HBN News Hindi

Leaf To Lower Blood Sugar : रोजाना चबाएं इस पौधे की पत्तियां, डायबिटीज जैसी बिमारियों के लिए रामबाण इलाज

Home Remedies For Diabetes :आजकल लोग गलत खानपान और खराब लाइफस्टाइल की वजह से बीमारियों के घेरे में आ जाते हैं। इन्ही में से एक बीमारी है डायबिटीज। दुनिया भर में डायबिटीज के मरीजों की संख्या अब तेजी से बढ़ रही है। तो आज हम आपको डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए एक घरेलू नुस्खें के बारे में बताने वाले हैं आइए जानते है इस बारे में डिटेल से।
 
 | 
Leaf To Lower Blood Sugar : रोजाना चबाएं इस पौधे की पत्तियां, डायबिटीज जैसी बिमारियों के लिए रामबाण इलाज

 HBN News Hindi (ब्यूरो) : बिगड़ती लाइफस्टाइल के चलते डायबिटीज के मरीज (Home Remedies For High Blood Sugar )लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। आपको बता दें कि इस बीमारी को सही खानपान और लाइफस्टाइल में बदलाव के जरिए इसे कंट्रोल किया जा सकता है। आज हम आपको इस खबर में इसे कंट्रोल करने के लिए घरेलू नुस्खे के बारे में बताने वाले हैं।

 

 

जामुन का पत्ता है फायदेमंद


डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए आप कई तरीके के घरेलू उपाय का (Jamun Leaf Benefits In Diabetes)सहारा ले सकते हैं। इन्हीं घरेलू उपाय में जामुन का पत्ता भी शामिल है। डायबिटीज के मरीजों के लिए जामुन के पत्ते काफी लाभकारी साबित हो सकते हैं।  यह बात साबित हो चुकी है कि जामुन के पत्तों से ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है। 

 

जामुन के पत्तों में होते हैं ये गुण


जामुन के पत्तों में एंटी-डायबिटिक, एंटी-हाइपरलिपिडेमिक और एंटीऑक्सीडेंट (how to use jamun leaves for diabetes)गुण मौजूद होते हैं,इसके पत्तें ब्लड शुगर के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी सहायक होते हैं। ये तेजी से इंसुलिन का निर्माण करते हैं, जिससे ब्लड शुगर  को कंट्रोल करने में मदद मिलती है और साथ ही, ये शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करते हैं, जिससे वजन घटाने में भी मदद मिल सकती है।

 

 

ऐसे करें डायबिटीज में जामुन के पत्तों का सेवन 


हाई ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए आप सुबह (jamun benefits for diabetes patients)खाली पेट जामुन के 3-4 पत्तों को अच्छी तरह धोकर चबाएं। चबाने के बाद इसके अर्क का सेवन करने के बाद में पत्ते के बचे हुए हिस्से को थूक दें।  रोजाना इसका सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है। साथ ही, सेहत को कई अन्य लाभ भी मिलेंगे।