HBN News Hindi

Happy Birthday SBI…घर बैठे करें लोन के लिए अप्लाई, 1 घंटे से पहले पैसे आपके खाते में

SBI Mudra Loan: अगर आप भी अपना काम शुरु करने के लिए या अपने काम में पूंजी जोड़ने के लिए लोन लेने का विचार बना रहे हैं तो ये स्कीम आपके लिए बेहद काम की साबित होने वाली है। आपको बता दें कि इस स्कीम से आप केवल 59 मिनट में ही 10 हजार रुपये का लोन प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप भी इस स्कीम का लाभ उठाने के बारे में सोच रहे हैं तो इन टर्म एण्ड कंडिशन के बारे में अवश्य जान लें।
 | 
Happy Birthday SBI…घर बैठे करें लोन के लिए अप्लाई, 1 घंटे से पहले पैसे आपके खाते में 

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अक्सर लोग पैसों की जरुरत होते ही सबसे पहले लोन के लिए बैंकिंग या नॉन बैंकिंग कंपनियों की तरफ भागते हैं लेकिन आज हम आपको एक एसबीआई बैंक की एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं । जो आपको कुछ ही मिनटों में 10 हजार का लोन प्रोवाईड (happy birthday sbi) करवा सकता है। दरअसल इस स्कीम की शुरुआत कोरोनाकाल में किया गया था लोगों को छोटे मोटे बिजेनस करने में सहायता प्रदान करने के उद्देश्य (SBI bank news) से। आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में डिटेल से।

 

 

क्या है SBI मुद्रा लोन

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) आज 70 साल का हो गया। इसकी स्थापना 1 जुलाई 1955 को हुई थी। इससे पहले इसे इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया के नाम से जाना जाता था। इस मौके पर SBI ने छोटे कारोबारियों (MSMEs kya hai) के लिए लोन से जुड़ी नई योजना लॉन्च की। इस योजना के तहत मात्र 15 मिनट में एक लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं।

 

इतने देर  में मिल जाएगा एक लाख का लोन

स्टेट बैंक की लोन देने की यह योजना पूरी तरह डिजिटल है। यानी इसके लिए आपको बैंक जाने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। बैंक ने इस स्कीम को ‘MSME सहज’ नाम दिया है। यह पूरी तरह से डिजिटल इनवॉइस फाइनेंसिंग सर्विस है। जिस कारोबारी को लोन चाहिए, उसे जरूरी डॉक्यूमेंट बैंक की ऐप योनो (YONO) पर अपलोड करने होंगे। लोन की मंजूरी मिलने के 15 मिनट के अंदर रकम बैंक अकाउंट में आ जाएगी।

 

 

लोन के आवश्यक डॉक्यूमेंट्स

बैंक ने कहा कि लोन की यह सुविधा SBI के उन्हीं कारोबारियों को मिलेगी जिनके पास GST नंबर (msme loan lene ke liye important document) होगा। साथ ही उनके पास रजिस्टर्ड सेल्स इनवॉइस भी होने चाहिए। बैंक ने बताया कि इस योजना को लाने का उद्देश्य उन छोटे कारोबारियों को आर्थिक मदद देना है जो पैसों की कमी से अपने कारोबार को आगे नहीं बढ़ा पा रहे हैं।

 

ये लोग उठा सकते हैं इस स्कीम का फायदा

इस सुविधा का लाभ लेने के लिए कारोबारी के पास GST नंबर और सोल प्रोप्राइटरशिप फर्म होनी चाहिए।


कारोबारी का SBI में करंट बैंक अकाउंट होना चाहिए।

SBI का इतिहास

स्टेट बैंक की शुरुआत 2 जून 1806 में हुई थी। उस समय इसे बैंक ऑफ कलकत्ता के नाम से जाना जाता था। करीब 34 साल बाद इसका नाम बदल गया। 15 अप्रैल 1940 को इसका नाम बैंक ऑफ बॉम्बे हो गया। 3 साल बाद फिर नाम बदला। 1 जुलाई 1843 को इसका नाम बैंक ऑफ मद्रास (largest government bank) हो गया। यह नाम करीब 78 साल रहा। 27 जनवरी 1921 को इसका नाम फिर बदला और इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया हो गया। आजादी के कई सालों बाद तक इसका नाम यही रहा। 1 जुलाई 1955 को इसका नाम स्टेट बैंक ऑफ इंडिया हो गया।

बैंक की कुल मार्केट कैप

एसबीआई देश का सबसे बड़ा PSU बैंक है। साथ ही यह दुनिया के बेस्ट बैंकों में से एक है। मौजूदा समय में इसकी देशभर में 22 हजार से ज्यादा ब्रांच और 60 हजार से ज्यादा एटीएम हैं। इसके करीब 45 हजार ग्राहक हैं। इस बैंक का मार्केट कैप 7.51 लाख करोड़ रुपये है। बैंक शेयर मार्केट में लिस्टेड है। अभी इसके एक शेयर की कीमत 842.80 रुपये है। इसके शेयर (State Bank of India) ने पिछले 5 साल में करीब 128 फीसदी रिटर्न दिया है।