HBN News Hindi

NABARD ने किसानों को डेयरी लोन देने को किया मना, कह दी यह बड़ी बात

Dairy Loan: नाबार्ड डेयरी विकास(NABARD Dairy Development)के लिए सीधे किसानों (farmers)को लोन दे रहा है। ऐसी खबर किसानों तक पहुंची, किसान जब लोन लेने गए बैंक तो उन्होने साफ मना कर दिया और बयान दिया कि इन rumers पर विश्वास ना करें। ऐसे में किसानो को पता चला कि वे भ्रम की स्थिति में हैं। आइए जानते है पूरा मामला इस खबर का। 
 
 | 
NABARD ने किसानों को डेयरी लोन देने  को किया मना, कह दी यह बड़ी बात

HBN News Hindi (ब्यूरो) : कुछ प्लेटफॉर्म्स  के द्वारा यह खबर आइ थी कि किसानों को  डेयरी विकास के लिए सीधे लोन (Direct loans to farmers for dairy development)दिया जा रहा है। इसमें इस बात का जिक्र किया गया है कि असत्यापित जानकारी (unverified information) से वित्तीय जोखिम और गलतफहमी (Financial risks and misconceptions) पैदा हो सकती है। ऐसी सूचनाएं सामने आने के बाद किसानों ने नाबार्ड से लोन के लिए संपर्क करना शुरू किया तो उसे इस मामले के बारे में पता चला आइए जानते हैं पूरी जानकारी।

 

Senior Citizen की हो गई मौज, अब मामूली निवेश पर मिलेगा धाकड़ रिटर्न


राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक  ने किया स्पष्ट 


राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (NABARD) ने स्पष्ट किया कि वह आम किसानों को सीधे लोन न देकर ग्रामीण विकास (rural Development) से जुड़े वित्तीय संस्थानों और सहकारी समितियों (Financial institutions and cooperative societies)को वित्तीय मदद मुहैया कराता है।  नाबार्ड ने यह स्पष्टीकरण सीधे किसानों को डेयरी लोन (Dairy Loan) दिए जाने संबंधी भ्रामक सूचना प्रसारित होने के बाद दिया है।  ,

 

 Delhi-NCR Weather Today : दिल्ली में बारिश के बाद होगा मौसम कूल, तेज आंधी का अलर्ट जारी


NABARD ने कही यह बात 


कुछ प्लेटफॉर्म्स से कहा जा रहा था कि नाबार्ड डेयरी विकास (NABARD Dairy Development) के लिए सीधे किसानों को लोन दे रहा है।  ऐसी सूचनाएं सामने आने के बाद किसानों ने नाबार्ड से लोन के लिए संपर्क करना शुरू किया तो उसे इस मामले के बारे में पता चला। नाबार्ड ने इस पर स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा, एक शीर्ष विकास वित्त संस्थान के रूप में नाबार्ड (NABARD) ग्रामीण विकास में शामिल अलग-अलग वित्तीय संस्थानों और सहकारी समितियों को वित्तीय सहायता देता है।  यह आम किसानों को सीधे लोन नहीं देता है। 

 

Bank Holiday on 19 april, 2024 : आज इन राज्यों के कई शहरों में नहीं खुलेंगे बैंक, चुनाव के कारण रहेगी छुट्‌टी


किसानों  को यह रखना होगा ध्यान 


बयान के मुताबिक, सभी हितधारकों, विशेषकर किसानों और ग्रामीण उद्यमियों (rural entrepreneurs) को अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए।  उनसे आग्रह किया जाता है कि किसी गलत सूचनाओं पर भरोसा करने या उनका प्रचार करने से परहेज करें।  इसमें कहा गया कि असत्यापित जानकारी (verified information)से वित्तीय जोखिम और गलतफहमी पैदा हो सकती है। 

 

 

Triumph Tiger 900 : लग्जरी कार से भी महंगी है यह बाइक, कीमत जानकर रह जाओगे हैरान


यहां से जुटाए जानकारी 


सही जानकारी नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट ‘www. nabard. org’ से जुटाई जा सकती है।  बयान के मुताबिक, नाबार्ड स्थायी आजीविका के लिए अलग-अलग पहल और योजनाओं के जरिये ग्रामीण विकास और कृषि को बढ़ावा देने की अपनी प्रतिबद्धता पर दृढ़ है।