HBN News Hindi

Mutual Fund में निवेश करने वाले हो जाएं सावधान, नहीं तो हो जाएगा भारी नुकसान

Mutual Fund :  आज के समय में हर कोई अच्छा निवेश करके भारी रिटर्न पाना चाहता है। अक्सर लोग वहीं निवेश करते हैं जहां रिस्म कम हो और अच्छा रिटर्न मिलता हो।बता दें कि आज के जमाने में म्‍यूचुअल फंड में निवेश सबसे बढ़िया विकल्प साबित हो सकता है। भारत में इन दिनों म्‍यूचुअल फंड की डिमांड भी काफी बढ़ी है। आपको बता दें कि अगर आप भी म्यूचुअल फंड में निवेश करने  के बारे में  सोच रहे हैं तो इससे जुड़ी कुछ बातों को जान लें, ताकि बाद में आपको बाद में पछताना ना पड़े। 
 
 | 
Mutual Fund में निवेश करने वाले हो जाएं सावधान, नहीं तो हो जाएगा भारी नुकसान

HBN News Hindi (ब्यूरो) : निवेश और बचत करने के लिए हर कोई अपना-अपना तरीका अपनाता हैनिवेश करने के मामले में  म्यूचुअल फंड भी एक अच्छा विकल्प है, जो काफी शानदार रिटर्न देने के लिए जाना जाता है।  पिछले कुछ साल में म्यूचुअल फंड में निवेश करने का चलन तेजी से बढ़ा है। इसमें काफी शानदा र(Best mutual fund) रिटर्न भी मिलता है।अगर  आप भी म्युचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं तो आज हम आपको इससे जुड़ी  कुछ खास जानकारी देंगे ताकि आप किसी भी प्रकार के आर्थिक नुकसान से बच सकें।

 


इससे ज्यादा आयकर पर देना होगा अग्रिम कर 


चालू वित्त वर्ष की पहली अग्रिम कर किस्त की आखिरी तारीख 15 जून है। अगर कारोबारी साल के दौरान किसी व्यक्ति की(sabase achcha mutual fund) आयकर देनदारी 10,000 रुपये से ज्यादा है तो उसे अग्रिम कर देना होगा। अग्रिम कर के दायरे में अलग-अलग तरह की ( Mutual fund Investment) आय आती है, लेकिन वरिष्ठ नागरिक जिनकी कारोबारी आय नहीं है, उन्हें इससे छूट दी गई है।

 

   

म्यूचुअल फंड नॉमिनेशन के लिए है इतना समय 


भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के आदेश के मुताबिक, म्यूच्यूअल फंड (Business News hindi )धारकों के पास नॉमिनेशन करने या न करने का विकल्प चुनने के लिए 30 जून, 2024 तक का समय है। इस तारीख को मिस करने पर अकाउंट फ्रीज हो सकता है।

 

 

आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तिथि


कारोबारी वर्ष 2023-24 के लिए आयकर रिटर्न ( Investment in mutual funds) दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई नजदीक आ रही है, ऐसे में कर्मचारियों को 15 जून तक नियोक्ताओं से अपना फॉर्म 16 (आईटीआर फॉर्म 16) प्राप्त होने की उम्मीद है। यह दस्तावेज़ स्रोत पर कर कटौती के प्रमाण के रूप में कार्य करता है और इसमें आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने के लिए आवश्यक जानकारी होती है।

 

 

 

एचडीएफसी बैंक भेजेगा एसएमएस अलर्ट


25 जून से, एचडीएफसी बैंक केवल 100 रुपये से अधिक भेजी गई और 500 रुपये से अधिक प्राप्त की गई राशि के(mutual fund se judee khaas jaanakaari) लिए  यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) लेनदेन के लिए एसएमएस अलर्ट भेजेगा। हालांकि, लेनदेन अपडेट अभी भी ईमेल के माध्यम से प्राप्त किए जा सकते हैं।