HBN News Hindi

Gram Price : चने के दामों में बढोतरी का सिलसिला जारी, किसानों को मिल रहा ताबड़तोड़ मुनाफा

Gram Price Update: ताजे अपडेट के अनुसार आपको बता दें कि आज के समय में भारतीय बाजारों की इस तरह के फसलों की जमकर डिमांड होने के कारण इन चीजों के दामों ने अर्श से फर्श तक का सफर तय कर लिया है। अगर आप भी एक किसान हैं तो आपको बता  दें कि ये फसलें आपको जल्दी अमीर (crops get you rich quick) बना देंगी आइए जानते हैं इन फसलों के बारे में डिटेल से।
 
 | 
Gram Price : चने के दामों में बढोतरी का सिलसिला जारी, किसानों को मिल रहा ताबड़तोड़ मुनाफा

HBN News Hindi (ब्यूरो) : किसानों के लिए खुशखबरी की बात हैं कि भारत में इन फसलों की कटाई (harvesting crops) जारी है जो कि अभी पूरी नहीं हुई है लेकिन आपको बता दें कि इन फसलों के दामों में लगातार बढोतरी (Continuous increase in crop prices) देखने को मिल रही है । अगर आप भी एक किसान हैं तो ये फसलें आपको भारी मुनाफा कमाने में मदद कर सकती है आइए जानते है इस अपडेट के बारे में डिटेल से।

 

Aaj Ka Rashifal, 18 अप्रैल : आज इनके के सिर पर सजेगा सफलता का ताज और इनकी नौकरी पर गिर सकती है गाज


इतने रुपये किलो होगा रेट


भारत में किसानों के हित पर बहुत अच्छे से ध्यान दिया जाता है। अभी किसानों में (Farmers News in Hindi) खुशी की लहर दौड़ रही है। इस बार जिन्होंने चने की खेती की है उन्हें अच्छा मुनाफा मिल रहा है। दलहन फसलों की भारी कमी और बढ़ते आयात की वजह से घरेलू बाजार में इसका दाम बढ़ रहा है। इसका सीधा असर अब प्रमुख दलहन फसल चने की कीमतों (Gram Price Hike) पर दिखाई देने लगा है। अभी फसल खेतों से निकल ही रही है फिर भी महाराष्ट्र की कुछ मंडियों में इसका दाम एमएसपी (MSP Price of Gram) से लगभग 2000 रुपये क्विंटल ज्यादा हो गया है। 

 

इन फसलों पर इतने लगाया जाएगा सरकारी रेट

 

राज्य की अधिकांश मंडियों में इस समय दाम 6000 से 7400 रुपये प्रति क्विंटल तक है, जबकि इस साल के लिए चने का एमएसपी 5440 रुपये क्विंटल है। इसलिए किसानों की बल्ले-बल्ले है। इस बार जिन्होंने चने की खेती की है उन्हें अच्छा मुनाफा मिल रहा है। चने का सबसे बड़ा उत्पादक (largest producer of gram) मध्य प्रदेश है जबकि दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र आता है।

 

ATM News : इस लिमिट से ज्यादा पैसा निकालना पड़ेगा मंहगा, जान लें ये अपडेट


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश में दलहन फसलों का आयात (import of pulse crops) पिछले साल से काफी बढ़ गया है। दालों के मामले में भारत की निर्भरता दूसरे देशों पर ज्यादा हो रही है। बड़े पैमाने पर मसूर और तूर दाल का आयात किया गया है। इसलिए चने का उत्पादन करने वाले किसानों को अब फायदा मिल रहा है। चना ही नहीं तूर दाल की खेती करने वालों को भी इस साल बहुत अच्छा दाम मिल रहा है। महाराष्ट्र देश का दूसरा सबसे बड़ा तूर दाल उत्पादक है।

इन कारणों से बढे़ चने के  दाम 


जानकारी के अनुसार इस वर्ष चने का रकबा (area of ​​gram crop) और उत्पादन कम हो गया था इसलिए भी दाम ज्यादा बढ़ गया है। महाराष्ट्र की अधिकांश मंडियों में चने का दाम एमएसपी से ज्यादा चल रहा है। राज्य में प्याज और सोयाबीन का दाम बहुत कम है, लेकिन चने का दाम रिकॉर्ड बना रहा है। 

UP News : योगी सरकार ने दी खुशखबरी, अब इन लोगों को मिलेगा 25 लाख रुपये का लोन, ऐसे उठा सकते हैं फायदा

इतने तारीख को लागु होगें ये दाम 


अभी तो इसकी फसल खेतों से निकली ही है तब दाम का ये हाल है। आने वाले दिनों में दाम और बढ़ सकते हैं।महाराष्ट्र एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड (Maharashtra Agriculture Marketing Board) के अनुसार राज्य की मंडियों में चने की आवक (Arrival of gram in the markets) काफी कम हो गई है। बोर्ड के अनुसार 17 अप्रैल को भीवापुर मंडी में सबसे ज्यादा 1400 क्विंटल की आवक हुई थी। दूसरे नम्बर पर वरोरा था जहां 569 क्विंटल की आवक हुई थी। बाकी मंडियों में 2 से लेकर 80 क्विंटल तक की आवक हुई थी। कम आवक भी दाम बढ़ा रहा है। 

इन बाजारों में किए गए इन दामों को लागु


पुणे मंडी में 17 अप्रैल को 40 क्विंटल चना बिकने के लिए आया। यहां न्यूनतम दाम 6300, अधिकतम 7300 और औसत दाम 6800 रुपये प्रति क्विंटल रहा। 

Gold-Silver Price Today : सोना और चांदी के दामों ने तोड़ा रिकॉर्ड, 10 ग्राम गोल्ड अब बिक रहा इस भाव, यह रही ताजा रेटलिस्ट


शाहदा में 711 क्विंटल आवक हुई। न्यूनतम दाम 7841, अधिकतम 8501और औसत दाम 8176 रुपये प्रति क्विंटल रहा। 


डोंडाईचा जिले मंडी में 464  क्विंटल आवक हुई।  न्यूनतम दाम 6800, अधिकतम 8433 और औसत दाम 8001 रुपये प्रति क्विंटल रहा। 


जालना मंडी (Jalna Mandi) में सिर्फ 15 क्विंटल आवक हुई। यहां न्यूनतम दाम 6600, अधिकतम 6901 और औसत दाम 6901  रुपये प्रति क्विंटल रहा।