HBN News Hindi

Car Care Tips: घर में लाए हैं पहली बार कार तो ऐसे करवाएं सर्विस और मेंटेनेंस, बच जाएंगे मोटे पैसे

Car Maintenance tips for Beginners: पहली बार खरीदने वालों के लिए यह खबर बेहद फायदेमंद साबित हो सकती है। आमतौर पर लोग पहली बार नई कार लेने के बाद यह नहीं जानते कि उन्हें कहां पर और कैसे सर्विस तथा मेंटेनेंस करानी चाहिए। जानकारी के अभाव में उनका काफी पैसा इसी पर खर्च हो जाता है। आइये आपको इस खबर के माध्यम से बताते हैं नई कार की मेंटेनेंस व सर्विस आदि के बारे में।
 
 | 
Car Care Tips: घर में लाए हैं पहली बार कार तो ऐसे करवाएं सर्विस और मेंटेनेंस, बच जाएंगे मोटे पैसे

HBN News Hindi (ब्यूरो): नई कार का घर में आना परिवार के सदस्यों के लिए खुशी का अवसर होता है। इस मौके पर (Car maintenance tips in hindi) घर के लोग हमेशा गाड़ी के सही से चलने को लेकर मन्न्तें करते हैं। इन सब चीजों से हटकर यहां पर आपको बता दें कि नई गाड़ी के रखरखाव व मेंटेनेंस आदि में तकनीकी रूप से भी ज्ञान होना जरूरी है। 

 

 

मेंटेनेंस को नजरअंदाज ना करें


कई लोग कार को बहुत संभालकर रखते हैं, उनके लिए कार परिवार के सदस्य की तरह होती है। खासकर उनके लिए जो ऑटोमोबाइल पसंद करते हैं। आमतौर पर, लोग या तो अपने माता-पिता से मिली पारिवारिक कार चलाते हैं या अपने लिए एक नया मॉडल खरीदते हैं। चाहे जो भी हो, अगर कोई कार से बिना किसी (car maintenance tips for beginners) रुकावट के लंबे समय तक चलने की उम्मीद करता है तो उसकी देखभाल करना बेहद जरूरी है। बहुत से लोग जो नई कार खरीदते हैं और वाहन के रखरखाव के काम के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं, वे बुनियादी मेंटेनेंस को नजरअंदाज करते हैं। इससे अक्सर कार में समस्याएं पैदा होती हैं और उसके परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है।


टायर प्रेशर पर  अधिक ध्यान देना


कार के टायर उन कंपोनेंट्स में से एक हैं जिस पर गाड़ी चलती रहती है। दिलचस्प बात यह है कि सबसे महत्वपूर्ण कंपोनेंट्स में से एक होने के बावजूद, टायर वाहन के सबसे उपेक्षित हिस्सों में से एक हैं। लेकिन, इस लापरवाही के कारण टायर जल्दी खराब हो सकते हैं और उनकी लाइफ (Car maintenance tips) कम हो सकती है। इसलिए, यह हमेशा महत्वपूर्ण है कि आप टायरों में हवा या नाइट्रोजन (car maintenance tips Update news) की बताई गई मात्रा रखें। जबकि स्थानीय गैरेज या पेट्रोल पंपों में हवा भरने की मशीनें होती हैं, आप ऑनलाइन पोर्टेबल एयर पंप खरीद सकते हैं और उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

 


 इंजन ऑयल को समय-समय पर बदलते रहें

 

कार एक जटिल मशीन है जिसमें कई छोटे और बड़े चलने वाले हिस्से होते हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि ये मशीनें ठीक से चलती रहे, लुब्रिकेशन बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि आप पावरट्रेन के अंदर महत्वपूर्ण पार्ट्स के सुचारू कामकाज को सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर इंजन ऑयल बदलते रहें। आमतौर पर, इंजन ऑयल को हर 10,000 किलोमीटर चलने के बाद या साल में एक बार बदलने की जरूरत होती है।

 

बैटरी का समय समय पर जॉचना


कार की बैटरी वाहन का एक अन्य अहम कंपोनेंट है जो बहुत (car maintenance checklist news) सी चीजों को पावर देती है। सुनिश्चित करें कि आप बैटरी का ध्यान रखें। समय-समय पर बैटरी को साफ करने से उसकी लाइफ बढ़ाने में मदद मिलती है। साथ ही, यह बैटरी टर्मिनलों से जंग को हटाता है और सुचारू रूप से काम करने में मदद करता है।

 


कार में माइक्रोफाइबर कपड़े का इसतेमाल करना


बार-बार कार धोने पर पैसा खर्च करना जरूरी नहीं है। आप घर पर माइक्रोफाइबर कपड़े का इसतेमाल करके कार को साफ रख सकते हैं। इसके अलावा, साधारण वैक्यूम क्लीनर का इस्तेमाल करके कार के इंटीरियर को साफ रखना आसान है। जहां बाहरी सफाई कार को चमकदार और अच्छी दिखने में मदद (basic car maintenance for beginners) करती है। वहीं यह कार के पेंट को लंबे समय तक अच्छी स्थिति में बनाए रखती है। दूसरी ओर इंटीरियर को साफ रखने से धूल रहित केबिन सुनिश्चित होता है जो स्वच्छ और आत्मविश्वास बढ़ाने वाला होता है।


केबिन एयर फिल्टर को समय-समय पर साफ करें


किसी वाहन पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले कार्यों में से एक एयर कंडीशनिंग सिस्टम (how to take care of your first car) है। कार केबिन एयर फिल्टर केबिन के अंदर क्लीन एयर के फ्लो और प्रोपर कूलिंग को सुनिश्चित करता है। भारतीय जलवायु उष्णकटिबंधीय है, जिसका मतलब है कि देश में धूल और नमी का स्तर काफी ज्यादा है। इसके लिए हर छह महीने में कार केबिन एयर फिल्टर (car care tips in hindi) को बदलने की जरूरत हो सकती है। यदि नहीं, तो कम से कम इसे समय-समय पर साफ करें।