HBN News Hindi

Bank News : अकाउंट पर मिलेगा तीन गुना ब्याज, बैंक वाले से जाकर कह दो बस ये बात

Auto Sweep Service : आज के समय में हर किसी के पास कम से कम एक सेविंग खाता जरूर होता है। जिसके जरिये वह बैंकिंग सुविधाओं का (Auto Sweep Facility) इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन आपको बता दें अब आप इन खातों में (Bank Hidden Service) पैसे जमा करके अच्छी खासी रिटर्न को प्राप्त कर सकते हैं। आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से।
 | 
Bank News : अकाउंट पर मिलेगा तीन गुना ब्याज, बैंक वाले से जाकर कह दो बस ये बात

HBN News Hindi (ब्यूरो) : क्या आप भी निवेश करने के लिए बेहतरीन अवसर की जांच करते रहते हैं। लेकिन लॉन्ग टर्म में पैसे (paiso per jyada return kaise milega) फंसने के कारण निवेश करना पसंद नहीं करते हैं। अगर आप रिटर्न अर्न करने के बारे में सोच रहे हो तो अब आप आसानी से सेविंग (Auto Sweep Service) खाता में पैसे जमा करके भी अच्छा रिटर्न अर्न कर सकते हैं। बस आपको इन स्टेप्स को फॉलो करके करना होगा। आइए जानते हैं इन तरीकों के बारे में डिटेल से।

 


ग्राहकों के लिए एक खास सुविधा 


बैंक जमा पर आमतौर पर कम ब्याज मिलता है, लेकिन आप अपने बचत खाते या चालू खाते (Interest Rate on Saving Account) पर अधिक ब्याज भी पा सकते हैं। हर बैंक अपने ग्राहकों को एक खास सुविधा मुहैया कराता है, लेकिन इसके बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं होती है। इस सेवा का नाम (Saving Account Interest Rate)ऑटो स्वीप सर्विस है, इसके जरिए आप अपने खाते पर तीन गुना तक ज्यादा ब्याज पा सकते हैं। इस लाभ का लाभ उठाने के लिए आपको बस बैंक जाना होगा और इस सेवा को सक्षम करने के लिए कहना होगा।

 


कर देता है एफडी में ट्रांसफर 


ऑटो स्वीप सेवा एक ऐसी सुविधा है जो ग्राहकों को अधिशेष निधि (High Interest Rate Scheme) पर अधिक ब्याज प्राप्त करने में मदद करती है। अगर आप इसे इनेबल करते हैं तो आपके सेविंग अकाउंट में जमा रकम एक तय सीमा से ज्यादा होने या सरप्लस फंड होने की स्थिति में यह अपने आप उसे फिक्स्ड डिपॉजिट यानी एफडी में ट्रांसफर कर देता है। ऐसे में आपको बचत खाते पर ब्याज की जगह बैंक एफडी पर ब्याज दर का लाभ मिलता है।

कैसे काम करती है ये सर्विस


बैंक द्वारा प्रदान की जाने वाली इन लाभकारी सेवाओं को सरल भाषा में समझें तो यदि आपने अपने बचत खाते पर ऑटो स्वीप सेवा सक्षम कर रखी है तो आप इस सेवा से खोले गए (Sbse jyada intrest kis per milta h)  खाते पर अधिक ब्याज प्राप्त कर सकते हैं। दरअसल, जब आपके बचत या चालू खाते में जमा रकम स्वीप सीमा को पार कर जाती है तो ऑटो स्वीप सुविधा सक्रिय हो जाती है। इसके काम करने के तरीके पर नजर डालें तो आपको अपने खाते में एक सीमा तय करनी होती है और उसके बाद आपकी जमा राशि सीधे एफडी में बदल जाती है।

अब मान लीजिए कि आपने खाते में 20,000 रुपये की सीमा तय की है और इस खाते में 60,000 रुपये जमा किए हैं, तो इस सेवा के तहत 20,000 रुपये से अधिक की राशि यानी 40,000 रुपये की अतिरिक्त राशि एफडी में बदल जाएगी और इस राशि पर ब्याज मिलेगा। संबंधित बैंक में सावधि जमा पर उपलब्ध ब्याज दर के अनुसार दिया जाएगा, जबकि 20,000 रुपये की जमा पर बचत खाते पर निर्धारित ब्याज ही दिया जाएगा।


ऑटो स्वीप के और भी कई फायदे


ऑटो स्वीप सेवाओं में आप बैंक खाते पर एफडी के बराबर ब्याज (Bank Hidden Service) आसानी से प्राप्त कर सकते हैं, इसके साथ ही इस सेवा के कई अन्य लाभ भी हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आपके खाते में जमा पैसे पर अधिक रिटर्न मिलना ग्राहक को अधिक बचत करने के लिए प्रेरित करता है। इससे लोगों की नियमित बचत भी बढ़ती है।

इसके अलावा इस सुविधा के जरिए आप अपने खर्चों को ट्रैक कर सकते हैं और बजट भी निर्धारित कर सकते हैं। ऑटो स्वीप सर्विस में आपको मैन्युअल तरीके से एफडी में पैसे ट्रांसफर करने की झंझट से छुटकारा मिल जाता है, क्योंकि यह एक स्वचालित प्रक्रिया है।

ब्याज FD जैसा, लेकिन इस्तेमाल बचत खाते जैसा


आमतौर पर बैंक खाते में बचत पर बैंक औसतन 2.5 फीसदी का ब्याज देते हैं। हालाँकि, यह हर बैंक में अलग-अलग होता है। एफडी पर औसत ब्याज दर 6.5 से 7 फीसदी है. यानी खाते में जमा रकम पर तीन गुना तक ज्यादा ब्याज का फायदा।


लेकिन आप इसे सेविंग अकाउंट की तरह ही ट्रीट कर सकते हैं यानी एफडी में तब्दील पैसे को आप जब चाहें निकाल सकते हैं, जबकि फिक्स्ड डिपॉजिट पर आप मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने से पहले इसे नहीं निकाल सकते.
इसका मतलब है कि ऑटो स्वीप सर्विस को एक्टिवेट करने से आपको न सिर्फ अपनी बचत पर एफडी के बराबर ब्याज मिलेगा, बल्कि इसे अपने खाते की बचत की तरह इस्तेमाल भी कर पाएंगे।