HBN News Hindi

Dearness Allowance : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! जल्द ही खाते में आ सकता है 18 महीने से रुका डीए

Dearness Allowance Update: ताजा रिपोर्ट के अनुसार आपको बता दें कि अगर आप भी एक सरकारी कर्मचारी हैं तो ये खबर आपके लिए गुड न्यूज होने वाली है। जी हां आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों को 18 महीने का बकाया डीए नहीं दिया है। लेकिन जल्द ही सरकार इस पर बड़ा फैसला ले सकती है।
 | 
Dearness Allowance : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! जल्द ही खाते में आ सकता है 18 महीने से रुका डीए

HBN News Hindi (ब्यूरो) : बढ़ते महंगाई के दौर में सरकार ने कराई केंद्रिय कर्मचारियों की मौज! जी हां आपको बता दें कि जल्द ही केंद्रिय कर्मचारियों के डीए में भारी बढ़ोतरी करने की घोषणा कर चुकी है। लेकिन इससे भी बड़ी खबर ये है कि कर्मचारियों को लंबे समय से रुका हुए डीए (DA hike news) अब एक साथ मिलने वाला है। आइए जानते हैं इस अपडेट के बारे में डिटेल (pending DA paid by central govt.) से जानते हैं खबर के माध्यम से।

 

कर्मचारी संगठनों की मांग पर सरकार की प्रतिक्रिया


देश के लाखों सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा मिलने वाला है। कारोनाकाल में फ्रीज किए गए महंगाई भत्‍ते (DA) के पैसे को सरकार अब जारी कर सकती है। महामारी की आपदा में साल 2020 से 2021 तक सरकार ने 18 महीने का डीए का पैसा फ्रीज कर दिया था। इसे लेकर कई बार कर्मचारी संगठनों ने मांग की, लेकिन इस बार उम्‍मीद जताई जा रही कि सरकार अपने कर्मचारियों को तोहफा दे सकती है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि इस बार कर्मचारी संगठनों ने वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) के साथ पीएम मोदी के पास भी अपनी सिफारिश भेजी है।


नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर किया आग्रह 


इस बार 18 महीने के बकाया डीए के लिए केंद्रीय कर्मचारियों की संयुक्‍त सलाहकार मशीनरी राष्‍ट्रीय परिषद (staff side) के सचिव शिव गोपाल मिश्र ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि कोरोनाकाल में सरकारी कर्मचारियों ने अपना दायित्‍व बखूबी निभाया और अब उन्‍हें रोके गए डीए का भुगतान किया जाना चाहिए।

 


कर्मचारियों को कितने मिलेगा बकाया


सरकार हर साल 2 बार महंगाई भत्‍ता बढ़ाती है। एक बार जनवरी में और दूसरा जुलाई में। 2020 में कोरोना महामारी की वजह से आर्थिक चुनौतियां आईं और तब तीन बार का डीए फ्रीज कर दिया गया था। पीएम मोदी को भेजे पत्र में कर्मचारी संगठनों ने 14 मांगें उठाई हैं और इसमें 18 महीने का बकाया डीए जाने का आग्रह (dearness allowance hike) भी शामिल है।

 


वित्त मंत्रि को भेजनी पड़ी अर्जी


इससे पहले जनवरी में भारतीय प्रतीक्ष मजदूर संघ के महासचिव मुकेश सिंह ने वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर जनवरी 2020 से जून 2021 के बीच फ्रीज किए गए 18 महीने के डीए को जारी करने का आग्रह किया था। उन्‍होंने सरकार से कोरोनाकाल के दौरान कर्मचारियों के योगदान (requaste for hold dearness allowance ) और बलिदान की दुहाई भी दी थी।

 


लोकसभा के इस ब्यान ने पलटा खेल


इससे पहले बीते साल केंद्रीय वित्‍त राज्‍य मंत्री पंकज चौधरी ने लोकसभा में कहा था कि महामारी के दौरान कर्मचारियों का डीए रोकने का फैसला देश पर आर्थिक बोझ को कम करने के लिए किया गया था। अभी भी देश का राजकोषीय (country's fiscal) घाटा देाहरे अंकों में चल रहा है। लिहाजा कर्मचारियों का रोका गया डीए जारी करना संभव नहीं है।