HBN News Hindi

Car Service Tips : कार की सर्विस कराते समय ऐसे होती है धोखाधड़ी, बचने के लिए करें ये काम

Car servicing Tips :सर्विस सेंटर वाले या मैकेनिक अक्सर अपनी बातों में उलझा कर ग्राहकों को बेवकूफ बना देते हैं। जिसकी वजह से (Car service krane ka shi trika)उनको काफी नुकसान उठाना पड़ता है। लोगो का मानना है की अगर सर्विस सेंटर पर सर्विस करवाते हैं तो उनकी कार (Car servicing tips)की लाईफ बढ़ जाती है। यहां हम आपको कुछ ऐसी टिप्स के बारे में बताने  वाले हैं। जिससे कोई चूना भी नहीं लगा पायेगा।

 | 
Car Service Tips : कार की सर्विस कराते समय ऐसे होती है धोखाधड़ी, बचने के लिए करें ये काम

HBN News Hindi (ब्यूरो ) : गाड़ी की सर्विस के लिए आपको कम से कम पुरा दिन लग जाता है। और कुछ लोगों को इस बात की (car service kratye time rakhe in bato ka dhyan)जानकारी नही होती है। गाड़ी की सर्विस कब और कैसे करानी है। जबकि काफी लोग ऐसे (Best way to for service your vehicle)भी हैं जिन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं होती और इसी बात का फायदा उठाकर सर्विस सेंटर वाले या मैकेनिक अपनी बातों में उलझा कर बेवकूफ बना लेते हैं।

 

 

इन बातों  को रखे ध्यान 

 

आज के समय में कार खरीदना काफी आसान हो गया है। कार कंपनियां(Car servicing tips) अपनी बिक्री को बढ़ाने के लिए नए-नए ऑफर्स ग्राहकों के सामने पेश करती रहती हैं। लेकिन अभी भी काफी ब्रांड्स ऐसे हैं जिनकी आफ्टर सेल्स सर्विस काफी खराब है। अक्सर देखने में आता है कि कार की सर्विस करवाते समय सर्विस सेंटर(How to insure god service for car) और मैकेनिक ग्राहकों को बेवकूफ बनाते नहीं और चूना लगा देते हैं। मान लीजिये अगर आपकी कार की बेसिक सर्विस होनी है तो सर्विस बुक बनाने वाला एक्स्ट्रा खर्चा बता देता है। ऐसे में यहां हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिन्हें फॉलो  करके आप अपनी गाड़ी (How to avoid extra charges at the servicing time)की न सिर्फ बढ़िया सर्विस करवा सकते हैं बल्कि आपको कोई चूना भी नहीं लगा पायेगा।

 


सबसे पहले करें ये काम


अगर आप रेगुलर सर्विस करवाते हैं तो उसका एक रिकॉर्ड बना कर रखें। ताकि(कार सर्विस टिप्स) आपको यह याद रहे कि कब और कितनी बार सर्विस हुई है। और सर्विस के दौरान (Car Service Centres Are Cheating You)कौन से पार्ट्स बदले  हैं। अब इससे होगा ये कि जब भी आप सर्विस करवाने जायेंगे तो मैकेनिक आपको एक्स्ट्रा खर्चा नहीं बता पायेगा, क्योंकि हर एक पार्ट की एक लाइफ होती है और उसके बाद उस पार्ट को बदल दिया जाता है। लेकिन मैकेनिक हर सर्विस पर उसे क्लीन(कार केयर टिप्स) करने की जगह बदलने की बात करता है, जिससे सीधा आपका नुकसान होता है।

 


लेबर चार्ज पर ध्यान दें


सर्विस करवाने से पहले को जो एस्टीमेट आपको दिया जाता है उसकी एक कॉपी साथ रखें और फाइनल बिल के साथ उसे चेक करें। अक्सर (Car care tips)देखने में आता है कि आपने जो काम आपने नहीं करवाएं हैं उसके भी चार्ज लगा दिए जाते हैं। अगर आपके साथ कभी ऐसा होता है तो आप कंज्यूमर फोरम से भी शिकायत कर सकते हैं।


इंजन ड्रेसिंग


सर्विस सेंटर वाले हर बार आपको इंजन ड्रेसिंग करवाने की सलाह देते हैं, काफी लोगों को इस बारे में जानकारी नही होती लेकिन यह एक छोटा सा(Car Service Centres ) काम है और एक स्प्रे की मदद से इंजन को साफ़ किया जाता है जिसे करवाने में करीब 800-1000 रुपये तक का खर्च आता है। लेकीन आपको बता दें कि हर बार इसकी जरूरत नही पड़ती। आप खुद ही घर पर इसे ब्रश से क्लीन कर सकते हैं।

 


इंजन डी-कार्बोनाइजेशन की जरूरत कब पड़ती है 
सबसे पहले तो यह समझे कि डी-कार्बोनाइजेशन आखिर होता क्या है ? यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसकी मदद से इंजन की अच्छी तरह से सफाई की जाती है। इससे इंजन का प्रदर्शन भी बेहतर होता है। इससे इंजन का शोर कम होता है । अगर कार नई है तो 50,000 किलोमीटर तक डी-कार्बोनाइजेशन की ज़रूरत नहीं पड़ती और उसके बाद यदि आप इसे करवाते हैं तो इसमें करीब 2000 रुपये तक का खर्चा आता है। इसलिए हर बार सर्विस के इसे करवाने की जरूरत नही होती।


ड्राई क्लीनिंग


कार की ड्राई क्लीनिंग में करीब 1500 से 2000 रुपये तक का खर्चा आता है। अगर आपकी कार बहुत ज्यादा चलती है और गन्दी रहती है तब तो आप इसे करवा सकते हैं। जबकि आपका काम नॉर्मल Wash से भी हो सकता है, जिसमें करीब 500 से 700 रुपये तक का खर्चा आता है। लेकिन इन सभी खर्चों से बचने के लिए अगर आप रेगुलर कार की सफाई करें तो आपके काफी पैसे बच सकते हैं।