HBN News Hindi

Income With Agriculture : कम लागत में चाहिए मोटा मुनाफा तो करें इस फसल की खेती, बदल जाएगी किस्मत

Okra farming : देश में महंगाई बहुत तेजी के साथ बढ़ रही है और खासकर खाने- पीने की हर चीज महंगी हो गई है। हरी सब्जियों की कीमत में आग लगी हुई है। मानसून की दस्तक के साथ ही सब्जियों की डिमांड और कीमतें दोनों बढ़ गई है। ऐसे में कई किसान हरी सब्जियों की खेती की तरफ अधिक रूचि दिख रहे हैं। आइए जानते हैं इस बारे में।
 
 | 
Income With Agriculture : कम लागत में चाहिए मोटा मुनाफा तो करें इस फसल की खेती, बदल जाएगी किस्मत

HBN News Hindi (ब्यूरो) : आज के समय में हर किसान यही चाहता है कि वो कम लागत में अधिक मुनाफा देने वाली खेती कर सकें। आपको बता दें कि इस मौसम में आप भी भिंडी की खेती कर मालामाल हो सकते हैं। इनकी मार्केट में डिमांड (okra farming made farmer rich)बनी हुई है। आइए जानते हैं इसकी खेती के बारे में।

 

 

फसलों में सब्जी की खेती से कमा सकते हैं मोटा मुनाफा


युवाओं को खेती में कोई दिलचस्पी नहीं है। गांव से बाहर (भिंडी की खेती)रहकर नौकरी ही करना पसंद करते हैं। नौकरी करने पर 8 घंटे तक काम करना पड़ता है। उससे भी कम समय यदि खेती में लगाए तो सालाना लाखों में मुनाफा कमा सकते हैं। खासकर नगदी फसलों में सब्जी की खेती और बागवानी अधिक मुनाफा देता है।


भिंडी की मार्केट में डिमांड


भिंडी की खेती किसानों के लिए मुनाफा कमाने (okra cultivation)का बेहतर स्रोत है और इस सब्जी की बाजार में डिमांड भी अधिक है। शुरुआती दिनों में भिंडी 80 रूपए प्रति किलो बाजार में बिकता है। भिंडी की खेती के लिए किसान को पहले खेतों की सिंचाई कर सूखने के लिए छोड़ देना चाहिए।

कैसे करें भिंडी की खेती


वहीं 5 दिनों के बाद खेत की जोताई कर 1 फीट की दूरी पर पगडंडी बना लें। इसके (okra farming ke liye kon se trike apnaye)बाद खुरपी की मदद से उपचारित भिंड़ी के दो बीज को एक साथ बो दें। यह फसल 180 दिनों से 200 दिनों तक का होता है। इसको लगाने के 45 दिनों के बाद फूल आना शुरू हो जाता है। इसके बाद फलन की प्रक्रिया शुरू हो जाती है।

 

कम लागत में मोटा मुनाफा


कि एक पौधे पर कुल खर्च 15 से 20 रुपए आता है जबकि(If you want more profit in less expenditure)एक पौधा अपने जीवन काल में ढाई से 3 किलो तक फसल देता है। फिलहाल खेत से रोजाना भिंडी और नेनुआ निकल रहा है और सारा खर्च काटकर रोजाना दो हाजार की कमाई हो जा रही है