HBN News Hindi

Post Office की इस स्कीम में बिना निवेश के होंगे करोड़ों के फायदे, बस करना होगा ये काम

Post Office Amazing Update : आज तक आपने ये सुना होगा कि इतने के निवेश पर इतना मिलेगा रिटर्न लेकिन आज हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं । जिसमें आपको बिना कुछ निवेश किए भारी रिटर्न मिलने वाला है। आपको बता दें कि ये स्कीम अलग-अलग राज्यों में पोस्ट ऑफिस के द्वारा चलाया गया है। आइए जानते हैं इन स्कीमों के बारे में डिटेल में।
 | 
On the lines of Gulzarbagh sub-post offices

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अगर आप से कहा जाए कि बिना निवेश के भी आपको लाखों के बेनिफिट (Post office news) होने वाले हैं तो आपको कैसा लगेगा। कुछ ऐसी ही स्कीमें इन राज्यों के पोस्ट ऑफिसों में चलाई गई है। जैसे पर्यावारण दिवस पर स्टाफ को सौंपा गया टास्क एक बेहतरीन स्कीम साबित हुई है। आइए जानते हैं इन स्कीम से जुड़ी डिटेल (Post office news update update) के बारे में खबर के माध्यम से।

पर्यावरण दिवस पर लगाने होंगे पेड़


वहीं, पटना साहिब मंडल के डाक अधीक्षक रणधीर कुमार ने लोकल 18 को बताया कि डाक विभाग के चीफ पोस्ट मास्टर (Chief Post Master of Postal Department) जनरल अनिल कुमार ने बिहार में डाक विभाग के हर कर्मचारी को विश्व पर्यावरण दिवस 2024 के अवसर पर कम से कम एक पेड़ लगाने और उसकी सेवा करने का टास्क सौंपा है।


बिहार डाकघर कर्मचारियों को मिला ये काम


यह काम बिहार सर्किल के सभी 245 डाकघरों के कर्मचारी (Employees of 245 post offices) करेंगे। आपको बता दें कि पटना साहिब मंडल के अंतर्गत बाढ़ उपडाकघर और गुलजारबाग उपडाकघर में कई तरह के छायादार पेड़-पौधे लगाए गए हैं।

पटना के डाकघर में हुए ये सुधार


पहले की तुलना में अब यहां की पूरी तस्वीर बदल गई है। गुलजारबाग के पोस्टमास्टर सुनील ने बताया कि इसका पूरा श्रेय डाक विभाग के अधिकारियों के कुशल निर्देशन और उद्यानपाल शैलेंद्र कुमार वर्मा की तत्परता को जाता है। अधीक्षक रणधीर कुमार ने बताया कि पटना साहिब प्रमंडल के उपडाकघर गुलजारबाग (Patna Sahib Division's Sub Post Office Gulzarbagh) में वर्षों से जहां कूड़ा फैला रहता था।

अब ऐसे मिलेगा गर्मी से राहत


वह जगह अब हरा-भरा हो गया है। इससे डाकघर आने वाले लोगों को भी इस भीषण गर्मी में सुकून के कुछ पल मिलेंगे। उन्होंने सभी लोगों से पेड़ लगाने की अपील भी की। डाक अधीक्षक के अनुसार पर्यावरण का सीधा संबंध (Direct connection to the environment scheme) लोगों के आम जीवन से है।

सामाजिक और आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए हुए ये जरुरी बदलाव


वे आगे कहते हैं कि अगर अधिक से अधिक पेड़ लगाए जाएं तो इसका पर्यावरण पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। साथ ही इसका दीर्घकालिक लाभ (long term benefit scheme) यह होगा कि इससे कृषि और वर्षा का पैटर्न भी बदलेगा। इससे हमारी सामाजिक और आर्थिक स्थिति भी सुधरेगी। इसलिए हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए।


डाकघर के इन कार्यशैलियों में हुए बदलाव


आपको बता दें कि बाढ़ और गुलजारबाग उपडाकघरों की तर्ज (On the lines of Gulzarbagh sub-post offices) पर पटना के अन्य डाकघरों के सौंदर्यीकरण का काम भी मुख्यालय स्तर से जोरों पर चल रहा है। डाक विभाग समय के साथ खुद को और अपनी कार्यशैली को बदलता नजर आ रहा है। डाकघर आम लोगों की आस्था का बहुत पुराना प्रतीक है। और लोग धीरे-धीरे इसकी सभी सुविधाओं का लाभ उठा रहे हैं।