HBN News Hindi

RBI ने इस बड़े बैंक पर लिया एक्शन, ठोका लाखों का जुर्माना, क्या आप भी हैं इसके ग्राहक

Reserve Bank of India : बैंकों की कार्यप्रणाली पर नजर रखने का जिम्मा आरबीआई के पास होता है।अगर कोई भी बैंक नियमों की उल्लंघना करता है तो RBI उस पर जुर्माना लगा सकती है। आज हम आपको ऐसे ही एक बैंक के बारे में बताने जा रहे हैं जिस पर आरबीआई ने लाखों रूपये का जुर्माना ठोका है। तो आइए जानते हैं कौन सा है वो बैंक।

 | 
RBI ने इस बड़े बैंक पर लिया एक्शन, ठोका लाखों का जुर्माना, क्या आप भी हैं इसके ग्राहक

HBN News Hindi (ब्यूरो) : RBI की देश के हर बैंको पर नजर रहती है। आपको बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंड‍िया (RBI) की ओर से हांगकांग व शंघाई बैंकिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HSBC) बैंक पर कार्रवाई की गई है। बैंक के नियमों का(RBI Penalty on HSBC)उल्लंघन करने पर आरबीआई ने इसपर लाखों का जुर्माना लगाया है


एचएसबीसी बैंक पर लगा इतने रुपये का जुर्माना


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) देश के सभी बैंकों के कामकाजों पर नजर रखती है। जब भी कोई बैंक नियमों को अनदेखा कर अपनी मनमानी करता है तो आरबीआई उस पर जुर्माना लगा सकता है। इसी कड़ी में हांगकांग व शंघाई बैंकिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HSBC) को बड़ा झटका लगा है। भारतीय रिजर्व बैं (RBI Action on​​​​​​ HSBC Bank    ) ने नियमों के उल्लंघन के लिए एचएसबीसी बैंक पर कुल 29.6 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

कार्ड से संबंधित निर्देशों का नहीं किया पालन 


केंद्रीय बैंक ने कार्ड से संबंधित कुछ निर्देशों का पालन नहीं करने पर एचएसबीसी पर यह जुर्माना लगाया। केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि एचएसबीसी पर यह जुर्माना भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से ‘‘बैंकों के क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड और रुपी (RBI Action on Bank)डिनॉमिनेटेड को-ब्रांडेड प्रीपेड कार्ड ऑपरेशंस’’ पर जारी कुछ निर्देशों का पालन नहीं करने के लिए लगाया गया है।

 

कॉरेस्पोंडेंस के आधार पर बैंक को जारी किया गया था एक नोटिस 


आरबीआई के अनुसार, 31 मार्च 2022 तक बैंक की फाइनेंशियल पोजीशन के संदर्भ में उसके द्वारा सुपरवाइजरी इवैल्यूएशन के लिए स्टैचुटरी इंस्पेक्शन (ISE 2022) किया गया। इसमें पाया गया कि आरबीआई के निर्देशों का पालन नहीं किया गया। उस संबंध(आरबीआई ने एचएसबीसी पर लगाया जुर्माना) में संबंधित कॉरेस्पोंडेंस के आधार पर बैंक को एक नोटिस जारी किया गया था। उसमें बैंक को कारण बताने को कहा गया था और पूछा गया था कि उक्त निर्देशों का पालन करने में विफल रहने के लिए उस पर जुर्माना क्यों न लगाया जाए। 

 

आरबीआई ने क्यों लगाई पेनल्टी


आरबीआई ने कहा कि नोटिस पर बैंक के जवाब, व्यक्तिगत (HSBC Bank pr lgi penalty)पेशी के दौरान दिए गए मौखिक जवाब और उसके द्वारा दी गई अतिरिक्त जानकारी पर गौर करने के बाद उसने पाया कि अन्य बातों के साथ-साथ, बैंक के खिलाफ आरोप साबित होते हैं जिसके लिए मॉनेटरी पेनल्टी लगाया जाना आवश्यक था।


आरबीआई ने किया ग्राहकों को अलर्ट


हालांकि, आरबीआई ने कहा कि यह जुर्माना स्टैचुटरी और रेगुलेटरी कंप्लायंस में कमियों पर आधारित है। इसका मकसद बैंक द्वारा अपने ग्राहकों के साथ किए गए किसी ट्रांजैक्शन या एग्रीमेंट की वैलिडिटी पर सवाल उठाना नहीं है