HBN News Hindi

Phone Hacking Signs : फोन में दिखे ये साइन तो तुरंत हो जाएं सावधान, नहीं तो चोरी हो सकता है पर्सनल डेटा

Protect Your Phone Hacking :भारत में बढ़ती जनसंख्या को देख फोन फोन लेने वालो की संख्या भी काफी बढ़ गई हैं। Smartphone लाइफ का एक अहम (phone hack hone ke kya karn he)हिस्सा बन गया है। इसके चलते फोन हैकिंग की घटनाएं भी तेजी से बढ़ रही हैं। हैकर्स फोन को हैक करने (phone hacking se bachne ke upaye)के लिए कई तरह के उपाय निकालते रहते हैं। आज हम आपको कुद एसी टिप्स के बारे में बताने वाले हैं। जिसकी मदद से आप आसानी से पता कर सकते हैं। आपका फोन हैक है या नही। 
 
 | 
Phone Hacking Signs : फोन में दिखे ये साइन तो तुरंत हो जाएं सावधान, नहीं तो चोरी हो सकता है पर्सनल डेटा

HBN News Hindi (ब्यूरो) : फोन हमारे लिए एक अहम हिस्सा बन गया है। इसके बिना लाइफ अधूरी सी लगती है। लेकिन इसमें हमारी कई पर्सनल जानकारियां होती हैं, जिनकी मदद से कोई भी (phone hack hone ke sanket )आपको चूना लगा सकता है। ऑनलाइन होने वाले स्कैम की(phone scam ko kese roke) संख्या काफी बढ़ गई है। स्मार्टफोन में कई ऐसे साइन होते हैं जिनके दिखने (How to Protect Your Phone From Hacking)का मतलब है कि फोन किसी और के कंट्रोल में है। यहां बताने वाले हैं कि कौन सा साइन दिखने पर आपको सतर्क हो जाना चाहिए।

 


How to Protect Your Phone From Hacking


इंटरनेट के बढ़ते उपयोग की वजह से फोन हैकिंग की घटनाएं भी तेजी से बढ़ रही हैं. फोन को हैक करने के लिए हैकर्स तरह तरह(8 signs in your phone to understand that your phone is being spied) के उपाय निकलते हैं. ऐसे में लोगों को जागरूक रहने की बेहद जरूरत है. लेकिन आप (phone hacking alert)कैसे पता लगा सकते हैं कि आपका फोन हैक हो गया है? आज हम आपको ऐसे टिप्स बताएंगे, जिससे आप पता लगा सकते हैं कि कहीं आपका फोन हैक तो नहीं हो गया है।


बैकग्राउंड में जासूसी ऐप्स 


अगर आपका फोन जल्द डिस्चार्ज हो रहा है तो हो सकता है कि आपका फोन हैक(फोन हैकिंग अलर्ट) हो गया हो, क्योंकि कई बार बैकग्राउंड में जासूसी ऐप्स चलने की वजह से फोन (Phone Hacking)की बैटरी जल्दी डिस्चार्ज हो जाती है. ऐसे में इस ओर ध्यान देने की जरूरत है।

 

 


बिना मतलब के ऐप्स को फोन में ना रखें


ये ध्यान रखने की जरूरत है कि आपके फोन में ऐसे ऐप्स ना हों, जिसको आप यूज नहीं करते हों. कई बार आपकी(अपने फोन को हैकिंग से कैसे बचाएं) इजाजत के कोई ऐप इंस्टॉल हो जाता है, ऐसे में इसे हटाना बेहद जरूरी है. ये फोन हैकिंग का एक कारण बन सकता है. इन अनजान ऐप्स में जासूसी सॉफ्टवेयर छिपे हो सकते हैं।


डिवाइस जल्दी गर्म होने से भी खतरा


अगर आपका डिवाइस जल्दी गर्म हो रहा है तो ऐसा मुमकिन है कि जासूस रियल टाइम में डिवाइस लोकेशन ट्रैक (phone hack hone par kese pta kre)कर रहे हों. इसके लिए वे जीपीएस सिस्टम का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे में फोन के हार्डवेयर पर जरूरत से ज्यादा दबाव पड़ता है।

 

 


फोन में ये दिक्कत हो तो 


फोन हैक होने की स्थिति में आपके डिवाइस में खराबी जैसे स्क्रीन फ्लैशिंग, ऑटोमेटिक फोन सेटिंग चेंज, या फोन काम न करना जैसी चीजें हो सकती हैं।

 


कॉलिंग के दौरान सुनाई दे ऐसी चीजें


अगर आपके फोन में कॉलिंग के दौरान किसी भी तरह का बैकग्राउंड न्वॉइज सुनाई दे, तो सतर्क हो जाएं. ये हैकिंग के संकेत हो सकते हैं।


डिवाइस के ब्राउजिंग हिस्ट्री 


आपने डिवाइस के ब्राउजिंग हिस्ट्री को भी चेक कर सकते हैं. कई बार जासूस एप्लिकेशन डाउनलोड कर आपके फोन पर कब्जा कर सकते हैं।