HBN News Hindi

Toll Tax : जून में हो चुकी है हाईवे पर यात्रा महंगी, यहां देखें अब कितना देना होगा टोल टैक्स

Toll Tax Rate : भारत में सड़क मार्ग से कोई भी कार या कोई भी चार पहिया वाहन टोल टैक्स से होकर जाते है तो वहां-वहां वाहनों को टोल चुकाना होता है। ऐसे में राष्ट्रीय(Toll Tax New Rule 2024) राजमार्ग का उपयोग करने वाले वाहन चालकों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है जिसके मुताबिक अब लोगों का एक शहर से दूसरे शहर जाना थोड़ा महंगा हो जाएगा। आइए जानते हैं इस पूरी खबर के बारे में विस्तार से।
 
 | 
Toll Tax : जून में हो चुकी है हाईवे पर यात्रा महंगी, यहां देखें अब कितना देना होगा टोल टैक्स

HBN News Hindi (ब्यूरो) : भारत में हर साल टोल टैक्स के रेट में बदलाव किए जाते हैं आपको बता दें कि एनएचएआई ने कई हाईवे पर टोल टैक्स की दरें बढ़ा दी हैं अब (Toll Tax)राष्ट्रीय राजमार्ग का उपयोग करने वाले (toll tax rate)वाहन चालकों को टोल टैक्स की दरों का अधिक भुगतान (Toll Tax New Rule )करना होगा। तो चलिए जानते हैं कहां बढ़ी है टोल टैक्स की कितनी दरें।

 

एनएचएआई ने टोल टैक्स में की इतनी बढ़ोतरी 

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने टोल टैक्स में बढ़ोतरी कर दी है। नई दरें (toll tax for paytm fastag)अब 2 जून रविवार रात 12 बजे से लागू होंगी। अधिकारियों ने बताया कि सोमवार से देशभर में सड़क टोल शुल्क में 3-5 फीसदी की बढ़ोतरी होने जा रही है।

 

3 से 5 फीसदी की बढ़ोतरी की घोषणा 


आपको बता दें कि देश में आम चुनावों के (भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण)कारण अप्रैल में सालाना बढ़ोतरी रोक दी गई थी। भारत में टोल शुल्क में हर साल महंगाई के हिसाब से संशोधन किया जाता है और हाईवे ऑपरेटरों ने स्थानीय अखबारों में सोमवार से करीब 1,100 टोल प्लाजा पर 3 से 5 फीसदी की बढ़ोतरी की घोषणा करते हुए नोटिस दिए हैं।

 

 

 

3 जून से हो चुके है लागू
भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के(National Highways Authority of India) एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि चुनाव प्रक्रिया खत्म होने के बाद से यूजर फीस (टोल) दरों में संशोधन किया गया है। चुनाव के दौरान इसे रोक दिया गया था जो अब 3 जून से प्रभावी है।

 

वाहन चालकों को टोल टैक्स का झटका 


दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के जरिए मेरठ से गाजियाबाद या करनाल हाईवे के जरिए शामली जाने वाले वाहन चालकों को टोल टैक्स का ज्यादा झटका लगेगा। रविवार यानी आज रात 12 बजे से मेरठ से सराय काले खां जाने वाले कार (Toll Tax rate 2024)चालकों को काशी (परतापुर) टोल प्लाजा पर 160 रुपये की जगह 165 रुपये शुल्क देना होगा। 24 घंटे में दोनों तरफ का शुल्क 230 रुपये की जगह 250 रुपये होगा।

वाहन श्रेणियों के लिए अलग-अलग दरें

 
मेरठ-करनाल हाईवे पर शामली(Toll tax rule update) होते हुए मेरठ से करनाल जाने के लिए वाहन चालकों पर पांच(टोल टैक्स की दरें) से दस रुपये का बोझ बढ़ेगा। अलग-अलग वाहन श्रेणियों के लिए अलग-अलग दरें तय की गई हैं। वहीं, अब प्रयागराज से वाराणसी और कौशांबी से प्रतापगढ़ का सफर महंगा हो गया है।

भारी वाहनों पर इतना टोल टैक्स

बताया गया है कि कार व अन्य जैसे (Toll Tax New Rule 2024)छोटे वाहनों पर पांच से सात रुपये प्रति किलोमीटर और भारी वाहनों पर 25 से 30 रुपये प्रति किलोमीटर टोल टैक्स बढ़ाया गया है। इसमें अगर आप कार से जाते हैं तो फतेहपुर के बरौरी टोल प्लाजा पर आपको 55 रुपये और कटोघन टोल प्लाजा पर 40 रुपये अतिरिक्त देने होंगे।

अरबों डॉलर का निवेश 


टोल बढ़ोतरी से आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर(Bussiness news hindi) डेवलपर्स और अशोका बिल्डकॉन लिमिटेड जैसे हाई-एंड ऑपरेटर्स को फायदा होगा। भारत ने पिछले एक दशक में राष्ट्रीय राजमार्गों के विस्तार के लिए अरबों डॉलर का निवेश किया है, जिसकी कुल लंबाई लगभग 146,000 किलोमीटर है, जो दूसरा सबसे बड़ा वैश्विक सड़क नेटवर्क है।

 

शुल्कों की संख्या में वृद्धि 


साल दर साल इतना बढ़ा टोल वित्त वर्ष 2022/23 में टोल संग्रह 2018/19 के 252 बिलियन रुपये से बढ़कर 540 बिलियन रुपये ($6.5 बिलियन) से अधिक हो गया। सड़क यातायात में वृद्धि के साथ-साथ टोल प्लाजा और शुल्कों की संख्या में वृद्धि से इसमें मदद मिली।