HBN News Hindi

Bank Account : बैंक में इससे ज्यादा न रखे पैसा, वर्ना दिवालिया होने पर पड़ सकता है रोना

Bank Deposit Security: अगर आप भी अपनी सारी सेविंग अकाउंट में रखना पसंद करते हैं तो आपको बता दें कि आज के समय में कभी भी किसी भी बैंक का दिवालिया हो सकता है इसलिए कभी भी बैंक अकाउंट में पैसे जमा करवाते समय इन बातों को ध्यान में रखकर ही सेविंग अकाउंट (savings account) में पैसा जमा करवाना चाहिए । आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से ख्बर के माध्यम से ।
 
 | 
Bank Account : बैंक में इससे ज्यादा न रखे पैसा, वर्ना दिवालिया होने पर पड़ सकता है रोना

HBN News Hindi (ब्यूरो) : आज के मॉडर्न जमाने लोग (modern day people) बैंक में पैसा जमा करवाना सुरक्षित विकल्प मानते हैं लेकिन लोग बैंक के डूबने के बारे में भूल जाते हैं । क्योंकि इसकी संभावना कम होती है लेकिन आपको बता दें कि हमें ऐसी आपतकालीन स्थति के लिए पहले से ही तैयार रहना चाहिए । आइए जानते हैं इस खबर में उस रकम के बारे में बैंक डूब जाने पर (About the amount if the bank collapses) आपको लौटाया जा सकत हैं जानें पूरी डिटेल खबर में ।

 

Weather Update : मौसम दिखाएगा अलग-अलग तेवर! कहीं आंधी-तूफान, कहीं बारिश तो कहीं लू करेगी परेशान


बचत खाते में इतना रखें पैसा 


बैंक खाता तो हर कोई इस्‍तेमाल करता है। अपने सेविंग अकाउंट यानी बचत (Savings bank account) खाते में पैसे भी लोग जमा रखते हैं। लेकिन, क्‍या आपको यह पता है कि एक बचत खाते में कितना पैसा रखना सुरक्षित होता है। बैंक डूबे या दिवालिया (Bank Bankrupt)  हो जाए आपका एक भी पैसे का नुकसान नहीं होगा। इससे ज्‍यादा पैसे जमा करने पर आपकी रकम चली जाएगी।


कितना पैसा रखना सुरक्षित 


सरकार ने जनधन खाता खोलने की योजना (Government Jan Dhan Account) चलाई जिसके बाद हर किसी के पास अपना खाता हो गया। जनधन योजना के तहत ही देशभर में करीब 45 करोड़ खाते खोले गए। लेकिन, अपने खाते में कितना पैसा रखना सुरक्षित (Safe bank account) होता है, यह बात शायद ही किसी को पता होगी। वैसे तो बैंक जल्‍दी डूबते या दिवालिया नहीं होते, लेकिन ऐसे भी कई उदाहरण हैं जहां बैंक दिवालिया हो चुके हैं। हाल में यस बैंक के सामने ऐसा ही मामला आया था, जहां दिवालिया होने (bank kab diwaliya hota hai) की नौबत आ गई थी।

 

2000 के नोट के बाद अब RBI ने इन सिक्कों को लेकर कह दी यह बड़ी बात, जान लें काम का अपडेट

बैंक इन कारणो से होती है दिवालिया


ऐसा नहीं है कि बैंकों में रखा आपका पैसा हमेशा सुरक्षित (kya bank mein rakha paisa safe hai) रहता है। मान लीजिए किसी बैंक में चोरी या डकैती हो गई अथवा किसी आपदा में नुकसान हो गया तो आपके पूरे पैसों पर बैंक कोई गारंटी नहीं देते। ऐसे में यह जानना और जरूरी हो जाता है कि आखिर कितनी रकम लौटाने की जिम्‍मेदारी बैंकों (Bank safe money guaranty ) पर होती है। उससे ज्‍यादा पैसे आपको नहीं दिए जाएंगे। भले ही आपने खाते में कितनी भी रकम क्‍यों न जमा कर रखी हो।


 

कितने गारंटी लेता हैं बैंक


अब हम आपको बताएंगे कि किसी नुकसान की स्थिति में आखिर बैंकों पर कितना पैसा लौटाने की जिम्‍मेदारी रहती है। डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन एक्ट (Deposit and credit guarantee and Corporation act) 1961 की धारा 16 (1) के तहत बैंक में किसी भी रूप में जमा आपके पैसों पर सिर्फ 5 लाख रुपये तक ही गारंटी रहती है। इससे ज्‍यादा का पैसा जमा है तो बैंक का नुकसान होने की स्थिति में डूब जाएगा। रिजर्व बैंक का डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) आपके जमा पैसों की गारंटी लेता है, लेकिन ध्‍यान रहे कि यह पैसा किसी भी सूरत में 5 लाख से ज्‍यादा न हो।

 2000 के नोटों का अब क्या होगा, RBI ने कह दी यह बड़ी बात

इस तरीके से करती है भुगतान


ऐसा नहीं है कि एक बैंक ही आपकी 5 लाख तक की रकम की गारंटी देता है। आपके अलग-अलग खाते में कितना भी पैसा जमा हो, सब मिलाकर उस पर 5 लाख तक की ही गारंटी रहेगी। भले यह पैसा आप सेविंग अकाउंट (kya FD mein paisa safe hai) में रखें या चालू खाते में अथवा एफडी (fixed deposit)  कराएं। कुल मिलाकर आपको 5 लाख रुपये लौटाने के लिए ही बैंक बाध्‍य होंगे।