HBN News Hindi

Adani केशेयरों में जबरदस्त तेजी, समूह पर लगे आरोपों की खंडन रिपोर्ट आने के बाद टूट पड़े निवेशक

Adani Group Value : शेयर बाजार में हर रोज उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है। अनेक कंपनिया ऐसी है जिनके शेयरों में भारी गिरावट आने के बाद अचानक बहुत ज्यादा तेजी देखने को मिल जाती है। ऐसा ही उदाहरण अडानी के शेयरों में भी देखा गया है। पिछले दिनों अडानी समूह के ऊपर आरोप लगा था कि उसने तमिलनाडु पावर कंपनी को कोयले की आपूर्ति में इनवॉयस में गड़बड़ी की है,जिसके बाद अडानी के शेयरों में गिरावट आ गई थी मगर अब अडानी ग्रुप की ओर से इन आरोपों का खंडन करने के बाद निवेशकों ने शेयर खरीदने में दिलचस्पी दिखाई, जिससे शेयरों में अचानक उछाल आ गया है।
 
 | 
Adani के शेयरों में जबरदस्त तेजी, समूह पर लगे आरोपों की खंडन रिपोर्ट आने के बाद टूट पड़े निवेशक

HBN News Hindi (ब्यूरो ) : एक ओर जहां कमाई के मामले में भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी झंडे गाड़ रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर उनके समूह अडानी ग्रुप ने एक और उपलब्धि हासिल की है।आपको बता दें कि अडानी ग्रुप के चेयरमैन और देश के दूसरे(Adani Share) सबसे अमीर शख्स गौतम अडानी एक बार फिर 200 अरब डॉलर क्लब में शामिल हो गए हैं। इस बुधवार को गौतम अडानी की नेटवर्थ(Adani group) ने 200 अरब डॉलर का आंकड़ा छू लिया। और इनके शेयर की मार्केट में  लगातार तेजी  हो रही है। आइए जानते हैं इस पूरी खबर के बारे में।

 

 

200 बिलियन डॉलर के पार हुआ मार्केट कैप  
अडानी समूह के शेयरों में तेजी से रिकवरी हो रही है। इसके दम पर अडानी समूह के मार्केट कैप में लगातार तेजी देखी जा रही है। विभिन्न शेयरों के भाव में आई हालिया तेजी से अडानी समूह की सभी कंपनियों का सम्मिलित मार्केट कैप बुधवार को 200 बिलियन डॉलर के स्तर को फिर से हासिल करने कामयाब हुआ।

बुधवार को शेयरों का हाल
बुधवार को समूह के 10 लिस्टेड शेयरों में से सिर्फ 2 के भाव में(adani market capitalization) गिरावट आई। एनडीटीवी के भाव में सबसे ज्यादा 3.86 फीसदी की तेजी आई, जबकि अडानी एनर्जी सॉल्यूशंस के भाव में 2.33 फीसदी की तेजी देखी गई। अडानी पावर के शेयरों में 1.67 फीसदी की तेजी रही। फ्लैगशिप शेयर अडानी एंटरप्राइजेज समेत समूह के अन्य शेयर भी ग्रीन जोन में रहे। सिर्फ अडानी विल्मर में 1.06 फीसदी और अडानी पोर्ट्स में 0.54 फीसदी की गिरावट आई।

 

 

अडानी समूह के ऊपर लगा आरोप
अडानी समूह के शेयरों में ये तेजी ऐसे समय आई, जब समूह ने (adani group companies)कोयला की आपूर्ति में इनवॉयस की गड़बड़ियों से जुड़े आरोपों का खंडन किया। समूह के ऊपर आरोप लगा था कि उसने तमिलनाडु पावर कंपनी को कोयले की आपूर्ति में इनवॉयस में गड़बड़ी की है। यह आरोप फाइनेंशियल टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट(अडानी समूह की कंपनियां) में ऑर्गेनाइज्ड क्राइम एंड करप्शन रिपोर्टिंग प्रोजेक्ट के हवाले से लगाया गया था। हालांकि अडानी समूह ने इन आरोपों को निराधार बताया।

 


अडानी के शेयरों में लौटी रौनक

अडानी समूह के द्वारा रिपोर्ट पर खंडन आने के बाद(adani mcap) निवेशकों की धारणा में सुधार हुआ। उसके(अडानी समूह) बाद समूह के ज्यादातर शेयर मजबूती में रहे। इसके चलते बुधवार को अडानी समूह के सम्मिलित एमकैप में 11,300 करोड़ रुपये की तेजी आई। अब अडानी समूह की कंपनियां का सम्मिलित मार्केट कैप 16.9 लाख करोड़ रुपये यानी 200 बिलियन डॉलर से ज्यादा हो गया है।

दो दिन में कंपनियों के बाजार पूंजीकरण 
पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, सिर्फ दो दिनों में अडानी समूह की कंपनियों(breaking news) के बाजार पूंजीकरण में 56,250 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। अडानी समूह का एमकैप पहले भी 200 बिलियन डॉलर के स्तर के पार रह चुका है। हालांकि बीते साल की शुरुआत में आई हिंडनबर्ग रिपोर्ट ने अडानी समूह को बडा नुकसान पहुंचाया था। शेयरों में लगातार आई भारी गिरावट ने समूह के एमकैप को भी गिरा दिया था।