HBN News Hindi

एक्शन मोड में RBI , इन 5 बैंकों पर ठोका तगड़ा जुर्माना

नया वित्तीय वर्ष शुरू होने के साथ ही RBI ने बैंकों पर सख्ती और बढ़ा दी है | बैंकिंग सिस्टम को सही चलने के लिए RBI ने कुछ नियमों को बनाया है अगर कोई बैंक इन नियमों को नहीं मानता तो RBI उस बैंक पर कार्यवाई करता है | हाल ही में RBI ने इन 5 बैंकों पर तगड़ा जुर्माना लगाया है | आइये जानते हैं कौनसे है ये बैंक और क्या है इसका कारण 

 | 
एक्शन मोड में RBI , इन 5 बैंकों पर ठोका तगड़ा जुर्माना 

HBN News, Delhi : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) देश के सभी बैंकों के कामकाजों पर नजर रखती है. जब भी कोई बैंक नियमों को अनदेखा कर अपनी मनमानी करता है तो आरबीआई उस पर जुर्माना लगा सकता है. इसी कड़ी में भारतीय रिजर्व बैंक (reserve bank of india) ने विभिन्न रेगुलेटरी नॉर्म्स के उल्लंघन के लिए 5 को-ऑपरेटिव बैंकों पर कुल 60.3 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है.

राजकोट नागरिक को-ऑपरेटिव बैंक (Rajkot Nagarik Co-operative Bank) पर 43.30 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. यह जुर्माना ‘निदेशकों और उनके रिश्तेदारों को कर्ज और अग्रिम पर प्रतिबंध समेत अन्य बातों को को लेकर रिजर्व बैंक के निर्देशों का पालन न करने को लेकर लगाया गया है.

Income Tax News : इनकम टैक्स की यह ऐसी है धारा जो आपको 1.50 लाख तक दिला सकती है छूट


जिला को-ऑपरेटिव बैंक (District Co-operative Bank) पर 2 रुपये का जुर्माना
केंद्रीय बैंक ने द कांगड़ा को-ऑपरेटिव बैंक (नई दिल्ली), राजधानी नगर को-ऑपरेटिव बैंक (लखनऊ) और जिला को-ऑपरेटिव बैंक, गढ़वाल (कोटद्वार, उत्तराखंड) पर 5-5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. इसके अलावा जिला को-ऑपरेटिव बैंक (देहरादून) पर 2 रुपये का जुर्माना लगाया गया है.


अब ग्राहकों के पैसों का क्या होगा?
रिजर्व बैंक ने कहा कि प्रत्येक मामले में, जुर्माना रेगुलेटरी नॉर्म्स में कमियों पर आधारित है और इसका उद्देश्य बैंकों द्वारा अपने संबंधित ग्राहकों के साथ किए गए समझौते के किसी भी लेनदेन की वैधता को प्रभावित करना नहीं है.

bullet train top speed : कितनी रफ़्तार से दौड़ेगी देश की पहली बुलेट ट्रेन, आप भी जानिए


हाल ही में 2 बैंकों पर लगाए थे रेस्ट्रिक्शन
हाल ही में आरबीआई ने मुंबई स्थित सर्वोदय को-ऑपरेटिव बैंक (Sarvodaya Co-operative Bank) और उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ स्थित नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (National Urban Co-operative Bank) पर रेस्ट्रिक्शन लगा दिए थे. इसमें ग्राहकों पर अपने खातों से निकासी की सीमा क्रमश: 15,000 और 10,000 रुपये लगाई गई है.