HBN News Hindi

EPFO ने बदल दिया ये खास नियम, अब ऐसे हो जाएगा रिटर्न डबल

EPFO Update : अगर आप भी एक पीएफ अकाउंट होल्डर हैं तो आपको बता दें कि अब इपीएफओ ने अपने नियमों में भारी बदलाव कर दिए जिसके मुताबिक अब PF होल्डर को इन तरीकों से डबल पीएफ की सुविधा दी जाएगी। आइए जानते हैं EPFO के नियमों में हुए इन बदलावों के बारे में डिटेल से।
 
 | 
EPFO ने बदल दिया ये खास नियम, अब ऐसे हो जाएगा रिटर्न डबल

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अगर आप भी एक PF अकाउंट होल्डर हैं तो आपको बता दें कि  EPFO ने मेडिकल संबंधी एडवांस विड्रॉल के नियमों को बदल दिया है। अब क्लेम की सीमा एक लाख रुपये है, जबकि पहले वह 50,000 रुपये थी। 16 अप्रैल को जारी किए गए सर्कुलर से इसकी जानकारी मिली है। ईपीएफओ ने एक सर्कुलर जारी किया है आइए जानते हैं इस नियम के बारे में विस्तार से।

 

Chanakya Niti : पति से संतुष्ट न होने पर महिला करती है ऐसे इशारे, ऐसे समझें फटाक से

 

EPFO New Rules: अगर आप भी नौकरीपेशा है तो आपके फायदे की खबर है. EPFO की तरफ से नौकरी करने वालों को बड़ी राहत मिल गई है. ईपीएफओ ने पैसा निकालने के नियमों में बदलाव कर दिया है. अब पैसा निकालने की लिमिट (epf withdrawal limit) को डबल कर दिया गया है. हालांकि, EPFO ने इलाज के लिए पैसा निकालने की राशि को दोगुना कर दिया है. आइए आपको बताते हैं कि अब आप कितना पैसा निकाल सकते हैं?

 
 इतने का एडवांस लेना होगा आसान
 

EPFO की तरफ से मेडिकल संबंधी एडवांस विड्रॉल के नियमों में बदलाव कर दिया गया है. पहले यह क्लेम की लिमिट 50,000 रुपये थी और अब इसको बढ़ाकर 1 लाख रुपये कर दिया गया है. 16 अप्रैल को जारी किए गए सर्कुलर से इस बारे में पता चला है. ईपीएफओ की तरफ से जारी सर्कुलर के मुताबिक, अब आप 1 लाख रुपये की निकासी कर सकते हैं। 

 Delhi-NCR Weather Today : दिल्ली में बारिश के बाद होगा मौसम कूल, तेज आंधी का अलर्ट जारी

पैराग्राफ 68J के तहत ईपीएफ ग्राहकों को चिकित्सा जरूरतों के लिए एडवांस मांगने की अनुमति मिलती है। इन परिस्थितियों में लंबे समय तक अस्पताल में भर्ती रहना, बड़ी सर्जरी और टीबी, लेप्रोसी, पैरालिसिस, कैंसर, मानसिक बीमारी या दिल की बीमारियां शामिल हैं।

Senior Citizen की हो गई मौज, अब मामूली निवेश पर मिलेगा धाकड़ रिटर्न


इस बात का ध्यान रखें कि अपडेटेड प्रोविजन (Updated provision) में अतिरिक्त दस्तावेज जैसे मेडिकल प्रमाणपत्र की आवश्यकता नहीं है, जिससे ग्राहकों के लिए क्लेम का प्रोसेस आसान हो जाता है।


 

Triumph Tiger 900 : लग्जरी कार से भी महंगी है यह बाइक, कीमत जानकर रह जाओगे हैरान

इन कारणों से ले सकते हैं एडवांस
अधिकतम एडवांस रकम ईपीएफ मेंबर की बेसिक सैलरी(basic salary), महंगाई भत्ता, व्यक्तिगत योगदान और ब्याज के आधार पर निर्धारित की जाती है। मालूम हो कि चिकित्सा खर्चों के अलावा, ईपीएफ ग्राहक शादी, घर खरीदने, लोन चुकाने या घर के रेनोवेशन के लिए भी अपने अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं।