HBN News Hindi

Success Story : क्या आप जानते हैं कि Infosys के CEO को कितनी है एक दिन की इनकम, कुल कितना लेते हैं महीने का वेतन

Salil Parekh Success Story : अक्सर देखा जाता है कि लोगों का किसी कंपनी के सीईओ या एमडी के नाम से लोग जल्द ही भावुक हो जाते हैं। कॉरपोरेट दुनिया में सीईओ बनना सबसे बड़ा लक्ष्य होता है। आज हम इस खबर में इंफोसिस के सीईओ सलिल पारेख भारत में आईटी कंपनियों में दूसरे सबसे अधिक वेतन पाने वाले हैं। आइए जानते हैं इन दैनिक इनकम के बारे में खबर के माध्यम से।

 | 
क्या आप जानते हैं कि Infosys के CEO को कितनी है एक दिन की इनकम, कुल कितना लेते हैं महीने का वेतन

HBN News Hindi (ब्यूरो) : इन्फोसिस के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सलिल पारेख  का सालाना पैकेज वित्त वर्ष 2023-24 में 17 प्रतिशत बढ़ोतरी देखी गई है। इसके साथ बेंगलुरु मुख्यालय वाली आईटी कंपनी (Bengaluru headquartered IT company) के शीर्ष अधिकारी उद्योग में सबसे अधिक वेतन पाने वाले सीईओ में शामिल (salil parekh) हो गये हैं। आइए जानते हैं इस अपडेट के बारे में डिटेल में खबर में।

 

 

सफलता की कहानी


कॉरपोरेट दुनिया में सीईओ बनना सबसे बड़ा लक्ष्य होता है। क्योंकि नाम सुनते ही लोग भावुक हो जाते हैं। भारत में सीईओ की सैलरी के कारण वे अक्सर चर्चा में रहते हैं। भारत के सीईओ को विदेशों में भी प्रशंसा मिली है। विशेष रूप से अमेरिकी टेक्नोलॉजी क्षेत्र में सुंदर पिचाई, सत्य नडेला, अभिषेक मेहरोत्रा, अरविंद कृष्णा, निकेश अरोरा, नील मोहन, पराग अग्रवाल सहित कई नाम हैं। लेकिन आज हम भारत की प्रसिद्ध आईटी कंपनी इंफोसिस के सीईओ सलिल पारेख की बात (CEO Salil Parekh's words) कर रहे हैं, जो अपनी सैलरी के कारण फिर से चर्चा में है।

 

इन्हें मिलता है सबसे ज्यादा इनकम

इंफोसिस के सीईओ सलिल पारेख भारत में आईटी कंपनियों में दूसरे सबसे अधिक वेतन पाने वाले हैं। उन्हें वित्त वर्ष 2024 में 66.25 करोड़ रुपये मिले, एनुअल रिपोर्ट के आंकड़ों के अनुसार। Sallil आईटी सेवा क्षेत्र में लगभग तीन दशक का अनुभव रखता है। विप्रो के पूर्व सीईओ थिएरी डेलापोर्टे, (Thierry Delaporte, former CEO of Wipro) जिन्होंने FY24 में लगभग 20 मिलियन अमरीकी डालर (लगभग 166 करोड़ रुपये) कमाए, सिर्फ सलिल से पीछे हैं।

 

कैसे की थी इस दुनिया में एंटर

जनवरी 2018 से सलिल पारेख इंफोसिस का अध्यक्ष हैं। सलिल पारेख, जो आईआईटी बॉम्बे में पढ़ा था, उनके करियर की दिलचस्प कहानी है। 1986 में उन्होंने आईआईटी बॉम्बे से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन प्राप्त किया। लेकिन, IT क्षेत्र में करियर बनाया। उन्होंने इसके लिए कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस और मैकेनिकल इंजीनियरिंग (Computer Science from University) में मास्टर की डिग्री भी हासिल की। सलिल पारेख ने कैपजेमिनी से पहले काम किया था।

इन कारणों से बढ़ी सालाना इनकम

सलिल पारेख को वित्त वर्ष 2024 के लिए 66.25 करोड़ रुपये का परिश्रामिक मिला। कर्मचारियों को दी जाने वाली इक्विटी क्षतिपूर्ति का एक प्रकार, हायर रिस्ट्रिक्टेड स्टॉक यूनिट्स (Higher Restricted Stock Units) ने उनका वेतन बढ़ा दिया। सलिल पारेख का दैनिक वेतन 18 लाख से अधिक होगा अगर 365 दिनों में 66 करोड़ रुपये की सैलरी दी जाए।

इतना होता है सालाना इनकम

अपने आरएसयू से उन्होंने 39.03 करोड़ रुपये कमाए। साथ ही, सलिल पारेख ने बोनस के रूप में 7.47 करोड़ रुपये, रिटायरमेंट लाभ के रूप में 47 लाख रुपये और सैलरी के रूप में 7 करोड़ रुपये कमाए। FY23 में सलिल पारेख का मुआवजा (Salil Parekh's compensation in FY23) 71 करोड़ रुपये से 56 करोड़ रुपये रह गया था।