HBN News Hindi

Highest Tax pay : ऐसे देश जहां नागरिक अपनी सैलरी का आधा हिस्सा चुकाते हैं टैक्स में, फिर भी हैं मालामाल

Highest tax Pay news : विश्व में कई ऐसे देश है, जहां के नागरिक (income tax)अपनी सैलरी का आधा हिस्सा टैक्स देकर चुकाते हैं लेकिन अचरज की बात यह है कि (Most Tax paying Countries)इन देशों के नागरिक उतने ही खुश भी रहते हैं। क्या आपको पता है ये अधिक टैक्स चुकाने के बावजूद भी खुश क्यों रहते हैं। आइये हम बताते हैं कि कौन से देश है और क्यों चुकाते हैं। 

 | 
Highest Tax pay : ऐसे देश जहां नागरिक अपनी सैलरी का आधा हिस्सा चुकाते हैं टैक्स में, फिर भी हैं मालामाल

HBN News Hindi (ब्यूरो) : कभी सुना है कि अपनी सैलरी का आधा हिस्सा टैक्स देने में (happy people)चुकाते हैं और उतना ही खुश भी रहते हैं। शायद कभी नहीं सुना होगा लेकिन आज (social security)हम आपको ऐसे देश गिनाने जा रहे हैं, जहां के लोग सैलरी का आधा हिस्सा टैक्स देकर चुकाते हैं फिर भी उनके चेहरे खिले रहते हैं। कारण अगर जानोगे तो सुनकर दंग रह जाओगे। तो आइये हम आपको बताने जा रहे हैं कि ये है वे देश जो अपने नागरिकों से अधिक टैक्स वसूलते हैं। 

भारत में अधिकतम 30 फीसद तक चुकाते हैं टैक्स


दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां के नागरिकों को भारत से ज्यादा टैक्स देना पड़ा है। भारत में जहां टैक्स (finland)चुकाने की अधिकतम दर 30 फीसदी है तो कई देशों में यह दर 60 फीसदी तक है। इतना टैक्स देने के बाद भी वहां के लोग काफी खुश हैं। इसका कारण है कि उनकी सरकार अपने नागरिकों को बेहतर सुविधाएं देती है।

ये है वे देश जहां वसूला जाता है अधिक टैक्स 


आइवरी कोस्ट अपने नागरिकों से 60 फीसदी इनकम टैक्स लेता है। वहीं फिनलैंड 56.95 फीसदी इनकम टैक्स वसूलता है। ज्यादा टैक्स के मामले में (इनकम टैक्स)पड़ोसी देश जापान भी पीछे नहीं है। जापान अपने नगारिकों से करीब 55.97 फीसदी तक इनकम टैक्स लेता है। डेनमार्क भी 56 फीसदी टैक्स लेता हैं। इन देशों के अलावा ऑस्ट्रिया 55 फीसदी, स्वीडन करीब 53 फीसदी और बेल्जियम 50 फीसदी तक इनकम टैक्स लेता है।

ये है कारण, इसलिए खुश है इन देशों के नागरिक 


आधे से ज्यादा सैलरी इनकम टैक्स चुकाने में चले (सबसे ज्यादा टैक्स लेने वाले लोग)जाने के बावजूद ये लोग काफी खुश रहते हैं। इसका कारण है कि इनकी सरकार बदले में इन्हें काफी सुविधाएं देती है।

फिनलैंड देता है अपने नागरिकों को राष्ट्रीय पेंशन


फिनलैंड अपने नागरिकों को सामाजिक सुरक्षा के तहत राष्‍ट्रीय पेंशन देता है। यह पेंशन 16 साल से ज्यादा के हर उस शख्स को मिल सकती है जिसे इसकी जरूरत होती है। साथ ही रिटायरमेंट के बाद एम्प्लॉई पेंशन स्कीम के तहत सरकार पेंशन भी देती है। यही नहीं, फिनलैंड सरकार अपने देश के हर नागिरक को हेल्थ इंश्योरेंस भी देती है जिससे हर शख्स का फ्री में इलाज हो सके। लोगों को बेरोजगारी इंश्योरेंस भी मिलता है। रोजगार जाने पर इसका फायदा मिलता है। इनके अलावा और सुविधाएं मिलती हैं। ज्यादा टैक्स लेने वाले कई देश अपने नागरिकों के दिव्यांग होने पर उनके सभी प्रकार के खर्चे उठाती है। इनमें उनका इलाज, रहना और खाना-पीना शामिल होता है।


दुनिया में सबसे ज्यादा खुश लोग रहते हैं फिनलैंड में


ज्यादा टैक्स देने के बावजूद भी फिनलैंड के लोग दुनिया में सबसे ज्यादा खुश रहते हैं। इस साल मार्च में आई संयुक्त राष्ट्र (UN) की एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के खुशहाल देशों में फिनलैंड पहले स्थान पर था। रिपोर्ट के मुताबिक फिनलैंड के लोगों की खुशी के कारणों में सामाजिक सुरक्षा, कम भ्रष्टाचार अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं और सरकारी संस्थाओं पर भरोसा था। अगर भारत की बात करें तो इस रैंकिंग में भारत का स्थान 126वां है। एक ट्रेंड के मुताबिक भारत में वे लोग ज्यादा खुश रहते हैं जिनके पास ज्यादा पैसा होता है।