HBN News Hindi

Mukesh Ambani के इस बिजनेस प्लान को सरकार से मिली मंजूरी, इतना बढ़ जाएगा शेयर रेट

Mukesh Ambani Update : मुकेश अंबानी के बारे में आज के समय शायद ही ऐसा कोई सख्स होगा जो न जानता हो। आपको बता दें कि रिलायंस इडंस्ट्रीज के चेयरमेन मुकेश अंबानी ने अपने बिजनेस को बढाने के लिए गैस रिजर्व प्रोडक्शन को बढावा देने की प्लेनिंग कर रहे है। आइए जानते हैं इस बिजनेस में कितने का किया जाएगा निवेश।
 | 
Mukesh Ambani के इस बिजनेस प्लान को सरकार से मिली मंजूरी, इतना बढ़ जाएगा शेयर रेट

HBN News Hindi (ब्यूरो) : ताजे अपडेट के अनुसार आपको बता दें कि मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Update) ने कुछ दिन पहले ही अपने तिमाही खर्चे को लागू किया था। जिसके अनुसार आपको बता दें कि मुकेश अंबानी का अगला लक्ष्य (Mukesh Ambani Plan)बंगाल की खाड़ी में गैस रिजर्व प्रोडक्शन को बढाना है। आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से खबर में ।

मुकेश अंबानी और उनकी कंपनी नया प्लान करने में लगी हुई है।एक दिन पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज तिमाही (Reliance Industries Quarterly) नतीजे जारी किए थे।  रिलायंस इंडस्ट्रीज ब्लॉक में गैस रिजर्व प्रोडक्शन बढ़ाने की प्लानिंग कर रही है।देश की सबसे बड़ी कंपनी को 69 हजार करोड़ रुपए से लिमिटेड को बंगाल की खाड़ी में स्थित अपने केजी-डी6 ज्यादा रिकॉर्ड प्रॉफिट हुआ था। 

इस प्लानिंग पर सरकार की मंजूरी भी मिल चुकी है। इसका मतलब है कि केजी-डी6 ब्लॉक से और गैस का प्रोडक्शन किया जाएगा। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज ने किस तरह की प्लानिंग की है।

इस काम की मिली मंजूरी

रिलायंस और उसकी साझेदार बीपी पीएलसी केजी-डी6 ब्लॉक से फिलहाल तीन करोड़ मानक घन मीटर प्रतिदिन गैस का उत्पादन करती है जो भारत के कुल गैस उत्पादन का लगभग 30 प्रतिशत है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चौथी तिमाही के नतीजों पर निवेशकों के साथ चर्चा के दौरान कंपनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (Mukseh Ambani news) संजय रॉय ने कहा कि गैस ब्लॉक से वृद्धिशील उत्पादन के लिए विकास योजना को सरकार ने मंजूरी दे दी है। हालांकि रॉय ने इस योजना के लिए स्वीकृत निवेश का विवरण नहीं दिया। इस दौरान 40 से 50 लाख मानक घन मीटर प्रतिदिन उत्पादन बढ़ाने पर जोर रहेगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज हिस्सेदारी 


रिलायंस-बीपी गठजोड़ (Reliance-BP alliance) गहरे समुद्र में केजी-डी6 ब्लॉक से लगभग तीन करोड़ मानक घन मीटर गैस प्रतिदिन उत्पादन करता है। इस ब्लॉक में तीन तरह के समूहों की खोज एक दशक से भी अधिक समय पहले हुई थी और वहां धीरे-धीरे उत्पादन शुरू हुआ है। रिलायंस इंडस्ट्रीज 66।67 फीसदी हिस्सेदारी के साथ केजी-डी6 ब्लॉक का परिचालन करती है जबकि बीपी के पास इसकी बाकी 33.33 फीसदी हिस्सेदारी है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर


वैसे रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में करीब डेढ़ फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख सूचकांक में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1.42 फीसदी की गिरावट के साथ 29.8।50 रुपए पर बंद हुआ है। वैसे कारोबारी सत्र के दौरान 2912।50 रुपए के साथ दिन के लोअर लेवल पर भी पहुंचा।
 

इतने की आई गिरावट


एक दिन पहले कंपनी का शेयर 2960.60 रुपए पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी ओर कंपनी के मार्केट कैप में भी कमी देखने को मिली है। एक दिन पहले कंपनी का मार्केट कैप 20 लाख करोड़ रुपए के ऊपर था। जिसमें आज 25 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली और कंपनी का मार्केट कैप 19,74,566.78 करोड़ रुपए पर आ गया है।