HBN News Hindi

Vegetables Farming: जून में इन फसलों की करें खेती, कम लागत में होगी तगड़ी कमाई

Monsoon Vegetables: जून का महीना शुरू हो चुका है इसी बीच कई किसान इस समय गर्मियों में बोई जाने वाली फसल लगाने की तैयारी कर रहे हैं। गर्मियों का मौसम शुरू होते ही, किसान ऐसी खेती के बारे में सोचते हैं(Ways to do farming in summers) जिससे उन्हें अधिक मुनाफा हो। आज हम आपको इस खबर में जून में उगने वाली इन खास फसलों की खेती के बारे में बताएंगे, जिससे किसान कम समय में अच्छा मुनाफा कमा सकें।
 
 | 
Vegetables Farming: जून में इन फसलों की करें खेती, कम लागत में होगी तगड़ी कमाई

HBN News Hindi (ब्यूरो) : अगर आप भी एक किसान है और आप अब भी सोच में हैं कि इस महीने कौन सी सब्जियां उगाएं, तो आइए बताते हैं कि जून के महीने(June Month Vegetables) में आप कौन सी सब्जी उगा कर बंपर मुनाफा कमा सकते हैं। बता दें कि किसानों(Vegetables Farming) द्वारा इन खास किस्मों की खेती से अधिक कमाई की जा सकती है। तो चलिए जानते हैं

 


जून में इन फसलों की खेती 


किसान अपने खेत में जून के महीने में टमाटर, बैंगन, मिर्च, अगेती फूलगोभी की भी बुवाई कर सकते हैं। इसके (Agriculture news updated)अलावा इस दौरान किसान लौकी, खीरा, चिकनी तोरी, आरा तोरी, करेला औऱ टिंडा की भी बुवाई कर अच्छा पैदावार पा सकते हैं।

 

बेलवर्गीय फसलों का उत्पादन


बेलवर्गीय फसलों में किसान जून के महीने में करेला, गिलकी, लौकी, तोरई और सेम की फसलों की बुवाई कर सकते हैं। बरसात के मौसम में ये बेलवर्गीय फसल (जून महीने में उगने वाली सब्जियां )ज्यादा उत्पादन देते हैं। साथ ही रोग मुक्त भी रहते हैं। अगर देखभाल सही से हो तो करेला, गिलकी, लौकी, तोरई और सेम 30 से 40 दिन में तैयार हो जाते हैं। वहीं, इनसे चार-पांच महीने तक उत्पादन लिया जा सकता है। जिससे किसानों की बेहतर आमदनी हो सकती है।

 

 

मानसून की सब्जियां


इन सब्जियों की गिनती नकदी फसलों में होती है। आप इन सब्जियों की फसलों की बुवाई 15 जून के आसपास कर सकते हैं। इन्हें मॉनसून की बारिश होने के दो हफ्ते बाद या दो पहले खेतों(Cultivation of Vegetables) में लगाया जाता है। ये तीनों सब्जियां बहुत कम समय में तैयार हो जाती हैं। वहीं, बरसात के समय बाजार में इनका भाव भी सामान्य से अधिक मिलता है। ऐसे में किसान जून में मेथी, पालक और धनिया उगाकर अच्छी आमदनी कर सकते हैं।

 

 इन फसलों की खेती से होगी बंपर कमाई


जून और जुलाई के महीने में किसान भिंडी व खीरा की फसल भी लगाकर अच्छी कमाई कर सकते हैं। अगस्त से इनका उत्पादन मिलना शुरू हो जाता है। जो अक्टूबर से नवंबर महीने तक मिलता रहता है। बाजार में इन सब्जियों के (गर्मियों में खेती करने के तरीके)भाव भी हमेशा सही मिलते हैं। इसके अलावा, बाजार में प्याज की कीमत में हमेशा उतार चढाव देखने को मिलता है। ऐसे में किसान जून में प्याज की भी खेती करके बढ़िया मुनाफा कमा सकते हैं। बुवाई के बाद प्याज को तैयार होने में 30 से 40 दिन का समय लगता है। उसके बाद उत्पादन के साथ कमाई शुरू हो जाती है।