HBN News Hindi

Agriculture : किसानों के लिए गुड न्यूज, अब मोटे अनाज की खेती पर मिलेंगे इतने पैसे, अभी करें रजिस्ट्रेशन

Agriculture  News : सरकार किसानों के लिए कई योजनाएं चलाती है। सरकार किसानों को धान की खेती छोड़कर अन्य खेती करने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में मोटे आनाज की खेती को बढ़ावा देने का फैसला प्रदेश सरकार के द्वारा लिया गया है। सरकार मोटे अनाज की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित कर रही है। तो आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल से। 
 
 | 
Agriculture : किसानों के लिए गुड न्यूज, अब मोटे अनाज की खेती पर मिलेंगे इतने पैसे, अभी करें रजिस्ट्रेशन

HBN News Hindi (ब्यूरो) : आपको बता दें कि झारखंड के किसानों के लिए खुशखबरी है। यहां पर सरकार मोटे अनाज की खेती करने पर किसानों को प्रोत्साहन राशि दी जाती है। आपको बता दें कि मोटे अनाज के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने(Paddy Crop) ये योजना शुरू की। आइए जानते हैं इस योजना के बारे में ।

झारखंड राज्य मिलेट मिशन योजना 

 

कृषि विभाग ने खरीफ फसल वर्ष 2024-25 के तहत मोटे अनाज- मिलेट्स, मुडुवा, रागी, ज्वार-बाजरा, संवा, कोदो, कुटकी आदि फसल उगाने पर सभी किसानों और बटाईदारों को प्रोत्साहन राशि प्रति एकड़ 3,000 और 5 एकड़ के लिए 15,000 रुपये देने का (Millets Farming)फैसला लिया है। झारखंड राज्य मिलेट मिशन योजना के तहत क्षेत्र के यह फायदा दिया जाएगा। 

 

अप्लाई के लिए जरूरी दस्तावेज


आवेदन के लिए किसानों के पास आधार नंबर, (jharkhand state millet mission yojana)मोबाइल नंबर, आधार सीडिंग बैक खाता, भू-स्वामित्व प्रमाण-पत्र (राजस्व रसीद), मुखिया, ग्राम प्रधान, राजस्व कर्मचारी या अंचल अधिकारी द्वारा निर्गत वंशावली, रैयत या बटाईदार किसान का स्वयं घोषणा पत्र होना अनिवार्य है।

आयुसीमा


राज्य के किसान होना, स्थायी निवासी, उम्र कम(jharkhand agriculture department) से कम 18 वर्ष, न्यूनतम 10 डिसमिल और अधिकतम 5 एकड़ जमीन होना चाहिए।

 


ये हैं रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख


कृषि विभाग ने वित्त वर्ष 2024-25 के (millets cultivation in india)खरीफ मौसम से यह योजना शुरू की है। इसकी पंजीयन की अंतिम तारीख 30 अगस्त है। मिलेट्स की खेती के लिए किसानों को 3,000 रुपये प्रति एकड़ और अधिकतम 5 एकड़ तक प्रोत्साहन राशि देगी।

 

यहां कर सकेंगे आवेदन


इसके लिए किसानों को मिशन वेब पोर्टल पर निबंधन के लिए प्रज्ञा केंद्र में ऑनलाइन आवेदन करना होगा।