HBN News Hindi

Mukesh Ambani ने ऐसे की थी अपने सफर की शुरुआत, आज इतने के बन गए मालिक

Mukesh Ambani News : आज के समय में शायद ही ऐसा कोई शख्स होगा जो इन्हें न जानता हो। लेकिन आपने कभी सोचा कि Mukesh Ambani ने अपने जीवन में खरबपति बनने की शुरूआत किन हालातों में किया था, कब वह पहली बार खरबपति बने आइए जानते हैं Mukesh Ambani के जीवन संघर्ष के बारे में इस आर्टिकल के माध्यम से।
 | 
Mukesh Ambani ने ऐसे की थी अपने सफर की शुरुआत, आज इतने के बन गए मालिक

HBN News Hindi (ब्यूरो) : भारत के सबसे बड़े उद्योगपति रिलायंस इडस्ट्रीज के चेयरमैन Mukesh Ambani ने अपने जीवन में अनेको सफलताएं प्राप्त की और अपने निरंतर प्रयास से वह पहली बार 2007 में खरबपतियों की सूची में शामिल हुए । आइए जानते हैं Mukesh Ambani के कुल संपत्ति और उनके फ्यूचर प्लेन के बारे में खबर में विस्तार से।

 

Aaj Ka Rashifal, 20 अप्रैल : आज इन राशि वालों वालों की होगी बल्ले-बल्ले और इन्हें करना पड़ सकता है परेशानियों का सामना


दुनिया के दिग्गज कारोबारी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी का नाम अरबपतियों की लिस्ट में शुमार है। वहीं, उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज भी दुनिया की वैल्युएबल कंपनियों में शामिल है। मुकेश अंबानी के पास अरबों की संपत्ति है।

 
इतने की है उनकी पर्शनल प्रोपर्टी


परिवार में सबसे बड़े बेटे होने के नाते मुकेश अपने पिता की विरासत (Mukesh his father's legacy) को लगातार आगे बढ़ा रहे हैं। अंबानी परिवार के फंक्शन, शाही शादियों, लक्जरी कारों से लेकर, 4।6 बिलियन डॉलर के 27 मंजिला गगनचुंबी घर एंटीलिया से लेकर सबकुछ काफी आलीशान है। वहीं मुकेश अंबानी ब्लूमबर्ग की लिस्ट के मुताबिक 113 बिलियन डॉलर की नेटवर्थ के साथ दुनिया के 11वें सबसे अमीर शख्स हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं मुकेश अंबानी भारत के पहले खरबपति (Mukesh Ambani India's first trillionaire) हैं? आपको बता दें, साल 2007 में मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 10 अमीरों में शामिल थे और भारत के पहले खरबपति भी थे।

 

UP Weather Update : यूपी में गर्मी से बेहाल होगा लोगों का जीना, अब रात में भी छूटेगा पसीना, जानिये ताजा अपडेट


 
इस साल पहली बार बनें खरबपति


यह अक्टूबर 2007 की बात है, जब बिजनेस टाइकून ने टेक टायकून बिल गेट्स, मैक्सिकन बिजनेस मैग्नेट कार्लोस स्लिम हेलू (The tycoon included tech tycoon Bill Gates, Mexican business magnate Carlos Slim Helu)और बर्कशायर हैथवे के अरबपति निवेशक वॉरेन बफेट को पीछे छोड़ते हुए ग्लोबल अमीरों की लिस्ट में पहली जगह हासिल किया था। 2007 में 63।2 बिलियन डॉलर मूल्य की अंबानी की संपत्ति 13 वर्षों में 25 बिलियन डॉलर से अधिक बढ़ गई। उस समय गेट्स और स्लिम दोनों की संपत्ति 62।29 बिलियन डॉलर थी और वे अमीरों की सूची में दूसरे और तीसरे स्थान पर थे।


 

NABARD ने किसानों को डेयरी लोन देने को किया मना, कह दी यह बड़ी बात


उसी समय, अनिल अंबानी के साथ शेयर बाजार में 100 अरब डॉलर की संपत्ति (billion dollar assets) रखने वाला अंबानी भारत का पहला परिवार बनकर उभरा, तब स्टॉक की कीमतों में तेज उछाल के कारण इसकी संपत्ति 38।5 अरब डॉलर थी। उनकी संयुक्त संपत्ति अमेरिका के वाल्टन परिवार से अधिक आंकी गई थी, जो रिटेल इन्वेस्टर वॉल-मार्ट का मालिक है।


अब और तब के बीच बहुत कुछ बदल गया है क्योंकि दुनिया ने कम से कम दो वैश्विक मंदी (global recession) देखी है, लेकिन फिर भी मुकेश अंबानी आज भी दुनिया के टॉप अमीरों की लिस्ट में 11वें नंबर हैं।

 

UP Weather Update : यूपी में गर्मी से बेहाल होगा लोगों का जीना, अब रात में भी छूटेगा पसीना, जानिये ताजा अपडेट

 

इन हालातों में Mukesh Ambani ने किया था अपने सफर की शुरूआत


मुकेश अंबानी का एशिया का सबसे अमीर व्यक्ति बनने का सफर 1981 में शुरू हुआ, जब उन्होंने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) में अपने पिता की मदद करना शुरू किया। चूंकि आरआईएल पहले से ही दूरसंचार, खुदरा, पेट्रोकेमिकल और शोधन सेवाओं में थी, इसलिए इन क्षेत्रों ने मुकेश की व्यक्तिगत संपत्ति में तेजी से वृद्धि करना शुरू कर दिया। उनके नेतृत्व में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने धीरे-धीरे लेकिन लगातार नई ऊंचाइयां हासिल कीं। 2007 तक, यह बाजार पूंजीकरण के मामले में 100 बिलियन डॉलर का आंकड़ा पार करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई।

 

Income Tax : पति से लिए पैसे तो पत्नी को भरना पड़ेगा टैक्स वरना इनकम टैक्स

समय के साथ रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अन्य क्षेत्रों में भी कदम रखा। जैसे एसईजेड डेवलपमेंट, कपड़ा, मनोरंजन (रिलायंस इरोज), सौर ऊर्जा, लॉजिस्टिक्स और खुदरा व्यापार। मुकेश अंबानी के जरिए उठाया गया सबसे उल्लेखनीय कदम तब था जब उन्होंने टेलीकॉम उद्योग में प्रवेश किया और Jio लॉन्च किया। इस नये उद्यम के कारण पूरे उद्योग जगत को उन्होंने हिलाकर रख दिया। लॉन्च के साथ मुकेश ने टेलीकॉम कारोबार (Mukesh started telecom business) में मौजूदा खिलाड़ियों को भारी घाटे की ओर धकेल दिया और वे एक-दूसरे के साथ विलय करने के लिए मजबूर हो गए।

आने वाले समय के लिए Mukesh Ambani की योजना


मुकेश अंबानी की खासियत ये रही है कि वो आगे की सोच रखते हैं। उनका विजन हमेशा फ्यूचर के हिसाब से रहता है। ऐसे में जो लोग बाद में सोचते हैं वो मुकेश अंबानी पहले ही कर चुके होते हैं। मुकेश अंबानी की आगे की सोच ही उन्हें दूसरे से अलग बनाती है और इसलिए वो आज काफी अमीर है।

Mukesh Ambani के व्यापार की स्ट्रेटजी


किसी भी कारोबार को चलाने के लिए ग्राहकों की काफी आवश्यकता रहती है। बिना ग्राहक कारोबार ज्यादा नहीं चल पाता है। वहीं मुकेश अंबानी को भारत के ग्राहकों की समझ है। उन्हें पता है कि आखिर भारत के ग्राहकों को क्या चाहिए और कैसे भारतीय ग्राहकों को आकर्षित(Attract Indian customers) किया जा सकता है। इसके बल पर उन्होंने एक मजबूत ग्राहक आधार बना रखा है

UP Gold-Silver Price Today : सोने के रेट टॉप लेवल पर, चौंका देगा एक ग्राम का भाव

आज के समय में इतने के हैं मालिक


रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन (Chairman of Reliance Industries) मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 11 अमीरों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। ब्लूमबर्ग की रियल टाइम बिलेनियर्स लिस्ट के अनुसार मुकेश अंबानी की नेटवर्थ अब 113 बिलियन डॉलर (करीब 9।45 लाख करोड़ रुपए) हो गई है।