HBN News Hindi

Agriculture Land पर घर बनाने से पहले जानें ये कानूनी नियम, वर्ना सरकार तोड़ देगी आपका आशियाना

Agricultural land Update : वर्तमान में महंगाई इतनी बढ़ गई है कि शहर में संपत्ति की कीमतें आसमान छू रही हैं। यही कारण है कि लोग अक्सर खेतो की जमीन पर घर बनाने की सोचने लगते हैं। लेकिन ऐसी जमीन पर घर बनाने से पहले आपको कुछ नियमों को जानना चाहिए। ऐसा न करने पर घर को तोड़ने तक की नौबत आ सकती है। आइए जानते हैं ये कानूनी नियमों के बारे में डिटेल से खबर में।
 
 | 
Agriculture Land पर घर बनाने से पहले जानें ये कानूनी नियम, वर्ना सरकार तोड़ देगी आपका आशियाना

HBN News Hindi (ब्यूरो) : वास्तव में कृषि जमीन पर घर बनाने की अनुमति (Permission to build a house on agricultural land) बिना घर बनाने पर आपके घर को तोड़ा भी जा सकता हैं ।क्योंकि यह खेतिहर जमीन से संबंधित नियमों (rules related to land) के अंतगर्त आता है। लेकिन अगर आप इन जमीनों पर घर बनाने के बारे में सोच रहे हो तो ये नियम आपके लिए अनिवार्य है आइए जानते हैं इन नियमों के बारे में । 
 

Noida में यहां बनने जा रहा सबसे बड़ा कमर्शियल हब, मिलेंगी हाईटैक सुविधाएं

 

खेतिहर जमीन पर घर बनाने से पहले जान लें ये नियम


ऐसा अक्‍सर होता है कि मकान बनाने के लिए ज्‍यादा जमीन नहीं होने पर लोग खेत मे मकान बना लेते हैं। अगर आपकी भी ऐसी कोई प्‍लानिंग (House Planning) है तो जरा रुककर इस खबर को पढ़ लीजिए। ऐसा न हो कि मकान बनाने के बाद उसे तोड़ने की नौबत आ जाए। दरअसल, खेतिहर जमीन से जुड़ा एक नियम (Home Construction Guidelines) है जो आपको बिना जरूरी प्रोसेस के कृषि भूमि पर मकान बनाने की इजाजत नहीं देता है। 

Property News : आपकी प्रोपर्टी पर कब्जा है तो चला सकते हैं गोली लेकिन ये रहेगी शर्तें

 

इन कारणों से हो सकती हैं सजा 


इसके अलावा कुछ लोग खेतिहर जमीन पर प्‍लॉट बनाकर बेच देते हैं। ऐसी जमीन खरीदने पर भी आपका पैसा डूब सकता है। लिहाजा दोनों ही हालात में पैसे गंवाने से पहले इससे जुड़े नियम (Property Guidelines) को समझ लेना ही बेहतर होगा।

Relationship tips : शादीशुदा महिलाओं की इन चीजों को देखकर कंट्रोल खो देते हैं कुंवारे लड़के, हो जाते हैं फिदा

 


इन जगहों पर कैसे जता सकते हैं मालिकाना हक

 

ऐसी भूमि जिस पर किसी भी तरह की फसलों का उत्पादन किया जाता है, वह खेती योग्य भूमि में आती है। आम तौर पर कृषि भूमि (kya khet ki jameen par ghar bana sakte hai) क्षेत्र के हिस्से के रूप में परिभाषित की गई जमीन स्थायी चारागाहों, फसलों और कृषि कार्यों आदि के इस्तेमाल के लिए उपयोग में ली जाती है। इनमें किसानों द्वारा हर साल फसलों का उत्पादन किया जाता है। इस जमीन पर आपका मालिकाना हक (Property Ownership Rights) होने के बावजूद आप इसमें घर नहीं बना सकते हैं। इसके लिए आपको सरकार की ओर से परमिशन लेने की जरूरत होती है।


 

 OPS Demand : वोट उसी को जाएगा, जो बुढ़ापे की लाठी लौटाएगा, कर्मचारी संगठन ने उठाई ओल्ड पेंशन स्कीम की मांग

 


कम्मिटी से लेनी पड़ेगी प्रमिशन


अगर आप खेती की जमीन पर घर बनाना चाहते हैं तो पहले आपको उसका कन्वर्जन कराना (Property Conversion) होता है। उसके बाद ही आप खेती की भूमि पर घर बनवा सकते हैं। हालांकि, कनवर्जन का नियम देश के कुछ ही राज्यों में हैं। बता दें कि जब खेती की जमीन को आवास भूमि में बदला जाता है तो आपको कुछ शुल्क का भुगतान भी करना होता है। इसके अलावा आपको म्यूनिसिपल काउंसिल (Municipal Council Property Rules) या ग्राम पंचायत से एनओसी लेने की भी जरूरत होती है।

 

Chanakya Niti : ऐसे लड़के को देखकर कंट्रोल खो बैठती है शादीशुदा महिला, तड़प उठती है इस काम के लिए

 

पता चलने पर हो सकती है ये जांच

खेती योग्य भूमि को आवास योग्य भूमि में बदलने के लिए आपको कनवर्जन कराना होता है, जिसके लिए कुछ जरूरी दस्तावेजों की जरूरत होती है। इसमें जमीन के मालिक का पहचान पत्र (property conversion kya hai) होना आवश्यक है। इसके साथ ही फसलों का रिकार्ड, किरायदारी, मालिकाना हक भी जरूरी है। वहीं आपसे लैंड यूटिलाइजेशन प्लान, सर्वे मैप, लैंड रेवेन्यू की रसीद भी मांगी जाती है। इसके अलावा उस जमीन पर कोई बकाया राशि या फिर कोई मुकदमा (property conversion kaise karwaaye) नहीं होना चाहिए।