HBN News Hindi

Japanese currency धड़ाम, डॉलर के मुकाबले सबसे कमजोर स्तर पर पहुंची, यह है बड़ा कारण

Japanese Yen : पिछले करीब तीन दशक की बात करें तो जापान की कैरेंसी अपने सबसे निचले स्तर पर आ गई है। डालर के मुकाबले यह एक तरह से फर्श पर आ गई है। आने वाले समय में जापान के सरकारी बॉन्ड में भी गिरावट आ सकती है। इतनी नीचे करैंसी गिरने का आखिर क्या कारण रहा, आइये जानते हैं इस बारे में इस खबर में विस्तार से।

 | 
Japanese currency धड़ाम, डॉलर के मुकाबले सबसे कमजोर स्तर पर पहुंची, यह है बड़ा कारण

HBN News Hindi (ब्यूरो) : जापान की करेंसी येन (Japanese yen) में बुधवार को जबरदस्त गिरावट आई। इससे यह साल 1990 के बाद से डॉलर के मुकाबले अपने सबसे कमजोर स्तर पर पहुंच गई है। (japan currency )इस गिरावट को देखते हुए जापान के टॉप वित्तीय अधिकारियों की एक बैठक (Meeting of Japan's top financial officials)हुई। बैठक में तेजी से गिर रही करेंसी पर चर्चा की गई और इसे स्टेबल करने के लिए संभावित हस्तक्षेप के संकेत दिए गए। अमेरिकी डॉलर 151.975 येन के उच्च स्तर पर पहुंच गया है। यह आक्रामक उछाल 30 से अधिक वर्षों में येन के मुकाबले डॉलर को सबसे मजबूत बनाती है।

 

Aaj Ka Rashifal, 28 March 2024 : मेष, वृषभ और मिथुन राशि वालों के लिए बन रहा शुभ योग, कर्क, सिंह और कन्या राशि वालों शांत चित्त रहने की जरूरत, इन पर होगी धनवर्षा


करेंसी को बचाने के लिए यह किया जा रहा प्रयास


japan currency fall down : आपातकालीन बैठक के बाद जापान के चीफ करेंसी डिप्लोमेट मासातो कांडा ने विदेशी मुद्रा बाजार में किसी भी अव्यवस्थित उतार-चढ़ाव के खिलाफ एक्शन लेने की उनकी तैयारी पर जोर दिया। यह 2022 में येन को डिफेंड करने के लिए उनके हस्तक्षेप से पहले जारी की गई चेतावनियों जैसी है।

 

ITR news : e-filing portal के हैं बेशुमार फायदे, नहीं रुकेगी आपकी रिफंड ट्रांजेक्शन

 

वित्तीय सेवा एजेंसी ने की बैठक


बैंक ऑफ जापान, वित्त मंत्रालय और जापान की वित्तीय सेवा एजेंसी ने टोक्यो में बुधवार शाम एक बैठक की। इसके बाद टॉप करेंसी डिप्लोमेट मासातो कांडा ने कहा कि वे अव्यवस्थित विदेशी मुद्रा चालों का जवाब देने के लिए किसी भी कदम से इनकार नहीं करेंगे। जापानी अधिकारियों ने साल 2022 में डॉलर के मुकाबले 151.94 पर पहुंच चुके येन को बचाने के लिए हस्तक्षेप किया था। वित्त मंत्री शुनिची सुजुकी ने बुधवार को उन्हीं शब्दों का इस्तेमाल किया जो उस हस्तक्षेप से पहले थे। उन्होंने चेतावनी दी कि जापानी करेंसी में अत्यधिक गिरावट को रोकने के लिए वह निर्णायक कदम उठाएगा।

 

Mahindra 7 seater वेरिएंट की इस कार की कीमतों में हुई बढ़ौतरी, इतने चुकाने होंगे अब दाम

 

वैश्विक विदेशी मुद्रा रणनीति प्रमुख का यह है कहना


टोरंटो में सीआईबीसी कैपिटल मार्केट्स के वैश्विक विदेशी मुद्रा रणनीति (global forex strategy)प्रमुख बिपिन राय ने रॉयटर्स के हवाले से कहा, "वे एक हद तक, यहां धारा के खिलाफ तैर रहे हैं। हस्तक्षेप निकट भविष्य में मदद करता है, लेकिन यह दीर्घकालिक समाधान नहीं है। इस साल येन में 7% से अधिक की गिरावट अमेरिकी और जापानी बॉन्ड यील्ड के बीच बढ़ते अंतर से प्रेरित हुई है। बैंक ऑफ जापान की हालिया छोटी ब्याज दर वृद्धि इस अंतर को कम करने में बहुत कम कारगर साबित हुई है।

 

Wheat Rate 2024 : 2700 रुपये क्विंटल बिकेगी गेहूं! केंद्र सरकार ने एमएसपी में की बढ़ोतरी

यील्ड में हो सकती है गिरावट 


Why did the yen fall : विशेषज्ञों का मानना है कि येन की गिरावट को रोकने का एक संभावित समाधान अमेरिकी फेडरल रिजर्व (US Federal Reserve)द्वारा ब्याज दर में कटौती चक्र शुरू करना और उसके बाद जापान के बाहर सरकारी बॉन्ड की यील्ड में गिरावट (Japanese bond yields) हो सकती है। राय ने कहा, "मुझे संदेह है कि हस्तक्षेप, या हस्तक्षेप करने की धमकियां, वास्तव में सिर्फ समय लेने का एक तरीका हैं, जब तक कि हम देश के बाहर और अधिक स्थायी आधार पर चीजों को बदलना शुरू नहीं देखते हैं।"