HBN News Hindi

Mutual Fund की ये स्कीम 10 हजार के बना देगी 11 लाख, थोड़े से समय में हो जाओगे मालामाल

Mutual Funds Investment : हर कोई भारी-भरकम पैसा कमाना चाहता है। इसके लिए (mutual fund)इंसान सोशल मीडिया से लेकर फिल्ड में अनेकों-नेक विकल्प तलाशता है ताकि उसे (investment)कम मेहनत में काफी पैसा मिले। तो ध्यान से सुनिए हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसा विकल्प जो कुछ समय के बाद ही आपके 10 हजार रुपये को 11 लाख बना देगा। तो आइये देर किस बात की आगे खबर में बताते हैं।

 | 
Mutual Fund की ये स्कीम 10 हजार के बना देगी 11 लाख, थोड़े से समय में हो जाओगे मालामाल

HBN News Hindi (ब्यूरो) : जीवन में पैसा सब कुछ नहीं होता है लेकिन इस बिना भी कुछ नहीं होता है। ये कहावत (share market)तो आपने कई बार सुनी होगी। और यह बिल्कुल सच भी है। हर कोई ऐसा विकल्प खोजता है कि मात्र थोड़े से समय में उसका पैसा या तो डबल हो या चार गुना । खास बात है कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने भी हाल ही में चुनाव के दौरान अपना हलफनामा दिया था, जिसमें उन्होंने म्युचुअल फंड (म्यूचुअल फंड)में निवेश करने से पैसे को तीन से चार गुना होने की बात कही है। तो आइये हम आपको ऐसे विकल्प बताने जा रहे हैं कि जिसमें निवेश करने पर थोड़े से समय में आपके पैसे या तो डबल हो जाएंगे या फिर चार गुना। 

ये कहा था राहुल गांधी ने अपने हलफनामे में 


भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने रायबरेली से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए अपना (इन्वेस्टमेंट प्लान)नामांकन दाखिल किया है। इसमें उन्होंने अपनी संपत्ति के बारे में खुलासा किया है। इसमें बताया गया है कि राहुल गांधी के पास कुल 20 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति है। इसमें उन्होंने 3.81 करोड़ रुपये म्यूचुअल फंड में निवेश किए हैं। 


 

राहुल गांधी के हलफनामे को देखकर काफी लोगों के दिमाग में आ सकता है कि क्या म्यूचुअल फंड में निवेश करना सही है? इसमें निवेश करने से कितना रिटर्न मिलता है? अगर इसका जवाब चाहते हैं तो कुछ कंपनियों से मिले रिटर्न को देख लें। कई कंपनियों के म्यूचुअल फंड ने सालाना 20 फीसदी से ज्यादा तक का रिटर्न दिया है। कुछ म्यूचुअल फंड (शेयर मार्केट)ऐसे हैं जिन्होंने 12 साल में 10 हजार रुपये 11 लाख रुपये बना दिए।

जानें यह है म्यूचुअल फंड


म्यूचुअल फंड पैसे को निवेश करने का एक तरीका है। यह तरीका ठीक वैसा ही है जैसे शेयर मार्केट, पीपीएफ, एफडी आदि में निवेश किया जाता है। म्यूचुअल फंड में कंपनियां निवेश की रकम को शेयर मार्केट, बॉन्ड, डेट, विदेशी सिक्योरिटीज आदि में लगाती हैं। इन कंपनियों को फंड हाउस भी कहते हैं। इससे जो प्रॉफिट होता है, उसे निवेशक को दिया जाता है। शेयर मार्केट के गिरने पर निवेश की गई रकम बहुत जल्दी नीचे नहीं जाती। इसलिए इसे निवेश के लिए अच्छा विकल्प माना जाता है।

मिला अच्छा रिटर्न


सुंदरम मिडकैप फंड की शुरुआत 2002 में हुई थी। लॉन्च के बाद से इसने 24.33 फीसदी का सालाना रिटर्न दिया है। अगर किसी शख्स ने 2002 में 10 हजार रुपये निवेश किए होते तो आज वह 11.43 लाख रुपये बन चुके होते। इसी प्रकार एसबीआई लॉन्ग टर्म इक्विटी फंड की शुरुआत मार्च 1993 में हुई थी। इसने सालाना 12.50 फीसदी का रिटर्न दिया है। अगर किसी ने लॉन्च के समय 10 हजार रुपये निवेश किए होते तो यह रकम आज करीब 4 लाख रुपये हो जाती।

तीन तरह के म्यूचुअल फंड


म्यूचुअल फंड मुख्यत: तीन तरह के होते हैं। इनमें इक्विटी फंड, डेट फंड और हाईब्रिड यानी मिलाजुला फंड प्रमुख हैं। म्यूचुअल फंड में 500 रुपये से निवेश की शुरुआत की जा सकती है। आप चाहें तो रोजाना या हर हफ्ते या हर महीने या हर साल कितनी भी रकम इसमें जमा कर सकते हैं। बेहतर रिटर्न के लिए इसमें लंबी अवधि तक निवेश करना अच्छा माना जाता है। लंबी अवधि का मतलब 10 साल और इससे ज्यादा अवधि से है।


यहां करें निवेश


म्यूचुअल फंड में कई तरह के बैंक और फाइनेंशियल संस्थाएं निवेश कराती हैं। इनमें ये प्रमुख हैं:

एसबीआई म्यूचुअल फंड
आईसीआईसीआई प्रूडेंश‍ियल म्यूचुअल फंड
एक्स‍िस म्यूचुअल फंड
बिड़ला म्यूचुअल फंड
रिलायंस म्यूचुअल फंड
एचडीएफसी म्यूचुअल फंड
यूटीआई म्युचुअल फंड
आईडीएफसी म्यूचुअल फंड
टाटा म्यूचुअल फंड

ऐसे करें निवेश


जिन बैंकों के म्यूचुअल फंड हैं, उन बैंक में अगर आपका बैंक अकाउंट है तो सिर्फ एक फॉर्म भरकर आप म्यूचुअल फंड में निवेश शुरू कर सकते हैं। वहीं जहां अकाउंट नहीं है वहां म्यूचुअल फंड में निवेश करना है तो वहां KYC के लिए PAN, आधार, एक फोटो और कैंसिल चेक देना होगा। इसके बाद एक अकाउंट नंबर दिया जाता है जिससे आप अपने म्यूचुअल फंड अकाउंट को मैनेज कर सकते हैं।