HBN News Hindi

Bitter gourd farming : एक एकड़ में अब लें करेले की बंपर पैदावार, ये किस्में कर देंगी मालामाल

Profit in bitter gourd farming: करेला एक ऐसी सब्जी हैं जिसकी डिमांड हमेशा बाज़ारों में रहती हैं। इसलिए किसान कम समय में ही और  कम जगहों पर इसकी खेती कर अच्छा आमदनी प्राप्त कर सकते हैं। ये एक न्यूट्रिशन वाली फसल होती है। किसान इसकी खेती से मोटा मुनाफा कमा सकते हैं। आइए जानते हैं इसकी खेती के बारे में।
 
 | 
Bitter gourd farming : एक एकड़ में अब लें करेले की बंपर पैदावार, ये किस्में कर देंगी मालामाल

HBN News Hindi (ब्यूरो) : पुरे भारत में करेले की खेती की जाती है। आपको बता(bitter gourd ke fayde) दें कि इसकी फसलों को गर्मी के मौसम में लगाया जाता है। सब्जियों की मांग बाजार में बढ़ती जा रही है। कई किसान करेले की सब्जियों को  थोक भाव में बेचकर अच्छा खासा कमाई कर रहे है। आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से।

 

कम लागत में होगा मोटा मुनाफा


किसान खुद की लागत से खेती कर लाखों रुपए कमा रहे हैं। वैसे तो सभी फसलों की खेती में प्रॉफिट होता हैं, लेकिन सबसे अधिक प्रॉफिट वाली हरी सब्जी की खेती की बात करें तो इसमें करेले की खेती भी खुब फायदेमंद हो (how to do bitter gourd farming)सकती है यह कई सब्जियों से साथ आगे आती है। किसान इस सब्जी की फसल उगाकर मालामाल हो रहे हैं, क्योंकि उन्हें सीजन होने से मुंह मांगे दाम मिलते हैं। इसके अलावा किसान सब्जियों अपने खेत से सीधा उठाकर बाजार में बेच रहे है, इससे उन्हें काफी प्रॉफिट हो रहा है।

न्यूट्रिशन वाली फसल 

 

करेला एक ऐसी फसल होती है। जिसमें भारी मात्र में विटामिन ए, बी और सी प्राप्त होता है और इसके अलावा इसमें कैरोटीन, बीटाकैरोटीन, लूटीन, आइरन, जिंक व पोटेशियम इत्यादि पाए जाते हैं, जो इंसान के शरीर(Health Benefits of Bitter Gourd) के लिए काफी लाभकारी होती हैं। करेले का उपयोग कई बीमारियों के इलाज के लिए भी होता है। इन सब की वजह से बाजार में करेले की डिमांग हमेशा बनी रहती है। इन मांग की वजह से जो भी किसान करेले की खेती कर रहा है।

 


डायबिटीज मरीजों के इलाज के लिए रामबाण 


अगर आप एक किसान है और करेले की करने की (profit in bitter gourd farming)योजना बना रहे हैं तो आइये आपको बता दें कि इससे सालाना कितनी कमाई हो रही और इसकी खेती कैसे करें। करेला शुगर और डायबिटीज मरीजों के इलाज के लिए रामबाण है। यहां तक डॉक्टर भी इन मरीजों को दवा से अधिक करेले का जूस और इसकी सब्जी अधिक से अधिक सेवन करने की सलाह देते हैं।

 


सारा साल डिमांड

आप किसी भी वक्त करेले की खेती कर सकते हैं। किसानों(bitter gourd farming) ने बताया की यह सालो भर इसकी खेती करते है, तीन से चार महीने बाद दोबारा इस फसल को लगाएंगे।और एक महीने के बाद फिर उसमे से सब्जी तोड़ना शुरू कर देंगे। उन्होंने बताया की इसकी खेती से डबल या उससे अधिक भी मुनाफा हो जाता है। बताया कि फिलहाल वह 4 से 5लाख का सालाना कमा लेते है।