HBN News Hindi

Bank Loan लेने से पहले जानें ये जबरदस्त टिप्स, बच जाएगा मोटा पैसा

Bank Loan : अगर आप भी लोन लेने के बारे में सोच रहे हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकती है। अपडेटिड रिपोर्ट के अनुसार आपको बता दें कि  आरबीआई ने लोन लेने वालों के साथ फ्रोड न हो इसके लिए नए निर्देश लागु कर दिए हैं। आइए जानते हैं इन नियमों के बारे में विस्तार से।
 | 
Bank Loan लेने से पहले जानें ये जबरदस्त टिप्स, बच जाएगा मोटा पैसा

HBN News Hindi (ब्यूरो) : आज के समय में लोग अक्सर अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए बैंक लोन की मदद (bank loan help) लेते हैं लेकिन जानकारी के अभाव में वह अपने अधिकारों से वंचित रह जाते हैं। अगर आप भी लोन लेने की तैयारी कर रहे हैं तो ये जबरदस्त टिप्स आपको लोन लेते समय होने वालें इन गलतियों से बचा सकता हैं।  आइए जानते हैं बैंक लोन (bank loan) लेने से पहले इस्तेमाल लाए जाने वालें इन दमदार टिप्स के बारे में डिटेल से।
 

Aaj Ka Rashifal, 20 अप्रैल : आज इन राशि वालों वालों की होगी बल्ले-बल्ले और इन्हें करना पड़ सकता है परेशानियों का सामना

 
लोन लेते समय न करें ये चूक


देश में बैंक से लोन लेने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अक्सर देखा गया है कि बैंक से कोई छोटा-मोटा लोन लेने (Bank Loan Tips) से पहले हम किसी परिचित से सलाह-मशवरा लेते है और इन सब के बाद भी कोई न कोई चूक हो जाती हैं।
 

इस तरह करें वित्तीय स्थिति का करें आंकलन


बैंक लोन (Bank Loan) लेने के लिए अप्लाई करने से पहले अपनी वर्तमान वित्तीय स्थिति का मूल्यांकन करना जरूरी है। अपनी आय, हर महीने का खर्च (monthly expenses) और मौजूदा ऋण दायित्वों का आकलन करें। यह विश्लेषण आपको यह तय करने में मदद करेगा कि क्या आप अपने बजट पर दबाव डाले बिना ऋण का मासिक भुगतान (monthly loan payment) उठा सकते है भी या नहीं।

 

 

UP Weather Update : यूपी में गर्मी से बेहाल होगा लोगों का जीना, अब रात में भी छूटेगा पसीना, जानिये ताजा अपडेट


इसके अलावा अपने क्रेडिट स्कोर पर भी ध्यान दें क्योंकि यह लोन अप्रूव होने और ब्याज दरों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लोन चाहिए पर्सनल या होम लेअन हमेशा आपके वित्तीय लक्ष्यों के अनुरूप होना चाहिए, जो आपकी वित्तीय स्थिरता को खतरे में नहीं डाले। मसलन ऐसा न हो कि आप अपनी कमाई का बड़ा हिस्सा लोन उतारने में ही लगा रहे हो।


 

इनकम के हिसाब से बनवाएं अपना इएमआई 


लोन लेते समय दूसरी जरुरी चीज है कि मासिक भुगतान यानी EMI आपके दायरे में होनी चाहिए। ऐसा न हो कि आपकी सैलरी या कमाई एक बड़ा हिस्सा सिर्फ EMI का भुगतान में ही जा रहा है।

इसलिए कहते हैं कि एक चतुर व्यक्ति वो होता है, जो कभी भी उतना मुँह में नहीं डालेगा जितना वह खा न सकें। इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि लोन की EMI आपके दूसरे जरूरी खर्चों पर ज्यादा प्रभाव न डाले।और अगर आप कार लोन ले रहे है तो ध्यान रखे कि EMI नेट मंथली आमदनी का 15% से ज्यादा नहीं होनी चाहिए जबकि पर्सनल लोन के मामले में EMI 10% से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। सभी तरह के लोन के लिए मासिक खर्च आपकी नेट आय का 50 फीसदी से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

 

NABARD ने किसानों को डेयरी लोन देने को किया मना, कह दी यह बड़ी बात


 

कम अवधि के लिए लें लोन


आपने यह जरूर सुना होगा कि लॉन्ग टर्म अवधि के लिए पैसा निवेश करने से कम्पाउंडिंग की पावर कैसे लगती है। खैर, लोन के मामले में यह यह बिल्कुल दूसरे तरीके से काम करता है। लोन की अवधि जितनी लंबी होगी, उधारकर्ता पर ब्याज का बोझ उतना ही ज्यादा होगा।


यदि आप 10 वर्षों के लिए 9.75% पर लोन लेते हैं, तो ब्याज मूल राशि का 57 प्रतिशत होगा। यदि अवधि 15 वर्ष है तो यह आंकड़ा 91 प्रतिशत तक पहुंच जाता है और 20 साल के लोन के मामले में यह 128 प्रतिशत तक पहुंच जाता है।

 

UP Weather Update : यूपी में गर्मी से बेहाल होगा लोगों का जीना, अब रात में भी छूटेगा पसीना, जानिये ताजा अपडेट

 
 

लोन के समय ये इंस्योरेंस जरूर लें


जब आप कोई बड़ा बैंक (Bank Loan) लोन लेनी की सोचते हैं तो उस मामले में सबसे बुरी स्थिति का भी आंकलन करें। अगर बैंक लोन (Bank Loan) लेने वाले व्यक्ति की अचानक मौत हो जाती है तो उसके परिवार पर एक बड़ा बोझ आ जायेगा।

हालांकि, मॉर्गेज लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम जैसी बीमा पॉलिसी से आपके परिवार का ना सिर्फ बोझ घटेगा, बल्कि बैंक लोन की बाकी रकम भी बीमा कंपनी चुकाएगी। इससे आपके परिवार का भविष्य सुरक्षित बना रहेगा।

 

Income Tax : पति से लिए पैसे तो पत्नी को भरना पड़ेगा टैक्स वरना इनकम टैक्स


बिना पड़े न करें इन कागजात पर हस्ताक्षर


किसी भी लोन अग्रीमेंट पर साइन करने से पहले बारीक अक्षरों समेत नियम और शर्तों को अच्छी तरह से पढ़ें और समझें। ब्याज दरें, पुनर्भुगतान अवधि, पूर्व भुगतान शुल्क, देर से भुगतान जुर्माना और कर्ज से जुड़े किसी भी अन्य शुल्क जैसे विवरणों पर ध्यान दें।