HBN News Hindi

Anil Ambani पर फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन को लेकर मामला दर्ज, करोड़ों का लगा जुर्माना

Anil Ambani Update: जैसा कि आप सब जानते हैं कि अंबानी परिवार देश के सबसे बड़े उद्दोगपतियों में से एक है । लेकिन आपको बता दें मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी जो कि Reliance Capital के ऑनर हैं उन पर सरकार फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन के मामले को लेकर केश दर्ज किया है आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से।
 | 
Anil Ambani पर फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन को लेकर मामला दर्ज, करोड़ो लगा जुर्माना

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अपडेटिड रिपोर्ट के अनुसार Reliance Capital जो कि पिछले महीने जोर शोर से तरकी की तरफ बढता जा रहा था। आपको बता दें कि इसकी रफ्तार पर रोक लगा दी गई है जिसका कारण उनके CA को बताया जा रहा है। जीहां इस कंपनी के फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन में गड़बड़ी के कारण इस कंपनी पर करोड़ो का जुर्माना (fine worth crores)लगा दिया गया है। आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से।

 

Petrol-Diesel Price Today : पेट्रोल-डीजल के नए रेट लागू, अब मिलेंगे इस भाव


 NFRA का फैसला


 नेशनल फाइनेंशियल रिपोर्टिंग अथॉरिटी (NFRA) ने अनिल अंबानी (Anil Ambani) की कंपनी रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) से जुड़े फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन के मामले में बड़ी कार्रवाई की है। अथॉरिटी ने गड़बड़ी के आरोप में दो चार्टर्ड अकाउंटेंट्स को पांच से दस साल तक के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। साथ ही उन पर और एक ऑडिट फर्म पर तीन करोड़ रुपये तक का फाइन भी लगाया है।
 

Loan News : अब लोन देने से पहले यह करने जा रहे बैंक, जानिये RBI का खास अपडेट

 

ये पूराने मामलें आए सामने

 

आरबीआई ने 29 नवंबर, 2021 को भुगतान में चूक और गवर्नेंस से जुड़ी गंभीर समस्याओं के कारण रिलायंस कैपिटल के बोर्ड को भंग कर दिया था और नागेश्वर राव वाई को प्रशासक नियुक्त किया था। रिलायंस कैपिटल में करीब 20 फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनियां हैं। सितंबर, 2021 में रिलायंस कैपिटल ने अपने शेयरहोल्डर्स को बताया था कि कंपनी पर 40,000 करोड़ रुपये से अधिक कर्ज है।

 

LIC की ये स्कीम देगी मोटी पेंशन, लाखों लोग कर रहे निवेश

 

 क्वालिटी कंट्रोल रिव्यू पार्टनर सीए पर जुर्माना
 एक रिपोर्ट के मुताबिक एनएफआरए ने 12 अप्रैल के अपने एक आदेश में कहा कि ऑडिट फर्म पाठक, एच.डी. एंड एसोसिएट्स पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। साथ ही इंगेजमेंट पार्टनर (EP) सीए परिमल कुमार झा पर एक करोड़ रुपये और इंगेजमेंट क्वालिटी कंट्रोल रिव्यू पार्टनर सीए (EQCR) विशाल डी शाह पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। EP को 10 साल और EQCR को पांच साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है।

 

Aaj Ka Rashifal, 16 अप्रैल : आज इन राशि वालों की खुशी का नहीं रहेगा ठिकाना और इन्हें करना पड़ सकता है परेशानियों का सामना


 इतने का कम बताया कर्ज
इस दौरान ये किसी कंपनी में ऑडिटर या इंटरनल ऑडिटर का काम नहीं कर सकते हैं। साथ ही किसी कंपनी के फाइनेंशियल एक्टिविटी में हिस्सा नहीं ले सकते हैं। ऑर्डर में कहा गया है कि रिलायंस कैपिटल पर फाइनेंशियल ईयर 2019 में बैंकों का करीब 12,000 करोड़ रुपये का लोन था। साथ ही एक्टरनल डेट के रूप में कंपनी पर 32,000 करोड़ रुपये का बकाया था।


 

Loan News : अब लोन देने से पहले यह करने जा रहे बैंक, जानिये RBI का खास अपडेट


कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स की मीटिंग
आरबीआई ने रिलायंस कैपिटल के खिलाफ आईबीसी के तहत इनसॉल्वेंसी प्रॉसीडिंग की कार्यवाही शुरू की थी। हिंदूजा ग्रुप (Hinduja Group) ने इसे खरीदने के लिए सबसे बड़ी बोली लगाई है लेकिन कंपनी को फंड जुटाना मुश्किल हो रहा है। ग्रुप ने रिलायंस कैपिटल को खरीदने के लिए 9,650 करोड़ रुपये का ऑफर दिया था जिसे कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने पिछले साल जुलाई में मंजूरी दी थी।
 

PMSBY : इस स्कीम से मामूली निवेश करके कमा सकते हैं लाखों का रिटर्न, इतने लोग उठा चुके इस स्कीम का लाभ

इन कारणों से करना पड़ा चुनौतियों का सामना
 

दिसंबर ने कंप्टीशन कमीशन ऑफ इंडिया ने रिलायंस कैपिटल में हिस्सा खरीदने के आईआईएचएल, आईआईएचएल बीएफएसआई (इंडिया) और Aasia Enterprises LLP की योजना को हरी झंडी दी थी। मीडिया रिपोर्ट्स का मुताबिक हिंदूजा ग्रुप की होल्डिंग कंपनी इंडसइंड इंटरनेशल होल्डिंग्स (IIHL) इस डील के लिए कुल 8,000 करोड़ रुपये उधार लेने की तैयारी में है। लेकिन उसे प्राइस से जुड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि क्रेडिट फंड्स ज्यादा रेट मांग रहे हैं।