HBN News Hindi

RBI Update : RBI ने किए इन बैंकों में नए नियम लागू अब इतना निकाल पाएंगे एक दिन में कैश

RBI Update : अपडेटिड रिपोर्ट के मुताबिक आरबीआई ने इन बैंकों के नियम में भारी बदलाव कर दिए हैं । अगर आप भी इन बैंकों के ग्राहक हैं तो आपको बता दें कि इन बैंकों से एक दिन में मात्र 15000 ही निकलवा पाएंगे। आइए जानते हैं इन बैंकों के नाम और लोकेशन के बारे में खबर में। 
 
 | 
RBI Update : RBI ने किए इन बैंकों में  नए नियम लागू अब इतना निकाल पाएंगे एक दिन में कैश

HBN News Hindi (ब्यूरों) : अगर आप भी इन बैंकों के ग्राहक हैं तो आपको बता दें कि अब इन बैंकों से कैश निकालने के संदर्भ में नियमों (Rules regarding cash withdrawal) में भारी बदलाव कर दिए गए है जिसके मुताबिक एक दिन में आप मात्र 15000 ही निकाल पाएंगे। आइए जानते हैं इन नियमों के लागू होने की डेट(Date of implementation of rules) के बारे में खबर के माध्यम से।
 

Delhi Weather Forecast : दिल्ली में लू के बिना बीतेगा अप्रैल का महीना, चलेंगीं तेज हवाएं नहीं आएगा पसीना!

 

Reserve Bank of India: रिजर्व बैंक (RBI) ने दो बैंकों के खिलाफ सख्त कदम उठाया है। अगर आपका भी इन बैंकों में खाता है तो अब आप सिर्फ 10,000 और 15,000 रुपये तक की ही निकासी कर सकेंगे। इससे ज्यादा पैसा आप नहीं निकाल सकेंगे।

 

 इन बैंकों में लागू होंगे ये नियम


आरबीआई ने उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ स्थित नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (National Urban Co operative Bank) और मुंबई के सर्वोदय सहकारी बैंक (Sarvodaya Co operative Bank) के खिलाफ यह सख्त कदम उठाया है, जिन भी ग्राहकों का खाता इस बैंक में है तो वह यहां से एक लिमिट में ही पैसा निकाल सकते हैं। 

Devar bhabhi affair : देवर को भाभी से हुआ प्यार, रात के अंधेरे में हो गए फरार

 इन कारणों से बनाए गए ऐसे नियम


आपको बता दें बैंकों की बिगड़ती फाइनेंशियल स्थितियों को देखते हुए रिजर्व बैंक ने यह सख्त कदम उठाया है। बैंकों की फाइनेंशियल स्थिति में सुधार करने के लिए इन पर पाबंदी लगाई गई है, जिसका सीधा असर ग्राहकों पर होगा। इसके साथ ही पात्र जमाकर्ता, केवल जमा बीमा और क्रेडिट गारंटी निगम (DICGC) से अपनी जमा राशि की पांच लाख रुपये तक की जमा बीमा दावा राशि प्राप्त करने के हकदार होंगे।


 
इतने तारीख से लागू होंगे ये नियम

सर्वोदय सहकारी बैंक और नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (National Urban Co-operative Bank) पर बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 35ए के तहत निर्देशों के रूप में अंकुश सोमवार (15 अप्रैल, 2024) को कारोबार की समाप्ति से लागू हो गए हैं।


 

Weather Forecast : यूपी में गर्मी का कहर, इस दिन बारिश से मिल सकती है राहत, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

इसके साथ ही आरबीआई ने कहा है कि अब सर्वोदय सहकारी बैंक रिजर्व बैंक की परमिशन के बिना कोई लोन और अग्रिम नहीं दे सकेगा और न ही उनका नवीनीकरण कर सकेगा। इसके अलावा वह कोई निवेश नहीं कर पाएगा, कोई दायित्व नहीं ले सकता है, या कोई भुगतान नहीं कर सकता है, चाहे वह अपनी देनदारियों और दायित्वों (liabilities and obligations) के निर्वहन के रूप में हो।

 
सर्वोदय सहकारी बैंक के ग्राहक निकाल सकते हैं सिर्फ 15000 रुपये-


केंद्रीय बैंक ने कहा है कि विशेष रूप से, सभी बचत बैंक या चालू खातों या जमाकर्ता के किसी अन्य खाते में कुल शेष राशि में से 15,000 रुपये से अधिक की राशि निकालने की अनुमति नहीं दी जा सकती है।’’ रिजर्व बैंक ने यह भी कहा कि जारी दिशानिर्देशों को रिजर्व बैंक द्वारा बैंकिंग लाइसेंस (banking license) रद्द करने के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए।

Cheapest Electric Scooter : बेहद सस्ते रेट पर मिल रहा OLA का यह इलेक्ट्रिक स्कूटर, बाकी कंपनियों के छूटे पसीने

नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक नहीं कर सकता ये काम-

नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड भी आरबीआई की परमिशन (RBI permission) के बिना किसी भी लोन और अग्रिम की स्वीकृति या नवीनीकरण नहीं कर सकता है, कोई निवेश नहीं कर सकता है, कोई देनदारी नहीं ले सकता है, या अपनी देनदारियों एवं दायित्वों के एवज में कोई भुगतान नहीं कर सकता है। 

अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहक निकाल सकते हैं 10,000 -

केंद्रीय बैंक (Central bank) ने कहा है कि बैंक के बचत खातों या चालू खातों या जमाकर्ता के किसी भी अन्य खाते में कुल शेष राशि में से 10,000 रुपये से अधिक की राशि निकालने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। इसके साथ ही आरबीआई ने कहा कि इन दिशानिर्देशों को बैंकिंग लाइसेंस रद्द करने के रूप में नहीं समझा जाना चाहिए। 

Aaj Ka Rashifal, 17 अप्रैल : आज राम नवमी के दिन कई राशि वालों को मिलेगी खुशी तो कुछ को हो सकती है परेशानी

6 महीने तक लागू रहेंगी पाबंदियां-

बैंक अपनी वित्तीय स्थिति (financial situation) में सुधार होने तक इस तरह की पाबंदियों के साथ बैंकिंग कारोबार जारी रखेगा। आरबीआई ने कहा कि ये बंदिशें 15 अप्रैल, 2024 को कारोबार बंद होने से छह महीने तक लागू रहेंगी और समीक्षा के अधीन रहेंगी।