HBN News Hindi

Success Story : हार न मानकर लगातार करते रहे मेहनत, हिंदी मिडियम से बने परिवार के पहले IPS ऑफिसर

UPSC Success Story: गौरव त्रिपाठी ने अपने मेहनत और निरंतर प्रयास से शाबित कर दिया कि फैमिली बैकग्राउंड से अलग अपनी पहचान बनाना असंभव नहीं बस थोड़ा मुश्किल है । जी हां गौरव त्रिपाठी एक साधारण परिवार से होते हुए अपनी कठिन मेहनत और परिवार के साथ से चौथे प्रयास में IPS की परीक्षा में उतीर्ण हुए । आइए जानते हैं गौरव त्रिपाठी जी के संघर्ष और कठिन परिश्रम के बारे में इस आर्टिकल के माध्यम से ।

 | 
Success Story : हार न मानकर लगातार करते रहे मेहनत, हिंदी मिडियम से बने परिवार के पहले IPS ऑफिसर

HBN News Hindi (ब्यूरो) : IPS गौरव त्रिपाठी एक गौरखपुर के साधारण परिवार से संबध रखते हैं जो IPS बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए लगातार निरंतर प्रयास करते रहे और तीन असफलता के बाद अपने चौथे प्रयास में UPSC के परीक्षा को पूरा करके अपने सपने को साकार रुप दिया । आपको बता दें UPSC देश के सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक हैं । आइए जानते हैं शुर्खियों में चल रहे गौरव त्रिपाठी के व्यक्तित्व के बारे में।

 

Aaj Ka Rashifal, 8 April 2024 : सोमवती अमावस्या पर इनके होंगे रुके हुए काम पूरे और इनको व्यापार में मिलेगा धन लाभ

 

IPS गौरव त्रिपाठी दिनचर्या


IPS गौरव त्रिपाठी (IPS Gaurav Tripathi) ने अपनी मेहनत से खुदको करोड़ों युवाओं से अलग करके दिखाया। इन्होंने तीसरी कोशिश में यूपीएससी परीक्षा 2022 में 226 रैंक हासिल किया। उनकी इस सफलता की यात्रा की कई दिलचस्प कहानियां हैं। जैसे कि उन्होंने यूपीएससी परीक्षा (upsc exam) के बारे में सबसे पहले एक अखबार में पढ़ा था। अखबार में पढ़ने से पहले उन्हें यूपीएससी परीक्षा के बारे में जानकारी नहीं थी। उसके बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के बारे में सोचना शुरू कर दिया। उनकी कहानी तमाम यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए प्रेरणाश्रोत है।

 

IPS गौरव त्रिपाठी की कामयाबी की जंग

 

उत्तर प्रदेश जिला गोरखपुर के रहने वाले IPS गौरव त्रिपाठी को इस मुकाम को हासिल करने में सालों मेहनत करनी पड़ी थी। इसके लिए उन्होंने कड़ी मेहनत, त्याग, संघर्ष के साथ-साथ हजारों मुश्किलों का सामना किया था। साधारण परिवार के छात्रों के पास इन सबके अलावा कोई दूसरा विकल्प भी नहीं रहता है। इनकी कामयाबी में इनके माता-पिता ने हर कदम पर इनका साथ दिया। IPS गौरव के पिता एक जनरल स्टोर चलाते थे। लेकिन IPS गौरव की हर मुश्किल में उनका साथ दिया।

Post Office की इस स्कीम में मिलता है मोटा ब्याज, इस प्रोसेस से खुलवाएं MIS अकाउंट

IPS गौरव त्रिपाठी की क्वालिफिकेशन


IPS गौरव त्रिपाठी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई-लिखाई गोरखपुर से पूरी की थी। उन्होंने इसके बाद आईआईटी परीक्षा क्रैक (ITI exam crack) किया और आईआईटी रुड़की में एडमिशन (Admission in IIT Roorkee) लेकर बीटेक किया। बीटेक के दौरान उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी। तैयारी के लिए एनसीआरटी की किताबों को इकट्ठा करना शुरू किया और यूपीएससी की तैयारी के लिए उन्होंने पूरा प्लान तैयार कर लिया। प्लान के तहत तैयारी में जुटे तब तक जुटे रहें जब तक की वे कामयाब नहीं हो गए।

Mobile Tower Buisness : मोबाईल टॉवर लगाकर कमायें पैसे, घर बैठे छापेंगे नोट


गौरव त्रिपाठी का IPS गौरव त्रिपाठी बनने तक सफर 


IPS गौरव त्रिपाठी ने कुल तीन बार यूपीएससी की परीक्षा दी थी। जिसमें टोटल दो बार इंटरव्यू तक पहुंचे थे। लेकिन सफलता नहीं मिल पाई थी। वे हिंदी मीडियम से तैयारी कर रहे थे। इस कारण उन्हें परीक्षा के लिए मैटेरियल जुटाने में कई तरह की परेशानियां भी उठानी पड़ी। लेकिन उन्होंने इसके बावजूद भी अपनी तैयारी जारी रखी। IPS गौरव त्रिपाठी का चयन 2020 में पीसीएस परीक्षा में हुआ, लेकिन उन्होंने ज्वाइन नहीं किया था। उन्होंने ठान लिया था कि वे IPS बनकर ही दम लेंगे। उन्होंने अपनी मेहनत जारी रखी, अपने प्लान्स पर लगातार मेहनत करते रहे। तीसरी कोशिश में 2022 UPSC परीक्षा में 226 रैंक के साथ आईपीएस बनकर अपने सपने को साकार किया।