HBN News Hindi

Business News : बिजनेस शुरू करने के लिए पैसा नहीं है तो टेंशन लेने की जरूरत नहीं, इस विकल्प को अपनाकर शुरू कर सकते हैं अपना कारोबार

Business Update News : कोई भी बिजनेस शुरू करना है (Bootstrapping)लेकिन आपके पास पैसों की कमी है तो (Business)घबराने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि हम आपको ऐसा आइडिया बताने जा रहे हैं कि जिससे एक नहीं कई समस्याएं चुटकियों में खत्म हो जाएगी और आप बिना पैसे के भी अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं। हालांकि इस विकल्प को इस्तेमाल करने से पहले आपको ये बातें भी पता होनी चाहिए ताकि भविष्य में आपको कोई बड़ा नुकसान न हो जाएं। 

 | 
Business News : बिजनेस शुरू करने के लिए पैसा नहीं है तो टेंशन लेने की जरूरत नहीं, इस विकल्प को अपनाकर शुरू कर सकते हैं अपना कारोबार

HBN News Hindi (ब्यूरो) : हर कोई चाहता है कि वह जो काम कर रहा है उसमें किसी भी (startup)प्रकार की कोई चिंता न हो और सब उसके हिसाब से चलें। इसलिए सबसे ज्यादा लोग खुद का बिजनेस करने की सोचते हैं लेकिन पैसों की कमी के कारण हर कोई खुद का बिजनेस शुरू नहीं कर पाता है। लेकिन जैसे ही बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचोगे तो पैसों का विचार सबसे पहले आएगा। ये भी हर किसी के बस (money for business)की बात नहीं है कि उसके पास उतने पैसों हो, जिससे कि वह बिजनेस शुरू कर सकें। तो हम आपके ऐसा विकल्प बताने जा रहे हैं कि (बूटस्ट्रैपिंग)आपको अपना खुद का बिजनेस शुरू करने में आसान होगी। तो आइये देर किस बात की, हम आपको आगे बताने जा रहे हैं कि क्या विकल्प है। 

 

 

 

 

 

 

यह होता है Bootstrapping


किसी भी इन्वेस्टर या बैंक लोन की मदद लिए बिना खुद की रकम लगाकर स्टार्टअप शुरू करना बूटस्ट्रैपिंग (Bootstrapping) कहलाता है। इसमें कई बार पैरंट्स या उन रिश्तेदार की मदद ले लेते हैं जिसे रकम लौटानी नहीं होती। अगर स्टार्टअप शुरू करना है तो उसके प्री-सीड स्टेज के लिए Bootstrapping अच्छा विकल्प होता है।

 

 

 

ये हैं Bootstrapping के फायदे


आप कंपनी के मालिक होते हैं और कंपनी पर आपका पूरा कंट्रोल रहता है। आप अपने हिसाब से काम कर सकते हैं।
बिजनेस में आप कई एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं। अगर कोई (बिजनेस)एक्सपेरिमेंट फेल हो जाए तो चिंता की बात नहीं होती।
अगर किसी कारण से बिजनेस फेल हो जाता है तो इस बात की चिंता नहीं रहती कि किसी को रकम लौटानी होगी।
बिना किसी इन्वेस्टर की मदद से जब आपका (स्टार्टअप)बिजनेस सफल हो जाता है तो यह अपने आप में एक प्राइज मिलने वाला जैसा होता है।
इस बात की चिंता नहीं रहती कि बिजनेस पर फोकस सिर्फ और सिर्फ पैसा कमाने पर होगा। कई बार शुरुआत में बिजनेस पर फोकस उसे जमाने के लिए भी होता है।

ये हैं Bootstrapping के नुकसान


अपनी जमा पूंजी बिजनेस में लगाना जोखिम भरा भी होता है। अगर बिजनेस सफल नहीं हुआ तो जमा पूंजी डूब जाती है और फिर कर्जे में पड़ सकते हैं।
कई बार जमा पूंजी स्टार्टअप को शुरू करने में ही खर्च हो जाती है। अगर बिजनेस का विस्तार (बिजनेस के लिए फंड)करना हो तो रकम न होने से वह नहीं हो पाता है। ऐसे में लोन लेना या किसी से पैसा उधार मांगना पड़ सकता है।
बिजनेस के अवसर सीमित रहते हैं। कई बार बिजनेस अपनी पूरी क्षमता तक (क्या होता है बूटस्ट्रैपिंग )नहीं पहुंच पाते।
बिजनेस में खर्च सीमित हो जाते हैं। कई बार छोटी-छोटी जरूरत के लिए भी रकम सोच-समझकर खर्च करनी पड़ती है।