat Train New Record : अब तक की सबसे ज्यादा सफर तय करने वाली वंदे भारत ट्रेन है। आज भारतीय रेलवे के 171  साल हो चुके है। सबसे पहली ट्रेन 16 अप्रैल 1853 को मुंबई और ठाणे के (Vande Bharat Train News) बीच चली थी। रेलवे के सभी अधिकारियों ने सोमवार, 15 अप्रैल को अपने 171 साल पुरे होने का जश्न भी मनाया गया था।
 
 | 
Vande Bharat Train: सबसे ज्यादा सफर तय करती है वंदे भारत ट्रेन, हवाई जहाज के बराबर समय में पहुंचा देती है मंजिल पर

HBN News Hindi (ब्यूरो ) : वंदे भारत एक्सप्रेस रेल गाडी ने अपनी स्टार्टिंग के दौरान ही  रेल के सभी यात्रियों को अपना दिवाना (Best Train In India) बना लिया था।  रेलवे अधिकारियों ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 और 2023-24 के दौरान वंदे भारत ट्रेनों की औसत ऑक्यूपेंसी 96% से अधिक रही है। आइए जानतें है इसके बारे में विस्तार से।

 


अब तक करवा चुकी है करोड़ों लोगो को सफर


वंदे भारत एक्सप्रेस लोकप्रिय ट्रेन के (Vande Bharat Kb Start Hui Thi) तौर पर उभरी है। 31 मार्च, 2024 तक 2 करोड़ 15 लाख से ज्‍यादा लोग इससे सफर कर चुके हैं। इस पर रेलवे अधिकारियों ने कई अहम जानकारी साझा की हैं। उनके मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2022-23 और 2023-24 के दौरान वंदे भारत ट्रेनों की कुल ऑक्यूपेंसी 96 फीसदी से ज्‍यादा रही। 7 मई 2024 को वंदे भारत ट्रेनों की ऑक्यूपेंसी 98 फीसदी थी।

 

वित्त वर्ष 2024-25 में 7 मई तक औसत ऑक्यूपेंसी 103 फीसदी होने के साथ वंदे भारत ट्रेन सेवाओं को अच्छी (Vande Bharat Train Features) प्रतिक्रिया मिली है। वंदे भारत एक्सप्रेस लोगों को हवाई यात्रा जैसा अनुभव प्रदान कर रही है। यही वजह है कि लोग वंदे भारत एक्सप्रेस से यात्रा करना पसंद करते हैं। एक तरह से वंदे भारत एक्सप्रेस विकास, आधुनिकता, स्थिरता और आत्मनिर्भरता का पर्याय बन गई है।


कितने जिले वंदे भारत से जुड़े?


रेल अधिकारियों का दावा है कि देशभर के कुल 284 जिले वंदे भारत एक्सप्रेस की सेवा से जुड़ चुके हैं। भविष्य में यह संख्या बढ़ती रहेगी। रेलवे नेटवर्क के 100 रूटों पर कुल 102 वंदे भारत ट्रेनें सेवाएं दे रही हैं।


लगा चुकी है धरती के 310 चक्कर 

अधिकारियों ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2023-24 में वंदे भारत ट्रेनों की (Vande Bharat Train ek Din Me Kitna Chalti h) ओर से तय की गई दूरी(अप-डाउन मूवमेंट) धरती का लगभग 310 चक्कर लगाने के बराबर है। रेल यात्रियों के बीच वंदे भारत की लोकप्रियता को देखतें हुए अब वंदे भारत स्लीपर ट्रेनें भी शुरू करने की तैयारी चल रही है। इसके लिए काफी तेजी से काम चल रहा है।


क्या है इसमें खास बात


वंदे भारत एक्सप्रेस के सभी (Best Features Train In India) कोच में ऑटोमैटिक दरवाजे, जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, वाई-फाई सेवा और आरामदायक सीटें लगी हैं। एग्जीक्यूटिव कोच में 180 डिग्री घूमने वाली सीटों की अतिरिक्त सुविधा है। सभी कोच में गर्म खाना और कोल्ड ड्रिंक्स परोसने के लिए पेंट्री की सुविधा दी गई है। इसके अलावा स्पीड, सुरक्षा और आराम इस ट्रेन की पहचान हैं।

कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के लिए वंदे भारत ट्रेन में रीजेनरेटिव ब्रेक सिस्टम लगाया गया है। वंदे भारत एक्सप्रेस के कोच साउंड प्रूफ हैं। इसके अलावा वंदे भारत एक्सप्रेस के नए डिजाइन में हवा को शुद्ध करने के लिए रूफ माउंटेड पैकेज यूनिट (आरएमपीयू) में फोटो-कैटेलिटिक अल्ट्रावॉयलेट एयर प्यूरीफिकेशन सिस्टम लगाया गया है।