HBN News Hindi

Mutual Fund में मिल रहा छप्परफाड़ रिटर्न, दो महीनों में इतने लोगों ने किया दबाकर निवेश

Mutual fund investment : भारत में तेजी से म्यूचुअल फंड में निवेश करने वालों की संख्या बढ़ रही है। लोगों का निवेश के लिए रूझान म्यूचुअल फंड की और बढ़ता ही जा रहा है। बता दें कि इंडस्ट्री ने पिछले दो महीनों यानि अप्रैल-मई में ही इतने लाख तक इन्वेस्टर जोड़े है । आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से।

 | 
Mutual Fund में मिल रहा छप्परफाड़ रिटर्न, दो महीनों में इतने लोगों ने किया दबाकर निवेश

HBN News Hindi (ब्यूरो) :  जिस प्रकार अब इंडिया में लोग शेयर बाजार को लेकर जागरूक हो रहे हैं और निवेश के लिए आगे आ रहे हैं। उसी रफ्तार से म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की ग्रोथ भी हो रही है। अगर आप भी म्यूचुअल फंड निवेशक है तो(mutual fund folios) ये खबर आपके लिए काम की है ।आपको बता दें कि पिछले दो महिनों में ही  81 लाख से ज्यादा इन्वेस्टर अकाउंट्स म्यूचुअल फंड से जोड़े है। 

 


नए निवेशकों की संख्या में वृद्धि 

 

स्टॉक ट्रेडिंग मंच ट्रेडजिनी के सीओओ ने कहा कि इसके अलावा फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) के बारे में बदलती धारणाएं और आय के स्तर में वृद्धि और फाइनेंशियल मार्केट्स तक पहुंच ने भी नए निवेशकों की संख्या में वृद्धि में योगदान दिया है। फिक्स्ड(investors addition in mutual fund) डिपॉजिट योजनाएं अब म्यूचुअल फंड की तुलना में प्रतिस्पर्धी रिटर्न नहीं देती हैं। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही म्यूचुअल फंड के लिए संभावनाएं मजबूत बनी हुई हैं, जिसे शेयर बाजार में चल रही तेजी, ठोस रिस्क मैनेजमेंट प्रैक्टिसेज, निरंतर इन्वेस्टर एजुकेशन और लगातार मार्केटिंग प्रयासों से समर्थन मिल रहा है।

 

 

लॉन्ग-टर्म गोल्स के लिए वैकल्पिक रास्ते तलाश रहे बचतकर्ता 


एक्सपर्ट्स ने कहा कि इसके अलावा, इंडस्ट्री में अच्छी वृद्धि जारी रहेगी क्योंकि बचतकर्ता अपने लॉन्ग-टर्म गोल्स के लिए वैकल्पिक रास्ते तलाश रहे हैं। पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड के सीबीओ ने कहा, ‘‘जैसे-जैसे भारत(business news in hindi) की प्रति व्यक्ति आय बढ़ेगी, निवेशक ऐसे एसेट क्लासेज में पैसा बचाना चाहेंगे, जिनमें मंहगाई को मात देने और वेल्थ क्रिएशन की क्षमता है। जैसे-जैसे म्यूचुअल फंड की पहुंच बढ़ेगी, यह इंडस्ट्री स्तर पर हायर फोलियो बेस में तब्दील हो जाएगा।’’

 


म्यूचुअल फंड फोलियो की संख्या 


एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन (mutual fund investment)इंडिया यानी एम्फी (AMFI) के डेटा के मुताबिक, इंडस्ट्री के म्यूचुअल फंड फोलियो की संख्या मई के अंत में 18।6 करोड़ थी, जो मार्च के अंत में दर्ज 17।78 करोड़ से 4।6 फीसदी या 81 लाख ज्यादा है। फोलियो इंडिविजुअल इन्वेस्टर अकाउंट्स को दी जाने वाली संख्या होती है। एक निवेशक के कई फोलियो हो सकते हैं