HBN News Hindi

Phone Use in Toilet : टॉयलेट में लेकर जाते हैं स्मार्टफोन तो आज ही सुधार लें आदत, जानिए एक्सपर्ट्स की राय

Using Phone in Toilet : आज के समय में स्मार्टफोन सभी की लाइफ का एक अहम हिस्सा बन चुका। सभी लोगों को स्मार्टफोन (Phone Use in Toilet) की लत तो ऐसी लग चुकी है कि रात को सोने से लेकर सुबह उठने तक इसकों छोड़ते ही नही है और इनमें से कुछ लोग तो ऐसे है की स्मार्टफोन को टायलेट में भी साथ लेकर जाते हैं।
 | 
Phone Use in Toilet: टॉयलेट में लेकर जाते हैं स्मार्टफोन तो आज ही सुधार लें आदत, जानिए एक्सपर्ट्स की राय

HBN News Hindi (ब्यूरो ) : आजकल बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक भी स्र्मार्टफोन अत्यंत आदशयक हो गया है।  स्मार्टफोन से जरूरी काम के साथ-साथ लोग मोबाइल का इस्तेमाल टाइम पास करने के लिए भी करने लग गए है।  अधिकतर लोग तो घंटों तक कमोड पर बैठकर समय की चिंता न करते हुए स्मार्टफोन को चलाते रहते हैं।  और इस मोबाइल की लत से हमारी सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

 

हो सकता है खतरनाक साबित 


आज के टाइम में फोन का एडिक्शन इतना बढ़ गया है कि हर (Side Effects of Using Phone in Toilet) जगह लोग फोन लेकर जाते हैं, चाहे किचन में काम करना हो या फिर कुछ और करना हो। कुछ लोगों को तो ये आदत होती है कि सुबह के टाइम अपना मोबाइल फोन टॉयलेट में लेकर चले जाते हैं और फिर वहीं फोन का इस्तेमाल करते रहते हैं, लेकिन ये करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

 
क्या हो सकते हैं इसके साइ़ड इफेक्ट्स 
 

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जो लोग टॉयलेट सीट पर पर बैठकर (Kya Toilet me phone lekr jana cahiye) मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं, उन्हें कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती हैं।  अगर आप भी टॉयलेट जाते वक्त फोन का इस्तेमाल करते हैं तो हम आपको इसके साइ़ड इफेक्ट्स बताने जा रहे हैं।  

नही लेकर जाना चाहिए टॉयलेट में स्मार्टफोन
 

टॉयलेट में फोन का इस्तेमाल करना आपकी हेल्थ पर बुरा असर डाल सकता है।  यह एक ऐसी जगह होती है जहां बहुत सारे (NEVER use phone in toilet) कीटाणु पनपते हैं।  टॉयलेट सीट से लेकर फ्लश के बटन तक हर जगह ये जर्म्स होते हैं।  ऐसे में अगर आप अपना फोन ले जाते हैं और इन सारी चीजों को छूने के बाद दोबारा अपना फोन यूज करते हैं तो ये जर्म्स फोन के माध्यम से आपके शरीर में चले जाते हैं।  


एक्सपर्ट्स की राय


Indiana University की हेल्थ डिपार्टमेंट की यूरोलॉजिस्ट डॉ हेलेन बर्नी का कहना है कि पेशाब की छीटें टॉयलेट (health issues) में कई दिनों तक रहती हैं।  कई रिसर्च में भी यह बात सामने आई है कि ये बूंदें तीन फीट तक की दूरी तक पहुंच सकती हैं।  ऐसे में फ्लशिंग के वक्‍त पेशाब और दूर जा सकता है।  इसके साथ ही यह भी पॉसिबल है कि ये छीटें आपके मोबाइल फोन तक पहुंच जाएं।  मल-मूत्र में कई बैक्टीरिया होते हैं, जो कि फैल जाते हैंं।  इस तरह फोन में टॉयलेट ले जाना (health Tips) आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।  

ये हो सकती है बीमारियां


डॉक्टर्स का कहना है कि अगर आप किसी पब्लिक टॉयलेट का यूज करते हैं तो ये पूरी (use phone in toilet Safe Or not) तरह से गंदे होते हैं।  जब आप किसी चीज को छूते हैं तो ये कीटाणु आपके हाथ में लग जाते हैं।  इस तरह आपके बैक्टीरिया की चपेट में आने के चांसेज रहते हैं।  इस तरह आप कई बीमारियों का शिकार भी हो सकते हैं, जिससे डायरिया, बुखार, शिगेला जैसी बीमारियां हो सकती हैं। 


बाथरूम के कीटाणु पहले हमारे हाथों पर आते हैं और (Toilet me phone use krna cahiye) फिर वो मोबाइल स्क्रीन पर पहुंच जाते हैं, इससे Smartphone Screen टायलेट से भी ज्यादा गंदी हो जाती है।  जब हम खाना खाते हैं तो यह कीटाणु हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं जिससे हमें कई तरह की बीमारियों हो सकती है।  

इसलिए टॉयलेट जाते वक्त मोबाइल को साथ में न लेकर जाएं।  फिर टॉयलेट ही क्यों न हो।  अगर आपकी भी यही आदत है तो आज ही इसे छोड़ दीजिए क्योंकि ये जानलेवा हो सकता है।