HBN News Hindi

RBI का नया फैसला आते ही Paytm के शेयर उछले, लगा अपर सर्किट

Paytm Stock : हाल ही में पेटीएम ऐप (Paytm app) के मामले में आरबीआई ने अपना नया फैसला दिया है। इसके अनुसार आरबीआई (RBI) ने पेटीएम की मदर कंपनी वन97 कम्युनिकेशन (One97 Communications) के अनुरोध की जांच करने की सलाह दी है। यह अनुरोध Paytm UPIके निरंतर संचालन से संबंधित है। यह पेटीएम यूजर्स (Paytm users) के लिए राहत की खबर है। इसी कारण पेटीएम के शेयर में भी तेजी आई। आइये जानते हैं पूरी स्थिति इस खबर के जरिये। 

 | 
RBI का नया फैसला आते ही Paytm के शेयर उछले, लगा अपर सर्किट

HBN News Hindi ( ब्यूरो) : Paytm के स्टॉक में आज फिर 5% का अपर सर्किट लग गया है यानी मार्केट में इस स्टॉक को कोई बेचने वाला नहीं है। स्टॉक में सिर्फ खरीदारी हो रही है। बीते कुछ दिनों से पेटीएम के स्टॉक में एकतरफा तेजी दर्ज की गई है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस रद्द (Paytm Payments Bank license revoked)करने के आरबीआई (RBI)के फैसले के बाद पेटीएम की जबरदस्त किरकिरी हुई थी। स्टॉक का भाव टूटकर 325 रुपये पर पहुंच गया था। हालांकि, अब एक बार फिर से तेजी दर्ज की जा रही है। आज के शुरुआती कारोबार में पेटीएम का स्टॉक 20.35 रुपये (4.99%) उछलकर 428.10 पर पहुंच गया है। 

 

Haryanvi Song : 'लास्ट पेग' गाने पर इस लड़की ने नीली साड़ी में मचाया धमाल तो काली पेंट वाली ने भी कर दिया कमाल

 


इस कारण लौटी शेयर में तेजी


आखिर क्या वजह है कि पेटीएम के शेयर में आज फिर जबरदस्त तेजी लौटी है। आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) द्वारा नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (National Payments Corporation of India) को यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) के लिए थर्ड-पार्टी एप्लिकेशन प्रदाता बनने के लिए Paytm के अनुरोध की जांच करने की सलाह दी गई है। यह खबर आने के बाद से Paytm के स्टॉक में 5% का अपर सर्किट लग गया है। 

 

मंजूरी मिलने पर पेटीएम के लिए खुलेंगे नए रास्ते


आरबीआई ने एनपीसीआई (National Payments Corporation of India)को नियमों के अनुसार, पेटीएम ऐप के निरंतर यूपीआई संचालन के लिए यूपीआई चैनल के लिए थर्ड-पार्टी एप्लिकेशन प्रदाता (टीपीएपी) बनने के लिए वन97 कम्युनिकेशन (ओसीएल) के अनुरोध की जांच करने की सलाह दी है। अगर मंजूरी मिल जाती है, तो यह पेटीएम को यूपीआई के माध्यम से भुगतान जारी रखने की अनुमति देगा, लेकिन ऐप को समर्थन देने के लिए नए बैंकों के एक ग्रुप की आवश्यकता होगी। 

 

RBI Declaration on currency :2000 रुपये का नोट बंद करने का कारण आया सामने, RBI ने कर दिया क्लियर

यह कहा आरबीआई ने


आरबीआई ने कहा कि एनपीसीआई को बड़ी मात्रा में यूपीआई भुगतान संसाधित करने की क्षमता वाले चार से पांच बैंकों को पेटीएम के सेवा प्रदाता के रूप में कार्य करने की सुविधा देनी चाहिए। वन 97 कम्युनिकेशन, जो पेटीएम ब्रांड का मालिक है, की पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड में 49% हिस्सेदारी है।

पेटीएम मुद्दे की हो सकती है समीक्षा


इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (Institute of Chartered Accountants of India) का वित्तीय सूचना समीक्षा बोर्ड (एफआरआरबी) निकट भविष्य में पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड से जुड़े मुद्दों पर विचार-विमर्श कर सकता है। आईसीएआई के अध्यक्ष रंजीत कुमार अग्रवाल ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अभी तक, हमने पेटीएम मुद्दे पर विचार (Considerations on the Paytm issue)नहीं किया है, लेकिन निकट भविष्य में एफआरआरबी की बोर्ड बैठक होगी और जरूरत पड़ने पर उचित कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। 

Effect of inflation : इतने साल में लोगों के खर्चे हो गए दोगुने से भी ज्यादा, कहां जाकर रुकेगी महंगाई?

यह है उम्मीद


अग्रवाल ने कहा कि आईसीएआई (ICAI)की एफआरआरबी समेत नवनिर्वाचित समितियों की मार्च से बैठकें शुरू होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि एफआरआरबी यह फैसला कर सकता है कि भुगतान बैंक के बहीखातों की जांच (Examination of bank books)जरूरी है या नहीं।