HBN News Hindi

Salary लेने के लिए न करें इस अकाउंट का इस्तेमाल, वर्ना हो जाएगा भारी आर्थिक नुकसान

Saving Account Update: अगर आप भी अपने वेतन के लिए सेविंग अकाउंट का प्रयोग कर रहे हैं तो हो जाएं सावधान! आपको बता दें कि सेविंग अकाउंट और सेलरी अकाउंट में भारी अंतर होता हैं । Saving Accountमें बारे ज्यादा ट्रांजेक्शन होने के कारण आपको इन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जानें पूरी डिटेल इस खबर में।
 
 | 
Salary लेने के लिए न करें इस अकाउंट का इस्तेमाल, वर्ना हो जाएगा भारी आर्थिक नुकसान

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अगर आप भी किसी संस्ता या कंपनी (firm or company) में नौकरी करते हैं और आपकी सेलरी सेविंग अकाउंट में आती है तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी हैं आपको बता दें कि सेलरी अकाउंट और सेविंग अकाउंट में भारी अंतर होता हैं । अगर आपने अभी तक अपना सेलरी अकाउंट ऑपन (salary account open)नहीं करवाया है तो आपको आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ सकता हैं जानिए पूरी डिटेल खबर में विस्तार से । 
 

Aaj Ka Rashifal, 16 अप्रैल : आज इन राशि वालों की खुशी का नहीं रहेगा ठिकाना और इन्हें करना पड़ सकता है परेशानियों का सामना

 
वेतन के उपयोगी खातें की जानकारी


सभी नौकरीपेशा लोगों के पास एक बैंक अकाउंट (bank account) होता है जिसमें हर महीने उनकी सैलरी जमा होती है। सभी कंपनियों का किसी न किसी बैंक के साथ टाई-अप होता है जिसमें वे अपने कर्मचारियों के सैलरी अकाउंट खुलवाती है। हालांकि, कई लोग अपने सेविंग्स अकाउंट में भी सैलरी लेते हैं। ऐसे में आपके मन में यह सवाल उठ सकता है कि ये दोनों अकाउंट अलग कैसे हैं और क्या सेविंग्स अकाउंट में सैलरी (Salary in savings account) लेने पर कोई नुकसान हो सकता है?

 

Amazing News : गजब का प्लान, अब घड़ी में 12 के बजाय बजेंगे 13 और यहां 26 घंटे का होगा दिन!


सेलरी अकाउंट के बिना नहीं उठा सकते हैं ये लाभ


आपको बता दें कि सैलरी अकाउंट और सेविंग्स अकाउंट (savings account) दोनों के अपने अपने फायदे होते हैं। इसे आप जरूरत के मुताबिक खुलवा सकते हैं। अगर आपकी सैलरी सेविंग्स अकाउंट में जमा होती है तो इसका कोई नुकसान नहीं है। हालांकि, इससे आपको सैलरीड एम्प्लॉई (salaried employee) होने के बावजूद सैलरी अकाउंट के बेनिफिट्स नहीं मिल पाते हैं।

 
सैलरी और सेविंग अकाउंट में अंतर


सैलरी अकाउंट कंपनियों (salary account companies) के कहने पर खोला जाता है। किसी भी संस्था के सभी कर्मचारियों को अपना सैलरी अकांउट मिलता है जिसमें हर महीने उनकी सैलरी आती है। जबकि सेविंग्स अकाउंट कोई भी व्यक्ति खुलवा सकता है। आम तौर पर जो लोग नौकरीपेशा या सैलरीड नहीं होते हैं, वे अपने फाइनेंस को मैनेज करने के लिए सेविंग्स अकाउंट (savings account) खोलते हैं। उन्हें इससे ब्याज कमाने वाला डिपॉजिट अकाउंट मिल जाता है।

 

OPS Demand : वोट उसी को जाएगा, जो बुढ़ापे की लाठी लौटाएगा, कर्मचारी संगठन ने उठाई ओल्ड पेंशन स्कीम की मांग


 
ओवरड्राफ्ट की सुविधा


अगर आपके पास सैलरी अकाउंट है तो आपको इसमें मिनिमम बैलेंस मैंटेन (Minimum balance maintained) रखने कोई जरूरत नहीं होती है। सैलरी अकाउंट के साथ आपको एक निजी चेक-बुक भी मिलती है। अगर आपका अकाउंट कम से कम दो वर्ष या इससे ज्‍यादा पुराना है तो आपको इसमें ओवरड्राफ्ट की सुविधा भी मिलती है। ओवरड्राफ्ट रकम की लिमिट दो महीने के बेसिक सैलरी जितनी होती है। ओवरड्राफ्ट की सुविधा के तहत अगर आपके बैंक आकउंट में कोई बैलेंस नहीं है, तो भी आप एक तय लिमिट तक पैसे निकाल (Withdraw money up to limit) सकते हैं। वहीं सैलरी अकाउंट धारक की मृत्‍यु होने पर बीस लाख रुपये तक का पर्सनल एक्‍सीडेंट इंश्‍योरेंस भी मिलता है। अगर किसी के सैलरी अकाउंट में लगातार तीन महीने तक कोई सैलरी नही आती है तो बैंक उसे जनरल अकाउंट में बदल देता है।

IMD Rain Alert : इस बार मानसून सीजन में जमकर होगी बरसात, किसानों को मिल सकती है बंपर पैदावार की सौगात


 
रिजर्व बैंक के नियम


आप अलग अलग बैंकों में कई सेविंग्स अकाउंट (savings account) खुलवा सकते हैं। सभी सरकारी और निजी बैंक अपने सेविंग्स अकाउंट पर एयर एक्सीडेंट (air accident) समेत लाइफ इंश्योरेंस कवर ऑफर कर रहे हैं। कुछ बैंक इसके लिए बहुत कम शुल्क लेते हैं जबकि कुछ बैंक इसे बिलकुल मुफ्त में देते हैं। आपके सेविंग्स अकाउंट में जमा राशि पर 5 लाख रुपये तक की पूंजी पर रिजर्व बैंक कवर देता है।
 

Relationship tips : शादीशुदा महिलाओं की इन चीजों को देखकर कंट्रोल खो देते हैं कुंवारे लड़के, हो जाते हैं फिदा

 

सेविंग्स अकाउंट होल्डर्स को फ्री एयरपोर्ट 
 

आमतौर पर सामान्य सेविंग्स अकाउंट कस्टमर्स दूसरे बैंकों के एटीएम से 10,000 रुपये और अपने बैंक से अधिकतम 25,000 रुपये ही निकाल सकते हैं। लेकिन, प्रीमियम सेविंग्स अकाउंट होल्डर्स को एक दिन में 1 लाख रुपये तक की निकासी की इजाजत मिलती है। कई बैंक अपने प्रीमियम सेविंग्स अकाउंट होल्डर्स (Premium Savings Account Holders) को फ्री एयरपोर्ट लाउंज एक्सेस देते हैं।