HBN News Hindi

Car Loan लेते समय इन बातों का रखें ध्यान, सस्ते में घर आ जाएगी नई कार

Car Loan Tips : हम जानते हैं कि नई कार लेना  किसी भी व्यक्ति की लाइफ में बहुत बड़ा खुशी का मौका होता है। कार खरीदने का अपना ये सपना ज्यादातर लोग लोन लेकर पूरा करते हैं।अगर आप भी लोन लेकर एक नई कार खरीदने के बारे में सोच रहे हैं। तो आज हम आपको कुछ जरूरी टिप्स बताएंगे जो आपको लोन लेते समय ध्यान रखनी चाहिए।
 
 | 
Car Loan लेते समय इन बातों का रखें ध्यान, सस्ते में घर आ जाएगी नई कार


HBN News Hindi (ब्यूरो): कार को कभी लग्जरी माना जाता था, लेकिन अब ये जरूरत बन चुकी है। ऐसी स्थिति में कार फाइनैंस एक अच्छा विकल्प होता है कौन सी कार लेनी है, उसमे क्या फीचर्स होने चाहिए, बजट क्या होना चाहिए, जितना जरूरी ये सब है, उतना ही जरूरी ये जानना है कि उस कार के लिए(car ke liye finance) फाइनेंस कैसे किया जाए।आज हम आपको कार फाइनैंस से जुड़ीं यही बातें बताने जा रहे हैं।

 

 

बैंक या वित्तीय संस्थानों से जरूरतों के अनुसार मिल जाता है लोन 


 कार(car loan  ki yojna) लोन योजना है, जो आपको बैंक या वित्तीय संस्थान से कार खरीदने के लिए पैसे उधार लेने में मदद करती है। इसके बाद लोन की राशि को आप निश्चित अवधि में मासिक किस्त, यानी ईएमआई के रूप में चुका सकते हैं। आप अपनी जरूरतों के अनुसार लोन अवधि और किस्त राशि चुन सकते हैं। 

 

  लोन के इंटरेस्ट रेट को सोच-विचार कर चुनें


ब्याज दर, यानी इंट्रेस्ट रेट सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। ब्याज दर(car loan rate of interest) जितनी कम होगी, उतनी ही कम आपको ब्याज देना होगा। अलग-अलग बैंकों और(car loan interest rate) वित्तीय संस्थानों से तुलना करें और सबसे कम ब्याज दर वाले लोन चुनें।

 

 

 डाउन पेमेंट ज्यादा करने से होगा कम भार

 
जितना ज्यादा डाउन पेमेंट होगा, उतनी ही कम लोन की राशि होगी और आपकी मासिक किस्त, यानी ईएमआई भी उतनी ही कम होगी। आपके पास अगर पर्याप्त पैसा है, तो ज्यादा डाउन पेमेंट करना अच्छा विचार है।

 

 लोन की अवधि कम चुनें


लोन की अवधि जितनी कम होगी, मासिक किस्त उतनी ही ज्यादा होगी। अपनी वित्तीय(car loan k liye financial condition ka dhyan rkhe) स्थिति का आकलन करें और एक ऐसी लोन अवधि चुनें, जिसमें आप ईएमआई चुकाने में सक्षम हों।

 

 


  अतिरिक्त शुल्क भी होते है लोन में शामिल


अडिशनल चार्ज के रूप में प्रोसेसिंग फीस, प्रीपेमेंट फीस जैसे कुछ अन्य शुल्क भी लोन से जुड़े हो सकते हैं। इन शुल्कों के(new car loan ke liye additional charge) बारे में जानकारी लें और उन्हें अपने लोन के कुल खर्च में शामिल करें।

 


 ब्याज दर के आधार पर ऋणदाता को न चुनें


केवल ब्याज दर के आधार पर ऋणदाता, यानी लेंडर का चुनाव न करें। अन्य शर्तों और सुविधाओं, जैसे कि लोन की पूर्व-भुगतान सुविधा, रोडसाइड असिस्टेंस समेत अन्य लाभों की तुलना भी करें।

 


 कार लोन के लिए  ध्यान रखें ये विशेष बातें

कार लोन लेने से पहले अपने क्रेडिट स्कोर की जांच करें। अच्छा क्रेडिट स्कोर आपको कम ब्याज दर प्राप्त करने में मदद करेगा। अलग-अलग लोन ऑफर की तुलना करने के लिए ऑनलाइन लोन कैलकुलेटर का उपयोग करें। लोन अग्रीमेंट को ध्यान से पढ़ें और सभी शर्तों को समझें। समय पर ईएमआई( car loan me emi ko time s pay kre) का भुगतान करें, जिससे कि आपके लोन पर ब्याज की लागत कम हो सके। इन सबके साथ ही एक जो बात सबसे जरूरी है, वो ये है कि कार लोन एक वित्तीय दायित्व है। इसलिए, लोन लेने से पहले सोच-समझकर फैसला लें और अपनी क्षमतानुसार ही लोन लें।