HBN News Hindi

Bank Locker को लेकर आरबीआई की नई गाइडलाइन, ग्राहकों के हित में किए ये फैसले

Bank News: अगर आप भी bank locker की सुविधा का आनंद उठा रहे हैं तो आपके लिए खुशखबरी। आरबीआई के नए अपडेट के मुताबिक के अगर आपके बैंक लॉकर से कोई भी कीमती वस्तु या गोल्ड जैसी किसी भी चीज का नुकसान होता हैं तो बैंक को इसकी भरपाई करनी होगी आइए जानते हैं इस अपडेट के बारे में खबर के माध्यम से ।
 
 | 
Bank Locker को लेकर आरबीआई की नई गाइडलाइन, ग्राहकों के हित में किए ये फैसलें

HBN News Hindi (ब्यूरो) : आज के समय में हर कोई बैंक की अलग-अलग सुविधा का प्रयोग कर रहे हैं । जिसमें से एक bank locker की सुविधा भी हैं । लेकिन अक्सर देखा जाता है कि ग्राहकों के सामान बैंक लॉकर से गायब हो जाती हैं या कागजो में दीमक (termites in paper) लग जाती है। और बैंक अपना पला झाड़ लेती है । आपको बता दें कि आरबीआई ने बैंकों लिए नए नियम लागू कर दिए हैं । अब ग्राहकों को इन घटनाओं में नुकसान का सामना नहीं करना पड़ेगा ।आइए जानते हैं बैंक आपके सामान की मुआवजा के रूप में कितना भुगतान करेगी।

 

Personal Loan को लेकर RBI की सख्ती, नियम बदलने से अब ग्राहकों को होगी परेशानी...

 

देश में ज्यादार बैंक ग्राहकों को अपना कीमती सामान रखने के लिए लॉकर की सुविधा (locker facility) देते हैं। इसके बदले में बैंकों की ओर से ग्राहकों से किराया लिया जाता है जो कि बैंक दर बैंक अलग होता है। कई बार देखा जाता है कि किसी कारण से बैंक लॉकर में रखा सामान गायब हो जाता है। ऐसा होने ग्राहकों को कितना मुआवजा मिलेगा। इसे लेकर क्या नियम हैं आइए जानते हैं।

 

 

बैंक लॉकर से चोरी होने पर इतना भरना होगा बैंक को मुआवजा


बैंक लॉकर (bank locker) सही तरीके से काम करे और उसकी पूरी सुरक्षा की जिम्मेदारी बैंक की होती है। ऐसे में अगर आपके लॉकर को बैंक की लापरवाही (negligence of bank) के कारण अगर कोई नुकसान होता तो बैंक इसके लिए उत्तरदायी होगा और आपको उचित मुआवजा दिया जाएगा। 

 


इन कारणों से होता है सामान की चोरी


वहीं, बैंक लॉकर से चोरी, डकैती और इमारत गिरने के कारण (Reasons for bank locker theft, robbery and building collapse) आपका सामान गायब होता है तो नियम के मुताबिक बैंक की ओर से लॉकर किराए की 100 गुना राशि आपको मुआवजे के रूप में दी जाएगी। उदाहरण के लिए अगर आपके लॉक का किराया 3,000 रुपये है तो चोरी, डकैती और इमारत गिरने के कारण बैंक लॉकर से सामान गायब होने पर आपको 3,00,000 लाख रुपये मुआवजे के रूप में दिए जाएंगे। 

 

Relationship : पति की इन कमियों की वजह से महिलाएं गैर मर्द में ढुढंने लगती ये चीजें

इतने गुना राशि का देना होगा मुआवजा 


एसबीआई की वेबसाइट (SBI website)पर दी गई जानकारी के मुताबिक ये ब्रांच की जिम्मेदारी है कि बैंक परिसर में किसी भी तरह का चोरी, डकैती और इमारत गिरने की घटना न हो। वहीं, अगर बैंक परिसर में मौजूद लॉकर में ऊपर दिए गए कारणों या कर्मचारी की ओर से की गई धोखाधड़ी से सामान गायब हो जाता है तो बैंक की ओर से ग्राहक को लॉकर किराए का 100 गुना राशि का मुआवजा दिया जाएगा। 

Credit Card को लेकर RBI का बड़ा ऐलान, ग्राहकों को दिया जाएगा क्रेडिट कार्ड चुनने का ऑप्शन


 
लॉकर इनएक्टिव होने पर ऐसे करे रिएक्टिव


अगर किसी ग्राहक ने लॉकर को किराए पर (Customer rented the locker)ले रखा है और समय से किराए का भी भुगतान किया जा रहा है, लेकिन सात वर्ष से अधिक समय से लॉकर ओपन (locker open) नहीं किया है। ऐसी स्थिति में बैंक लॉकर को इनएक्टिव मानेगा। फिर नॉमिनी और कानूनी उत्तराधिकारी को बुलाकर पारदर्शी तरीके से लॉकर के सामान को ट्रांसफर कर दिया जाएगा।