HBN News Hindi

Airbags In Car :कारों के लिए क्यों जरूरी हैं एयरबैग्स, दुर्घटना के समय ये कैसे करते हैं काम, जानिए डिटेल में

Benefits Of Airbags In Car : अब हर कार में एयरबैग फीचर के रूप में आने लगे हैं  लोगों की सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने ऐसा कदम उठाया है। आज के समय में  हर गाड़ी में (car me airbags) एयरबैग्स आने लगे है आइए आज हम आपको कारों में लगे  इन एयरबैग के बारे में बताने जा रहे हैं क्यों यह कारों मे लगे होते हैं और कैसे काम करते हैं।
 
 | 
Airbags In Car :कारों के लिए क्यों जरूरी हैं एयरबैग्स, दुर्घटना के समय ये कैसे करते हैं काम, जानिए डिटेल में 

HBN News Hindi (ब्यूरो) : भारत में एक्सिडेंट के मामले आते रहते हैं जिससे हजारों  लाखों लोग दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। इन हादसों से बचाव के लिए कई कारों मे कई सुरक्षा उपाय किए जाते हैं। जिनमे से एक एयरबैग है।  कार में एयरबैग(car airbags sefaty) दुर्घटना  के समय  ड्राइवर की सुरक्षा करता है। जिससे उसकी जान बचाई जा सकती है। आइए जाने एयरबैग के क्या फायदे हैं।

 


कार में एयरबैग की भूमिका  


भारत रोड एक्सिडेंट के मामले में दुनिया के सबसे बड़े देशों में से है और यहां कार-बाइक या अन्य वाहनों के हादसे में हर साल हजारों लोगों की जानें जाती हैं। ऐसे में यह जानना भी जरूरी है कि आखिरकार कार खरीदने वालों को कार के अंदर मौजूद Safety Features की भी जानकारी होना जरूरी है और इसमें एयरबैग(airbags ka fayda) की कितनी भूमिका है। आज के दौर में सड़क दुर्घटनाएं आम समस्या बन गई हैं। इन दुर्घटनाओं में जान-माल का भारी नुकसान होता है। इन हादसों से बचाव के लिए कारों में कई तरह के सुरक्षा उपाय किए जाते हैं, जिनमें से एयरबैग सबसे महत्वपूर्ण है। एयरबैग, सीटबेल्ट और अन्य सुरक्षा उपायों का उपयोग करके आप सड़क पर सुरक्षित सफर कर सकते हैं।

 


क्या है एयरबैग


एयरबैग एक प्रकार का तकिया होता है, जो कार के अंदर ड्राइवर (driver ki safefy )और यात्रियों के सामने लगा होता है। दुर्घटना की स्थिति में जब कार अचानक रुकती है या किसी वस्तु से टकराती है तो एयरबैग (airbags ke fayde)तेजी से हवा से भरकर फूल जाते हैं। ये फुले हुए airbag driver और यात्रियों को आगे की ओर धकेलने से रोकते हैं, जिससे उन्हें गंभीर चोटों से बचाने में मदद मिलती है।


एयरबैग्स के फायदे


गंभीर चोटों को कम करते हैं: एयरबैग सिर, चेहरे और छाती को चोटों से बचाने में अत्यंत प्रभावी होते हैं।


मृत्यु दर कम करते हैं: कई तरह की स्टडी से पता चला है कि एयरबैग से लैस कारों में सवार लोगों की मृत्यु दर उन कारों की तुलना में 30 फीसदी तक कम होती है, जिनमें एयरबैग नहीं होते हैं।

 


बच्चों की सुरक्षा: छोटे बच्चों के लिए एयरबैग विशेष रूप से जरूरी हैं।


मनोवैज्ञानिक सुरक्षा: एयरबैग के बारे में लोगों के मन में भी यह विश्वास की भावना होती है कि अगर किसी कार में ज्यादा से ज्यादा एयरबैग हैं तो यह ड्राइवर (driver ki safety)और पैसेंजर को नुकसान से बचाने में सक्षम होंगे। एयरबैग कार में बैठे यात्रियों को सुरक्षा की भावना प्रदान करती है, जिससे वे ज्यादा आत्मविश्वास से यात्रा कर सकते हैं।

 

कैसे काम करते हैं एयरबैग 


अब सवाल उठता है कि आखिरकार एयरबैग काम कैसे करते हैं? दरअसल, एयरबैग एक जटिल प्रणाली का हिस्सा होते हैं, जिसमें कई कारक शामिल होते हैं। ये कारक हैं:


सेंसर: कार में सेंसर लगे होते हैं, जो टक्कर का पता लगाते हैं।
इग्निशन सिस्टम: टक्कर लगने पर सेंसर इग्निशन सिस्टम को संकेत देते हैं।
इन्फ्लेटर्स: इग्निशन सिस्टम रासायनिक पदार्थों को प्रज्वलित करता है, जो एयरबैग को तेजी से हवा से भरते हैं।
एयरबैग: फुले हुए एयरबैग ड्राइवर और यात्रियों को आगे की ओर धकेलने से रोकते हैं।


एयरबैग से जुड़ी सुरक्षा सावधानियां


एयरबैग के फायदे तो होते हैं, लेकिन चूंकि ये प्रभावी सुरक्षा उपकरण होते हैं, ऐसे में इनसे जुड़ीं कुछ सावधानियां बरतना भी महत्वपूर्ण है। ऐसे में लोगों को इन बातों का जरूर ध्यान रखना चाहिए।
सभी यात्रियों को सीटबेल्ट पहननी चाहिए: एयरबैग सबसे अच्छा तभी काम करते हैं, जब सभी यात्री सीटबेल्ट पहने हों।
बच्चों को कार सीट में बैठाएं: छोटे बच्चों को हमेशा कार सीट में बैठाना चाहिए, क्योंकि एयरबैग उनके लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।
एयरबैग वाली जगहों पर भारी सामान न रखें: यह जरूरी है कि एयरबैग पर या एयरबैग के सामने भारी सामान ना हो, ऐसे में एयरबैग के कामकाज में बाधा न पड़ें।