HBN News Hindi

Tata Motors और Mahindra ने इस मामले में बना डाला रिकॉर्ड, ग्राहकों के लिए जरूरी अपडेट

Car Updated News: टाटा मोटर्स और महिंद्रा का पूरे भारत में दबदबा छाया हुआ है। हर तरफ टाटा मोटर्स और महिंद्रा की कारों की होड़ लगी हुई है । अगर आप भी टाटा मोटर्स और महिंद्रा के फेन है और इन कारों के रिकॉर्ड व अपडेट के बारे में जानना चाहते हैं तो आज हम आपको टाटा मोटर्स और महिंद्रा को पिछले साल के रेकॉर्ड पेटेंट अप्रूवल और अपडेट के बारे में बताएंगे।

 | 
Tata Motors और Mahindra ने इस मामले में बना डाला रिकॉर्ड, ग्राहकों के लिए जरूरी अपडेट

HBN News Hindi (ब्यूरो): जैसा कि आप जानते ही है कि  टाटा मोटर्स और महिंद्रा(tata and mahindra patent approvals) की कारें  भारत में कितनी लोकप्रिय है । आपको यह जानके खुशी होगी कि इन दोनों कंपनियों ने  रिकॉर्ड नंबर में पेटेंट(टाटा मोटर्स कार  पर पेटेंट मंजूरी) की मंजूरियां  हासिल की है। जो किसी भी एक साल के लिए इसका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इन कंपनियों ने भारत में अपनी कारों के दम पर धूम मचा रखी है। आइए इस बारे में विस्तार से जानते है। 

 

 

एक वर्ष में मिली इतनी पेटेंट को मंजूरी

 

 व्हीकल  मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की प्रमुख घरेलू कंपनियां- महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) और टाटा मोटर्स को पिछले वित्त वर्ष, यानी 2023-24 में प्रोडक्ट और प्रोसेस इनोवेशन से संबंधित रेकॉर्ड संख्या में पेटेंट मंजूरियां मिली हैं। जहां महिंद्रा एंड महिंद्रा को 674 मंजूरियां मिलीं, जो उसका किसी एक(tata and mahindra patent approvals) साल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है, वहीं टाटा मोटर्स को भी वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान 333 पेटेंट मंजूरियां मिली हैं।

 

 

 

 

 महिंद्रा को मिली रिकॉर्ड पेटेंट अप्रूवल

 


महिंद्रा एंड महिंद्रा की तरफ से कहा गया कि कंपनी को बीते (टाटा मोटर्स कार पेटेंट मंजूरी)वित्त वर्ष में रेकॉर्ड 674 पेटेंट मिले हैं। एमएंडएम के कार्यकारी निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (वाहन और कृषि क्षेत्र) राजेश जेजुरिकर ने कहा कि हम भविष्य के लिए तैयार रहने के महत्व को समझते हैं, इसलिए हमने टेक्नॉलजी और स्किल के मामले में आगे रहने के लिए रिसर्च और डेवलपमेंट में व्यापक निवेश सुनिश्चित किया है। एमएंडएम को अभी तक अलग-अलग वीइकल सेगमेंट में 1185 पेटेंट मिले हैं।

टाटा माेटर्स भी नहीं है पीछे


यहां बता दें कि महिंद्रा एंड महिंद्रा(mahindra cars) के पास 31 मार्च, 2024 तक 193 आवेदन पेटेंट मंजूरी की प्रतीक्षा में हैं। कुल मिलाकर इसने अबतक 2,212 पेटेंट आवेदन किए हैं। टाटा मोटर्स को पिछले वित्त वर्ष के दौरान 333 पेटेंट की मंजूरियां मिलीं, जो एक साल का सबसे बड़ा आंकड़ा है। अब उसके मंजूर पेटेंट(महिंद्रा एंड महिंद्रा पेटेंट मंजूरी की संख्या  ) की कुल संख्या 850 से ज्यादा हो गई है। यहां बताना जरूरी है कि पेटेंट में अलग-अलग वीइकल सिस्टम के पावरट्रेन, सस्पेंशन, ब्रेक्स और एमिशन कंट्रोल से जुड़े पार्ट्स शामिल होते हैं।

पेटेंट दाखिल करने की  प्रक्रिया

आपको बता दें कि पेटेंट दाखिल करने की पूरी प्रक्रिया (patent approval ka process)होती है और इसके लिए सबसे पहले भारतीय पेटेंट कार्यालय (IPO) में निर्धारित फॉर्म में आवेदन पत्र भरना होता है। इसके बाद अपने आविष्कार की विस्तार से जानकारी और दावे जमा करने होंते हैं, जिनमें बताया जाता है कि आप किस चीज के लिए पेटेंट चाहते हैं। इसके बाद अप्लिकेशन फीस और अन्य फीस का भुगतान करना होता है। IPO आवेदन की जांच करता है और अगर यह सभी जरूरतों को पूरा करता है तो फिर पेटेंट मिल जाता है।